Doctor Verified

कब्ज और अपच में क्या अंतर है? एक्सपर्ट से जानें किन कारणों से होती हैं ये समस्याएं

अपच और कब्ज दोनों अलग-अलग समस्याएं होती हैं। आइए जानते हैं इस समस्या के बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Apr 28, 2022Updated at: Apr 28, 2022
कब्ज और अपच में क्या अंतर है? एक्सपर्ट से जानें किन कारणों से होती हैं ये समस्याएं

पेट से जुड़ी सभी समस्याओं को हम लगभग एक ही जैसा मान लेते हैं। इसलिए इसका कुछ-कुछ परिस्थितियों में इलाज करना काफी मुश्किल होता है। खासतौर पर कई लोग कब्ज और अपच की परेशानी को एक ही परेशानी समझ लेते हैं। लेकिन आपको बता दें कि यह दोनों परेशानी काफी अलग-अलग कारणों से होती है। साथ ही इनके लक्षण भी काफी अलग होते हैं। इस विषय पर जानकारी के लिए हमने दिल्ली के द्वारका स्थित मनीपाल हॉस्पिटल के डॉक्टर कुणाल दास से बात की। आइए डॉक्टर कुणाल दास से जानते हैं कि कब्ज और अपच में क्या अंतर (Distinguish between constipation and indigestion) होता है? 

कब्ज और अपच में क्या अंतर है? ( Distinguish between constipation and indigestion in Hindi)

दिल्ली के द्वारका स्थित मनीपाल हॉस्पिटल के डॉक्टर कुणाल दास का कहना है कि कब्ज एक ऐसी स्थिती होती है, जिसमें मलाशय से मल रुक-रुक कर आता है। इसका कारण आंत द्वारा जल अवशोषण की वजह होती है। इसके कारण मत काफी ज्यादा कठोर हो जाता है। साथ ही आंत के कार्य करने की क्षमता भी कमजोर हो जाती है। वहीं, अपच एक ऐसी परेशानी होती है, जिसमें खाना सही से पच नहीं पाता है। इस समस्या से ग्रसित व्यक्ति का पेट भरा-भरा हुआ सा रहता है। यह समस्या फूड पॉइजनिंग, खाने का अधिक सेवन, नींद में कमी के कारण हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - गैस, कब्ज और अपच जैसी पेट की परेशानियां दूर करने के लिए रोज बांसी मुंह चबाएं ये पत्तियां

डॉक्टर बताते हैं कि दोनों के लक्षणों में भी काफी अंतर होता है, जैसे - कब्ज की परेशानी होने पर आपको मल त्याग करने में काफी परेशानी होती है। इस समस्या से ग्रसित व्यक्ति का मल ड्राई और सख्त होता है। साथ ही मल त्यागने में काफी तेज दर्द और जोर लगाना पड़ता है। इसके अलावा पेट में दर्द, ऐंठन, पेट फूला हुआ, मिचली जैसी परेशानी महसूस होती है। वहीं, कुछ स्थितियों में मल से खून भी आने लगता है। 

वहीं, अपच की बात कि जाए, तो अपच से ग्रसित व्यक्ति को थोड़ा खाने पर भी पेट भरा जाना, बेचैनी जैसा महसूस होना, खट्टी डकारें, मतली, पेट के ऊपरी हिस्से में सूजन जैसा महसूस होता है। 

कब्ज के क्या कारण होते हैं? (Constipation Causes in Hindi)

डॉक्टर बताते हैं कि कब्ज के कई कारण होते हैं। इन कारणों में खाने में सही मात्रा में फाइबर न लेना प्रमुख है। इसके अलावा आपकी जीलनशैली, मेडिकल स्थिति और प्रेग्नेंसी भी हो सकती है। आइए जानते हैं लाइफस्टाइल की वजह से कब्ज होने के कारण-

  • भोजन में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल न करने की वजह से कब्ज की परेशानी हो सकती है। 
  • पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने के कारण डिहाइड्रेशन की वजह से भी कब्ज की शिकायत हो सकती है। 
  • स्थिर जीलनशैली के कारण भी कब्ज हो सकता है। 
  • नियमित दिनचर्या में बदलाव, जैसे यात्रा करना, खाना अलग-अलग समय पर करना, खाने के तुरंत बाद बिस्तर पर जाना इत्यादि की वजह से कब्ज की शिकायत हो सकती है। 
  • काफी ज्यादा दूध और पनीर जैसे डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करना।
  • स्ट्रेस में रहना, इत्यादि

अपच किन कारणों से होता है? (Indigestion Causes in Hindi)

खाने के बाद असहज महसूस करना या फिर पेट भरा-भरा महसूस करना अपच के लक्षण हो सकते हैं। इस समस्या से ग्रसित होने का कारण भी आपकी खराब लाइफस्टाइल हो सकती है। आइए जानते हैं इस बारे में-

इसे भी पढ़ें - कब्ज से छुटकारा चाहते हैं तो पिएं खस की जड़ का पानी, जानें बनाने की विधि और अन्य फायदे

  • मसालेदार खाना खाना, खट्टे फलों का अधिक सेवन करना, चाय कॉफी का सेवन काफी ज्यादा करना जैसे खाने की अदतों के कारण अपच की परेशानी हो सकती है। 
  • अधिक वजन होने के कारण भी आपके अपच की समस्या बनी रहती है। 
  • धूम्रपान और एल्कोहल का अधिक सेवन करने की वजह से अपच की समस्या हो सकती है। 
  • तनाव और चिंता से ग्रसित व्यक्ति के कारण भी अपच की परेशानी होने की संभावना अधिक रहती है। 
  • प्रेग्नेंसी के कारण भी महिलाओं को अपच की समस्या हो सकती है। 
  • बिना वजह दवाओं का सेवन करने के कारण अपच की शिकायत देखने को मिल सकती है। 
कब्ज और अपच की परेशानी अलग-अलग होती है। ऐसे में दोनों को एक न समझने की कोशिश करें। अगर आपको पेट में किसी भी तरह की परेशानी हो रही है, तो डॉक्टर से संपर्क करें। खुद से किसी भी समस्या का इलाज करने से बचें।
Disclaimer