Doctor Verified

हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए मह‍िलाएं आज से शुरू कर दें ये 7 काम

हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए मह‍िलाएं कुछ जरूरी आदतों को अपना सकते हैं, जानते हैं इस लेख से  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Mar 09, 2022Updated at: Apr 04, 2022
हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए मह‍िलाएं आज से शुरू कर दें ये 7 काम

हर चार में से एक मह‍िला की मौत हार्ट से जुड़ी बीमारी के कारण हो जाती है। मह‍िलाओं में भी पुरुषों की तरह हार्ट ड‍िसीज का खतरा ज्‍यादा होता है इसका कारण है मोटापा, अनहेल्‍दी लाइफस्‍टाइल, डायबि‍टीज आद‍ि। इस लेख में हम ऐसी 7 आदतों के बारे में बात करेंगे जो मह‍िलाओं को रोजाना अपनानी चाह‍िए ताक‍ि वो अपने हार्ट का ख्‍याल रख सकें। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने Asian Heart Institute, Mumbai के Senior Interventional Cardiologist Dr Tilak Suvarna से बात की।

stress health

image source: regencyhealthcare

1. धूम्रपान का सेवन न करें (Avoid smoking)

हम सब जानते हैं क‍ि धूम्रपान का सेवन सेहत के ल‍िए अच्‍छा नहीं होता है और जब बात मह‍िलाओं के स्‍वास्‍थ्‍य की आती है तो धूम्रपान का सेवन और भी ज्‍यादा नुकसानदायक माना जाता है, इससे आपकी उम्र कम होती है, प्रेगनेंसी में द‍िक्‍कतें हो सकती हैं और हार्ट ड‍िसीज का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप धूम्रपान का सेवन करती हैं तो उसे आज ही छोड़ दें। एक्‍सपर्ट्स के मुताब‍िक जो म‍ह‍िलाएं स्‍मोक नहीं करती हैं वो स्‍मोक करने वाली मह‍िलाओं से करीब 14 साल ज्‍यादा जी सकती हैं।  

इसे भी पढ़ें- डायब‍िटीज के साथ हुई है हार्ट सर्जरी तो हेल्‍छी रहने के ल‍िए रखें इन 8 बातों का ख्‍याल        

2. मेड‍िटेशन को अपनाएं (Meditation)

हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए मह‍िलाओं को मेड‍िटेशन की मदद लेनी चाह‍िए। मेडि‍टेशन और योगा की मदद से आप स्‍ट्रेस लेवल को कम करके हार्ट को हेल्‍दी रख सकते हैं। रोजाना मेड‍िटेशन करने से माइंड शांत रहता है और आप घर व बाहर के काम को मैनेज कर पाते हैं, खासतौर पर वर्क‍िंग वूमेन के ल‍िए मेड‍िटेशन एक जरूरी आदत है जो उन्‍हें अपने रूटीन में शाम‍िल करना चाह‍िए।         

3. नींद पूरी करें (Sleep properly)

आपको हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए रोजाना 7 से 8 घंटे की नींद पूरी करना चाह‍िए। आज के समय में वर्क प्रेशर बढ़ने और टैक्‍नोलॉजी के ज्‍यादा इस्‍तेमाल के चलते लोग रात तक मोबाइल या लैपटॉप में व्‍यस्‍त रहते हैं पर इससे नींद के ल‍िए ज‍िम्‍मेदार हार्मोन मेलाटोन‍िन की मात्रा कम हो जाती है और स्‍ट्रेस बढ़ता है ज‍िसका असर हार्ट हेल्‍थ पर भी पड़ता है इसल‍िए आपको रोजाना समय पर सोना चाह‍िए और रात को 8 बजे के बाद क‍िसी भी तरह के गैजेट्स का इस्‍तेमाल करने से बचें।          

4. डाइट में करें बदलाव (Change your diet)

heart health

image source: okstate

अगर आप हार्ट को हेल्‍दी रखना चाहती हैं तो आपको हाई बीपी और कोलेस्‍ट्रॉल को कंट्रोल करना चाह‍िए इसके ल‍िए आप फाइबर र‍िच फूड्स को अपनी डाइट में शाम‍िल करना चाह‍िए। ऑफ‍िस जाती हैं तो लंच घर पर लेकर जाएं, ताक‍ि आप जंक फूड अवॉइड कर सकें। हार्ट हेल्‍थ को अच्‍छा रखना चाह‍िए आपको डायब‍िटीज या थायराइड की दवा डॉक्‍टर की सलाह पर लेना चाह‍िए। 

5. ओरल प‍िल्‍स का ज्‍यादा सेवन न करें (Avoid eating excessive oral pills)

आपको अनचाहे गर्भ से बचने के ल‍िए ओरल प‍िल्‍स लेने की सलाह दी जाती है पर इसका कभी भी सेवन कर लेना आपकी सेहत को खराब कर सकता है। ओरल प‍िल्‍स का ज्‍यादा सेवन करने से इस्‍ट्रोजन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है ज‍िससे हार्ट ड‍िसीज का खतरा बढ़ जाता है। ओरल प‍िल्‍स के कारण हार्ट ड‍िसीज और ब्‍लड क्‍लॉट का खतरा भी बढ़ता है इसल‍िए आपको डॉक्‍टर की सलाह के मुताब‍िक ही प‍िल्‍स का सेवन करना चाह‍िए। 

इसे भी पढ़ें- हार्ट की सेहत में गड़बड़ होने पर दिखते हैं ये 11 लक्षण, बिल्कुल न करें नजरअंदाज

6. वजन कंट्रोल करें (Control your weight)

हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए आपको वजन कंट्रोल करने के उपाय जरूर खोजने चाह‍िए।  वजन कम करने के ल‍िए चीनी की मात्रा कम करें, हम द‍िन में 5 से 6 चम्‍मच प्रति‍ व्‍यक्‍त‍ि चाय या कॉफी के रूप में ही कंज्‍यूम कर लेते हैं जबकि‍ दूध में पहले से ही लैक्‍टोज होता है यानी नैचुरल म‍िठास होती है इसल‍िए आपको एक्‍सट्रा शुगर का सेवन अवॉइड करना चाह‍िए।  

7. बीएमआई और हार्ट रेट नोट करें (Note down your BMI and heart rate)

अगर आपका बीएमआई 25 से ज्‍यादा है और कमर 35 इंच से ज्‍यादा है तो आपको हार्ट हेल्‍थ का खतरा हो सकता है। हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए आपको हफ्ते में 5 द‍िन कम से कम 45 म‍िनट एक्‍सरसाइज प्रत‍ि द‍िन करना चाह‍िए। आप अपने रूटीन में ब्र‍िस्‍क वॉक, रन‍िंंग, जॉग‍िंंग, डांस को शाम‍िल कर सकते हैं।         

 हार्ट की बीमारी की दवा लेती हैं तो उसकी सही मात्रा का सेवन डॉक्‍टर की सलाह के मुताब‍िक करें, समय पर दवा लेने से आप हार्ट अटैक और हार्ट से जुड़े डि‍सीज के खतरे को कम कर सकेंगी। 

main image source: hearstapps, matherhospital.org

Disclaimer