इन 4 कारणों से बच्चों में होती है बार-बार थूक फेंकने की आदत, पेट में कीड़ों की नहीं होती कोई समस्या

अगर आप भी अपने बच्चे की थूक फेंकने की आदत से परेशान हैं तो एक्सपर्ट से जानें किन कारणों से होता है ऐसा।

Vishal Singh
बच्‍चे का स्‍वास्‍थ्‍यWritten by: Vishal SinghPublished at: Nov 06, 2020Updated at: Nov 06, 2020
इन 4 कारणों से बच्चों में होती है बार-बार थूक फेंकने की आदत, पेट में कीड़ों की नहीं होती कोई समस्या

बार-बार थूकने की आदत आपने कई लोगों में देखी होगी, लेकिन बच्चों में बार-बार थूकने की आदत ज्यादा होती है। बच्चों की इस आदत के कारण अक्सर माता-पिता परेशान रहते हैं और इस आदत से छुटकारा पाने की कोशिश करते रहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं ये समस्या किन कारणों से बच्चों में होती है? आप ही नहीं कई लोग हैं जिन्हें इस बारे में जानकारी नहीं होती है। बच्चों की बार-बार थूकने की आदत से छुटकारा पाने से पहले आपके लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि आपके बच्चे को बार-बार थूकना क्यों पड़ता है और इसका क्या कारण है। इस विषय पर हमने पारस अस्पताल, गुरुग्राम में पीडियाट्रिक्स और नियोनेटोलॉजी, मदर एंड चाइल्ड यूनिट के एचओडी, डॉक्टर मनीष मन्नान  से बात की, जिन्होंने हमे बच्चों के थूकने की आदत के बारे में जानकारी दी। 

childrens health

बच्चों में बार-बार थूक आने के कारण

मसूड़ों में जलन या परेशानी

बच्चों के चिकित्सक डॉक्टर मनीष ने बताया कि जिन बच्चों को बार-बार थूकने की आदत होती है, उन सभी के उम्र के हिसाब से अलग-अलग कारण हो सकते हैं। डॉक्टर मनीष के मुताबिक, 3 से 4 साल तक के बच्चे जब थूकते हैं तो इसके पीछे उनके मसूड़ों में इंफेक्शन या जलन हो सकती है। जिसके कारण वो बार-बार थूक फेंकते हैं। ऐसे बच्चों थोड़ी-थोड़ी देर में थूक फेंकने या निकलाने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही बच्चों को जब मसूड़ों में कुछ चबाने या दांत से दबाने की इच्छा होती हो तब भी वो ऐसी हरकत कर सकते हैं। 

गले में संक्रमण

गले में संक्रमण बच्चों में बहुत कम देखा जाता है, लेकिन जिन बच्चों में गले में संक्रमण होता है उन बच्चों में थूक फेंकने की समस्या दिखाई देती है। वहीं, जब बच्चों के गले में दर्द होता है तो उन्हें थूक को अंदर निगलने में परेशानी होती है। जिस कारण बच्चे अक्सर बाहर ही थूक फेंकने की कोशिश करते हैं। ऐसे इसलिए भी होता है क्योंकि बच्चे हमेशा अपनी चीजों या समस्याओं को बताने में असक्षम होते हैं। इसके लिए डॉक्टर की सलाह है कि आप किसी चिकित्सक से संपर्क कर इसकी जांच कराएं। 

इसे भी पढ़ें: मां से दूर होने पर शिशु रोए तो ये हैं सेपरेशन एंग्जाइटी के लक्षण, जानें कारण और उपचार

मुंह में अल्सर के कारण 

मुंह में अल्सर की समस्या आमतौर पर बच्चों में काफी कम होती है, लेकिन अगर कोई बच्चा अल्सर का शिकार है तो उसे थूक फेंकने की समस्या भी हो सकती है। इसके अलावा बच्चे के मुंह में अगर छाले होते हैं तो भी बच्चा थूक को अंदर ले जाने के बजाए बाहर ही फेंकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि बच्चों को थूक निगलने में परेशानी या दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

कुछ आदतें

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कई बार बच्चे तब थूक फेंकने की आदत को अपने अंदर शामिल करते हैं जब वो ज्यादातर लोगों को वैसा ही करते देखते हैं। जिसका कारण उन्हें भी इस आदत को अपनाना पड़ता है। अक्सर आप और आपके बच्चे बाहर लोगों को थूक फेंकते देखते हैं इससे बच्चों को ये समझ आता है कि थूक को हमेशा बाहर की ओर ही फेंका जाता है जिस कारण वो भी थूक को बाहर फेंकते हैं।  

इसे भी पढ़ें: क्या आपका बच्चा स्तनपान करने के बाद कर देता है उल्टी ? जानें क्या है इसकी वजह और बचाव के उपाय

जरूरी जानकारी

बच्चों के चिकित्सक डॉक्टर मनीष का कहना है कि कई लोगों को ये लगता है कि ये पेट से जुड़ी एक समस्या है या फिर पेट में कीड़ों के कारण बच्चें थूक फेंकते हैं। जबकि ऐसा नहीं होता, बल्कि कई लोग बच्चों को पेट में कीड़ों की दवाई भी पिलाने लगते हैं जिससे की उनका थूक फेंकना बंद हो जाए। डॉक्टर मनीष बताते हैं कि बच्चों के थूक फेंकने के पीछे पेट की समस्या या कीड़े की समस्या नहीं होती ये सिर्फ एक अफवाह है जिसके कारण माता-पिता परेशान होते हैं। इसके लिए सलाह ये है कि बच्चों के मुंह की माता-पिता को नियमित जांच करानी चाहिए और अगर वो थूक फेंकने की आदत को बार-बार करते हैं तो उन्हें इस आदत से दूर रखने के लिए कोशिश करनी चाहिए। 

इस लेख में बताए गई सभी जानकारी पारस अस्पताल में बच्चों के चिकित्सक डॉक्टर मनीष से बातचीत पर निर्भर है। 

Read More Article On New Born Care In Hindi 

Disclaimer