मॉनसून में स्किन को डिटॉक्सीफाई करने के लिए अपनाएं ये तरीके

मॉनसून में स्किन से जुड़ी समस्याओं से निजात पाने के लिए डिटॉक्सीफिकेशन (Skin Detoxification) बेस्ट तरीका है। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Aug 11, 2022Updated at: Aug 11, 2022
मॉनसून में स्किन को डिटॉक्सीफाई करने के लिए अपनाएं ये तरीके

Monsoon Skin Care Tips: चिलचिलाती धूप के बाद होने वाली बारिश अपने साथ कई स्किन प्रॉब्लम (Monsoon Skin Problem) लेकर आती है। रैशेज, खुजली, पिंपल्स और एक्ने जैसी समस्याएं मॉनसून के मौसम में बहुत ही आम हैं। दरअसल, मॉनसून में बारिश की वजह से वातावरण में नमी ज्यादा होती है, जिस कारण हमारी स्किन ज्यादा ऑयली हो जाती है। स्किन ऑयली होने की वजह से फंगल इंफेक्शन और संक्रामक बीमारियों का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है। जानकारों का मानना है कि मॉनसून में स्किन से जुड़ी समस्याओं से निजात पाने के लिए डिटॉक्सीफिकेशन (Skin Detoxification) बेस्ट तरीका है। तो आइए जानते हैं मॉनसून में स्किन को कैसे डिटॉक्सीफाई किया जाए, ताकि किसी तरह की समस्या न हो।

इसे भी पढ़ेंः Monsoon Care: मॉनसून में पिएं ये 5 जूस, बढ़ेगी इम्यूनिटी और सेहत को मिलेंगे कई फायदे

क्लीनिंग - Cleaning

स्किन को डिटॉक्स करने का सबसे पहला स्टेप होता है सफाई। इसके लिए स्किन के बाहरी हिस्से को पानी और फेस वॉश की मदद से धोने के बाद फेस पैक लगाएं। कई लोगों को लगता है कि चेहरे को साफ करने के लिए रोजाना फेस वॉश तो जरूरी है, लेकिन फेस पैक कभी-कभी इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन बारिश के मौसम में आप किचन के बेसिक इंग्रीडिएंट्स से बने फेस पैक का इस्तेमाल रोज भी कर सकते हैं। आप चाहें तो चेहरे की सफाई के लिए दही, शुगर, शहद, खीरे और आलू के रस का चुनाव कर सकते हैं।

monsoon skin care tips

स्क्रबिंग Scrubbing

स्क्रब एक दरदरी क्रीम होती है, जिसका इस्तेमाल स्किन को डीप क्लीन करने के लिए किया जाता है। नियमित तौर पर स्क्रबिंग करने से चेहरे में छिपी गंदगी और डेड कोशिकाओं को साफ किया जा सकता है। आम तौर पर लोग महीने में 1 या 2 बार चेहरे को स्क्रब करते हैं, लेकिन मॉनसून के मौसम में सप्ताह में 2 बार स्क्रबिंग करने की सलाह दी जाती है। स्क्रब में मौजूद छोटे-छोटे कण डेड स्किन सेल्स को निकाल देते हैं, जिससे नई सेल्स आती हैं और त्वचा पर चमक बढ़ जाती है। इस प्रक्रिया को एक्सफोलिएशन कहा जाता है। ये मॉनसून में होने वाली स्किन प्रॉब्लम से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकता है।

इसे भी पढ़ेंः मॉनसून में बच्चा नहीं पड़ेगा बीमार, न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर से जानें 4 जरूरी टिप्स

स्टीमिंग - Steaming

मॉनसून में चेहरे पर ज्यादा पसीना आने वाले लोगों को स्टीमिंग करने की सलाह दी जाती है। चेहरे पर स्टीम लेने से बैक्टीरिया और कीटाणुओं को खत्म करने में मदद मिलती है। स्टीमिंग लेने से धमनी का विस्तार होता है और ब्लड सर्कुलेशन भी सुधरता है, जो स्किन को अंदर से डिटॉक्स करने में मदद करता है।

पेट का ख्याल भी है जरूरी

स्किन को डिटॉक्स करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि पेट हमेशा हेल्दी रहे। कई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि जिन लोगों की पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है उन्हें स्किन प्रॉब्लम बहुत कम होती है। मॉनसून में पेट का ख्याल रखने के लिए अपने दिन की शुरुआत नींबू पानी या नींबू वाली चाय के साथ करें। नींबू में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जिससे स्किन के साथ पूरी बॉडी डिटॉक्स हो जाती है। रोजाना आधे नींबू का सेवन करने से शरीर टॉक्सिन फ्री रहता है।

Disclaimer