Expert

सूजी या बेसन, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

सूजी और बेसन दोनों से ही नाश्ते के लिए स्वादिष्ट डिशेज बनाई जा सकती हैं। अक्सर लोग इस असमंजस में रहते हैं कि वजन घटाने के लिए क्या ज्यादा फायदेमंद है।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Mar 11, 2022Updated at: Mar 11, 2022
सूजी या बेसन, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

वजन घटाने (Weight Loss) के लिए हम काफी कुछ ट्राई करते हैं, कई तरह की डाइट से लेकर तरह-तरह की एक्सरसाइज तक। यह सही है कि वजन घटाने के लिए जितना जरूरी एक्सरसाइज करना है उतना ही जरूरी सही डाइट और फूड्स (Diet For Weight Loss in Hindi) का सेवन करना। इन दिनों वजन घटाने के लिए दो फूड्स (Foods For Weight Loss In Hindi) काफी पॉपुलर हो रहे हैं - बेसन और सूजी। ये दोनों ही हमारे रसोई में आसानी से मिल जाते हैं। हम कई तरह के व्यंजन बनाने के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं। दोनों का ही सेवन ब्रेकफास्ट में बेहद फायदेमंद माना जाता है। लेकिन हम में से कुछ लोग इस बात को लेकर असमंजस में रहते हैं कि बेसन या सूजी, वजन घटाने के लिए दोनों में कौन ज्यादा बेहतर है (suji vs besan for weight loss in hindi)? यह जानने के लिए हमने क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन रक्षिता मेहरा से बात की। चलिए आपको बताते हैं वजन घटाने के लिए आपको दोनों में से किसका सेवन करना चाहिए।

बेसन और सूजी में मौजूद पोषक तत्व (Besan vs Suji Nutrional Value In Hindi)

पोषण विशेषज्ञ की रक्षिता मेहरा की मानें तो बेसन और सूजी दोनों में की ही पोषण सामग्री लगभग समान होती है। आइए इस पर एक नजर डालते हैं।

सूजी की पोषण सामग्री (Suji Nutritional Value Per 100g In Hindi)

सूजी साबुत गेहूं को दरदरा पीसकर बनाई जाती है। इसकी पोषण सामग्री की बात करें तो 100 ग्राम सूजी लगभग आपको 360 कैलोरी देती है। सूजी में 72.83 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। साथ ही इसमें 3.9 ग्राम डाइट्री फाइबर होता है। सूजी आयरन से भरपूर होती है और इसमें फैट की मात्रा कम होती है। साथ ही सूजी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स हाई होता है।

इसे भी पढ़ें: Scam 1992 के एक्टर हेमंत खेर ने घटाया 15 किलो वजन, उन्हीं से जानें उनका वेट लॉस सीक्रेट

बेसन की पोषण सामग्री (Besan Nutritional Value Per 100g In Hindi)

बेसन चने से बना आटा है। बेसन की एक अच्छी बात यह है कि यह ग्लूटेन फ्री होता है। इसके पोषक तत्वों की बात करें तो 100 ग्राम लगभग आपको 387 कैलोरी देता है। इसके अलावा बेसन में 50% से ज्यादा फैट होता है। इसमें 10 ग्राम चीनी के साथ ही 10 ग्राम डाइट्री फाइबर होता है। इसमें सूजी की तुलना में फैट की मात्रा थोड़ी अधिक  होती है। साथ ही बेसन का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है।

Suji vs Besan for weight loss Image Source: Freepik.com

सूजी या बेसन, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? (suji vs besan for weight loss in hindi)

पोषण विशेषज्ञ रक्षिता मेहरा की मानें तो बेसन और सूजी दोनों ही नाश्ते के बेहतरीन विकल्प हैं। लेकिन सूजी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स हाई होता है। साथ ही इसमें ग्लूटेन की मात्रा भी अधिक होती है। जिससे कि यह ग्लूटेन के प्रति संवेदनशील लोगों लिए नुकसानदायक हो सकता है। वहीं बेसन की बात करें तो बेसन का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, और ग्लूटेन फ्री होता है। साथ ही बेसन में प्रोटीन भी अच्छी मात्रा में मौजूद होता है।

वजन घटाने के लिए दोनों का किया जा सकता है सेवन

रक्षिता मेहरा की मानें तो बेसन और सूजी दोनों ही वजन घटाने के लिए आदर्श विकल्प हैं। वजन घटाने वाले लोगों के लिए यह नाश्ते का बेहतरीन विकल्प हैं। ये दोनों ही आसानी से मिल जाते हैं। साथ ही इनसे व्यंजन बनाने में भी ज्यादा समय नहीं लगता है। दोनों ही बेहद स्वादिष्ट होते हैं और शरीर को जरूरी पोषण प्रदान करते हैं। तो आप दोनों का सेवन कर सकते हैं। बेहतर है कि आप अलग-अलग दिन इन दोनों को ट्राई करें, ताकि आप एक ही चीज खाकर बार-बार बोर न हों।

इसे भी पढ़ें: पूरे दिन बिजी रहते हैं तो कैसे घटाएं वजन? एक्सपर्ट से जानें व्यस्त लोगों के लिए खास वेट लॉस टिप्स

यह भी ध्यान रखें

पोषण विशेषज्ञ रक्षिता मेहरा सलाह देती हैं कि डायबिटीज वाले लोगों को और जिन्हें ग्लूटेन से एलर्जी है, उन्हें सूजी का सेवन करने से बचना चाहिए। उनके लिए बेसन का सेवन करना ज्यादा बेहतर विकल्प है। सूजी भले ही पौष्टिक रूप से बेसन से थोड़ा बेहतर है लेकिन डायबिटीज के रोगियों के लिए बेसन बेहतर है। ये दोनों नाश्ते के लिए एक बेहतरीन विकल्प बन सकते हैं, हालांकि इस पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए कि आप दोनों भी खा रहे हैं, तो संतुलित मात्रा में ही खाएं। किसी भी एक का बहुत ज्यादा सेवन नुकसानदायक ही साबित होगा।

Disclaimer