ताड़ासन करने से दूर होता है इन 6 बीमारियों का खतरा, जानें इसे करने के फायदे और सावधानियां

ताड़ासन का अभ्यास शरीर की कई समस्याओं में फायदेमंद होता है, योग गुरु ग्रैंड मास्टर अक्षर से जानें इसके फायदे और सावधानियां।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 06, 2022Updated at: Jun 06, 2022
ताड़ासन करने से दूर होता है इन 6 बीमारियों का खतरा, जानें इसे करने के फायदे और सावधानियां

योग निरोगी और फिट रहने का सबसे प्राचीन माध्यम है। नियमित रूप से योग के अभ्यास से न सिर्फ आप फिट रह सकते हैं बल्कि कई गंभीर बीमारियों में भी योग का नियमित अभ्यास बहुत उपयोगी है। दुनियाभर में योग का प्रचार-प्रसार करने और लोगों में योग के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए 21 जून को अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर Onlymyhealth आपके लिए एक विशेष सीरीज लेकर आया है जिसमें हम आपको सुप्रसिद्ध योग गुरु ग्रैंड मास्टर अक्षर से रोजाना 1 योगासन के बारे में विस्तार से बताएंगे। आज इस सीरीज के अंतर्गत हम आपको ताड़ासन (Plam Tree Pose) के बारे में बताने जा रहे हैं। ताड़ासन का रोजाना अभ्यास करने से शरीर की कई गंभीर बीमारियों के खतरे को कम करने में फायदा मिलता है। आइए विस्तार से जानते हैं इसके बारे में।

ताड़ासन का अभ्यास करने के फायदे (Tadasana Benefits in Hindi)

ताड़ासन योग का अभ्यास करने से न सिर्फ आपके शरीर का पोस्चर ठीक होता है बल्कि इससे शरीर का बैलेंस भी बेहतर होता है। ताड़ासन को अंग्रेजी में Palm Tree Pose कहते हैं। ताड़ासन का अभ्यास करते समय हमारा शरीर ताड़ के पेड़ की मुद्रा में रहता है।  ताड़ासन एक मध्यम श्रेणी का योगासन है जिसका अभ्यास आसानी से किया जा सकता है। ताड़ासन का अभ्यास करने से आपको इन बीमारियों में बहुत फायदा मिलता है। 

Tadasana Palm Tree Pose Benefits

इसे भी पढ़ें : पेट और पीठ की समस्याओं को दूर करने के लिए करें अर्ध हलासन का अभ्यास, जानें करने का सही तरीका

1. डायबिटीज के मरीजों के फायदेमंद ताड़ासन

डायबिटीज या मधुमेह की समस्या में ताड़ासन का अभ्यास करने से बहुत फायदा मिलता है। नेशनल सेंटर ऑफ बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन (NCBI) द्वारा प्रकाशित एक शोध में इस बात की पुष्टि की गयी है कि टाइप 2 डायबिटीज की समस्या में ताड़ासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है।

2. दर्द दूर करने के लिए उपयोगी ताड़ासन

शरीर में किसी भी तरह के दर्द को कम करने के लिए रोजाना ताड़ासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है। इसका अभ्यास करने से घुटने, जांघ और पैरों में होने वाले दर्द को कम करने में फायदा मिलता है। इसके अलावा रीढ़ की हड्डी में दर्द की समस्या को कम करने के लिए भी ताड़ासन का अभ्यास फायदेमंद होता है।

इसे भी पढ़ें : कागासन के अभ्यास से शरीर रहता है चुस्त और दूर रहती हैं पेट की बीमारियां, जानें करने का तरीका

3. पाचन से जुड़ी बीमारियों में फायदेमंद ताड़ासन

ताड़ासन का नियमित अभ्यास करने से पाचन तंत्र से जुड़ी बीमारियां दूर होती हैं। पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या जैसे पेट में गैस बनना, कब्ज और अपच की समस्या में ताड़ासन का अभ्यास करना चाहिए। रोजाना सही तरीके से इसका अभ्यास पेट से जुड़ी समस्याओं के जोखिम को कम करने में फायदेमंद होता है।

Palm Tree Pose Steps Precaution in Hindi

4. शरीर में ब्लड फ्लो बढ़ाने में उपयोगी

शरीर में ब्लड फ्लो प्रभावित होने पर कई बीमारियों का खतरा रहता है। इसके लिए रोजाना ताड़ासन का अभ्यास करना फायदेमंद होता है। हार्ट से जुड़ी बीमारियों में ब्लड फ्लो प्रभावित होने से नुकसान होता है। 

5. पीठ दर्द की समस्या में फायदेमंद

पीठ में दर्द होने की समस्या में रोजाना ताड़ासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है। पीठ और कमर में दर्द कई कारणों से हो सकता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए रोजाना ताड़ासन का अभ्यास करें।

6. कटिस्नायुशूल (साइटिका) की समस्या में उपयोगी

कटिस्नायुशूल (साइटिका) की समस्या में ताड़ासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए आप एक्सपर्ट या डॉक्टर की सलाह के आधार पर इसका अभ्यास कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : ब्रेन पावर बढ़ाने के लिए ट्राई करें ये 6 योगासन, मिलेंगे कई और फायदे

ताड़ासन का अभ्यास करने का तरीका (Steps To Do Palm Tree Pose in Hindi)

ताड़ासन का अभ्यास करने के लिए आप योग एक्सपर्ट ग्रैंड मास्टर अक्षर द्वारा बताये ये स्टेप्स फॉलो करें।

  • सबसे पहले हाथ को शरीर के बगल में रखकर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अब अपने हाथों को सिर के ऊपर उठाएं।
  • इसके बाद अपने सिर के ऊपर से उंगलियों को बंद करते हुए एडियों को ऊपर उठाएं।
  • इस दौरान जितना हो सके स्ट्रेच करें।
  • थोड़ी देर के लिए इसी स्थिति में रुकें।
  • सांस छोड़ते हुए वापस स्थिति में आयें।

ताड़ासन का अभ्यास करते समय सावधानियां (Precautions While Doing Tadasana in Hindi)

ताड़ासन का अभ्यास करते समय आपको इन सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए। 

  • जिन लोगों के टखनों या घुटने में दर्द है उन्हें इसका अभ्यास नहीं करना चाहिए।
  • इंजरी होने पर ताड़ासन का अभ्यास करने से बचना चाहिए।
  • खाने के तुरंत बाद इस योगासन का अभ्यास करने से बचना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में ताड़ासन का अभ्यास नहीं करना चाहिए।
  • प्रेगनेंसी में शुरूआती समय में इसका अभ्यास करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

ताड़ासन का अभ्यास करने से आपकी हाइट भी बढ़ती है और शरीर का पोश्चर ठीक रखने में फायदा मिलता है। आप ऊपर बताई गयी समस्याओं में इस योगासन का अभ्यास कर सकते हैं।

(Image Source - Grand Master Akshar/Freepik)

Disclaimer