सिर में झनझनाहट क्यों होती है? जानें 7 कारण

Tingling in Head Causes in Hindi: सिर में झनझनाहट होना कुछ मामलों में आम, तो कुछ में गंभीर हो सकता है। जानें, सिर में झनझनाहट क्यों होती है? 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Oct 31, 2022 11:35 IST
सिर में झनझनाहट क्यों होती है? जानें 7 कारण

Tingling in Head Causes in Hindi: सिर में दर्द का अनुभव तो कई लोगों ने किया ही होगा। सिर का दर्द कभी सामान्य, तो कभी तेज या गंभीर हो सकता है। लेकिन दर्द के अलावा भी सिर को कई स्थितियों से गुजरना पड़ता है। इसमें सिर में झनझनाहट या झुनझुनी शामिल है। जी हां, कई लोगों को सिर में दर्द के साथ ही झनझनाहट का भी अहसास हो सकता है। आपको बता दें कि जब कोई व्यक्ति सिर में झनझनाहट महसूस करता है, तो इस स्थिति को मेडिकल टर्म में पेरेस्टेसिया कहा जाता है। पेरेस्टेसिया तब होता है, जब एक तंत्रिका क्षतिग्रस्त हो जाती है। इसके अलावा जब तंत्रिका लंबे समय तक दबाव में रहती है, तो भी सिर में झनझनाहट हो सकती है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर सिर में झनझनाहट क्यों होती है (Tingling in Head Causes in Hindi)? या फिर सिर में झनझनाहट के कारण क्या हैं? सिर में झनझनाहट होने के क्या कारण है? (Sir me Jhanjhanahat Kyu Hoti Hai)

सिर में झनझनाहट के कारण- Tingling in Head Causes in Hindi

1. साइनस और श्वसन संक्रमण

साइनस और श्वसन संक्रमण सिर में झनझनाहट का एक मुख्य कारण हो सकता है। दरअसल, जब साइनस की समस्या बढ़ती है, तो इससे नसों पर दबाव पड़ता है। ऐसे में सिर में सूजन और जलन महसूस हो सकती है। साइनस पेरेस्टेसिया को ट्रिगर कर सकता है।

2. स्ट्रेस यानी तनाव

जब कोई व्यक्ति स्ट्रेस में रहता है, तो उसे सिर में झुनझुनी या झनझनाहट महसूस हो सकती है। दरअसल, स्ट्रेस या तनाव में रहने से नॉरपेनेफ्रिन और अन्य हार्मोन प्रभावित हो सकते हैं। ये हार्मोन्स शरीर के उन क्षेत्रों में रक्त को प्रवाह करते हैं, जिन्हें रक्त की जरूरत होती है। ऐसे में जब नॉरपेनेफ्रिन सिर में अतिरिक्त रक्त भेजता है, तो व्यक्ति को झनझनाहट हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें- रोजाना सिर दर्द क्‍यों होता है? डॉक्‍टर से जानें कारण और इलाज

Tingling in Head

3. माइग्रेन

माइग्रेन प्रकार का सिरदर्द भी सिर में झनझनाहट का एक कारण हो सकता है। आपको बता दें कि माइग्रेन होने पर तंत्रिका पर दबाव पड़ सकता है, साथ ही रक्त का प्रवाह भी बाधित हो जाता है। इस स्थिति मे आंखों पर तनाव पैदा हो सकता है। साथ ही सिर में झुनझुनी और झनझनाहट भी पैदा हो सकती है। 

4. डायबिटीज

डायबिटीज तब होता है, जब शरीर इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर पाता है। या फिर इंसुलिन का सही तरीके से उपयोग नहीं कर पाता है। ऐसे में जब इंसुलिन का सही उपयोग नहीं होता है, तो ब्लड शुगर का स्तर अधिक होने लगता है। इस स्थिति में डायबिटीज के लक्षणों का अनुभव हो सकता है। जब डायबिटीज का समय पर इलाज नहीं किया जाता है, तो इस स्थिति में तंत्रिका को नुकसान पहुंच सकता है। इसकी वजह से सिर में झनझनाहट पैदा हो सकती है। 

5. मल्टीपल स्क्लेरोसिस

अगर आपको मल्टीपल स्क्लेरोसिस है, तो भी सिर में झनझनाहट का अनुभव हो सकता है। मल्टीपल स्क्लेरोसिस में शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली सेंट्रल नर्वस सिस्टम पर हमला करती है। इस स्थिति में नसों को नुकसान पहुंचने लगता है। इसकी वजह से चेहरे और सिर की नसें डैमेज हो सकती हैं, ऐसे में सिर में झुनझुनी या झनझनाहट महसूस हो सकती है। 

6. मिर्गी

मिर्गी के दौरे भी सिर में होने वाले झनझनाहट का एक कारण हो सकता है। मिर्गी के दौरे पड़ने पर व्यक्ति को सुन्नता और झुनझुनी का अनुभव हो सकता है। मिर्गी के रोगियों में यह कुछ मिनट तक रह सकता है। मिर्गी के लोगों में झनझनाहट सिर के साथ ही चेहरे पर भी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- Tension Headache: टेंशन के कारण सिर दर्द क्यों होता है? जानें क्‍या है इसके लक्षण, कारण और इलाज

7. ऑटोइम्यून कंडीशन 

मल्टीपल स्क्लेरोसिस के अलावा भी कई ऐसी ऑटोइम्यून कंडीशन हैं, जो सिर में झनझनाहट पैदा कर सकती हैं। जब ऑटोइम्यून बीमारियां नसों और आसपास के ऊतकों पर हमला करती हैं, तो व्यक्ति को सिर में झुनझुनी का अनुभव हो सकता है। रूमेटाइड गठिया भी एक ऑटोइम्यून बीमारी है, इसकी वजह से सिर में झनझनाहट हो सकती है। 

Tingling in Head Causes in Hindi: ज्यादातर मामलों में सिर में होने वाली झुनझुनी या झनझनाहट चिंता का एक प्रमुख कारण नहीं होता है। लेकिन जब सिर में झनझनाहट गंभीर कारणों की वजह से होती है, तो इसका इलाज कराना बहुत जरूरी हो जाता है। इस स्थिति में आपको डॉक्टर से कंसल्ट करना बहुत जरूरी होता है।  

Disclaimer