Expert

अंकुरित बाजरा के फायदे : वजन और कोलेस्ट्रॉल घटाने में मददगार है अंकुरित बाजरा, जानें इसके 12 फायदे

सर्दियों में बाजरा का गुण बढ़ाने के लिए आप इसे अंकुरित करके खा सकते हैं। इससे आपको कई बेमिसाल फायदे हो सकते हैं। 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraUpdated at: Oct 28, 2021 18:16 IST
अंकुरित बाजरा के फायदे  : वजन और कोलेस्ट्रॉल घटाने में मददगार है अंकुरित बाजरा, जानें इसके 12 फायदे

अंकुरित चना, मूंग या फिर जौ का सेवन आपने किया होगा। लेकिन क्या आपने कभी अंकुरित बाजरा का सेवन किया है? अगर नहीं, तो आज इसके ढेरों फायदे जानकर इसका सेवन जरूर शुरू कर देंगे। सर्दियों में बाजरे की रोटी, बाजरे का लड्डू या फिर बाजरे के अन्य डिशेज बहुत ही बताए जाते हैं। लेकिन अगर आप कुछ हेल्दी खाना चाहते हैं, तो अंकुरित बाजरा का सेवन करें। अंकुरित बाजरा कई पोषक तत्वों जैसे- विटामिन बी12, विटामिन बी2 और विटामिन सी की वृद्धि होती है। जी हां, जब आप बाजरा को अंकुरित करते हैं, तो इसमें विटामिन सी की वृद्धि होती है, जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। इसके सेवन से आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते हैं। डायट मंत्रा क्लीनिक की डायटीशियन कामिनी कुमारी का कहना है कि बाजरा के सेवन से आपके शरीर को गर्मी मिलती है। ऐसे में सर्दियों में इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होता है। वहीं, अंकुरित बाजरा का सेवन करने से स्वास्थ्य को कई जरूरी पोषक तत्व मिल सकते हैँ।  आइए डायटीशियन कामिनी कुमारी से जानते हैं अंकुरित बाजरा खाने (sprouted millet Health Benefits) से सेहत को होने वाले फायदे-

1. कोलेस्ट्रॉल को करे कंट्रोल

डायटीशियन कामिनी बताती हैं कि अंकुरित बाजरा का सेवन करने से दिल से जुड़ी परेशानियों से बचा जा सकता है। दरअसल, बाजरा में फाइबर  और मैगनीशियम  की अधिकता होती है। यह दोनों तत्व दिल के मरीजों के लिए फायदेमंद होते हैं। ऐसे में जब आप बाजरा को अंकुरित करके खाते हैं, तो यह आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल को घटाने में मददगार हो सकता है। यह आपके शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को नष्ट करके गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा देने में मददगार है। जिसके कारण आपको ब्लॉकेज जैसी हार्ट से जुड़ी परेशानियां होने का खतरा कम होता है।

इसे भी पढ़ें - रोज अंकुरित मेथी खाने से आपको मिलेंगे ये 10 फायदे, जानें मोटापा और डायबिटीज कंट्रोल करने में कैसे है कारगर

2. वजन को घटाने में असरदार

अंकुरित बाजरा का सेवन करने से आपके शरीर में मौजूद एक्ट्रा चर्बी कम हो सकती है। दरअसल, इसमें फाइबर होता है। साथ ही यह धीरे-धीरे पचता है, जिसकी वजह से आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। इससे आपका भूख काफी समय तक कंट्रोल रह सकता है। यह ओवरइटिंग की समस्या को कम करने में असरदारा हो सकता है। ऐसे में अंकुरित बाजारा का सेवन करने से आपके शरीर का बढ़ता वजन कम हो सकता है।  अगर आप वजन कंट्रोल करना चाहते हैं, तो अंकुरित बाजरा के साथ-साथ बाजरा की रोटी, बाजरा की खिचड़ी जैसी चीजों का भी सेवन कर सकते हैं।

3. गट हेल्थ के लिए फायदेमंद

डायटीशियन कामिनी का कहना है कि यह हमारे गट हेल्थ के लिए भी काफी अच्छा होता है। क्योंकि इसमें अघुलनशील फाइबर होता है, जो पाचन शक्ति को बढ़ाने में आपकी मदद करता है।  अंकुरित बाजरा का सेवन करने से यह प्रीबायोटिक्स की तरह कार्य करता है। अगर आप अपने गट हेल्थ को सुधारना चाहते हैं, तो रोजाना अंकुरित बाजरा का सेवन करें।

4. डायबिटीज रोगियों के लिए  है अच्छा

डायटीशियन कामिनी बताती हैं कि अंकुरित बाजरा का सेवन डायबिटीज मरीज भी कर सकते हैँ।  इसके सेवन से उनका ब्लड शुगर कंट्रोल रह सकता है। अगर आप अपना डायबिटीज कंट्रोल करना चाहते हैं, जो अंकुरित बाजरा के अलावा अंकुरित  बजारे की खिचड़ी, रोटी या फिर दलिया के फोम में इसका सेवन कर सकते हैं।  इससे आपको सकारात्मक रिजल्ट मिल सकते हैं। क्योंकि यह आपके ब्लड शुगर को बढ़ने नहीं लेता है। आपकी एनर्जी को बनाए रखता है।

5. कैंसर से करे बचाव

डायटीशयिन बताती हैं कि अंकुरित बाजार का सेवन करने से कैंसर से बचाव किया जा सकता है। दरअसल, इसमें फाइटोकेमिकल होता है, जिसमें कैंसररोधी गुण मौजूद होता है। ऐसे में अगर आपको कैंसर का खतरा है, जो आप नियमित रूप से अंकुरित बाजरा का सेवन कर सकते हैं।  साथ ही यह मेटाबॉलिज्म सिंड्रोम को मैंटेन करने में आपकी मदद करता है।

इसे भी पढ़ें - बालों को घना और हेल्दी बनाने के लिए डाइट में शामिल करें ये 9 फूड्स

6. ग्लूटन फ्री

डायटीशियन कामिनी कुमारी का कहना है कि अंकुरित बाजरा ग्लूटन फ्री होता है। अगर किसी व्यक्ति को गेंहू जैसी चीजें नहीं पचती हैं, तो वह बाजरा का सेवन कर सकते हैं। क्योंकि इसमें ग्लूटन बिल्कुल भी नहीं होता है।

7. हाई ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल 

अंकुरित बाजारा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो आपके बीपी को कंट्रोल कर सकता है। अगर आपको हाई बीपी की परेशानी है, तो आप इसे अपने डाइट में नियमित रूप से शामिल करें।

8. अस्थमा रोगियों के लिए लाभकारी

बाजरा का सेवन करने से अस्थमा में होने वाली परेशानियों को दूर किया जा सकता है। अंकुरित बाजरा का नियमित रूप से सेवन करते से सांसों में होने वाली घरघराहट को कम किया जा सकता है। साथ ही इससे गेंहू से होने वाली एलर्जी भी कम होती है।

9. स्किन के लिए लाभकारी

स्वास्थ्य के साथ-साथ स्किन के लिए भी अंकुरित बाजरा फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, इसमें अमीनो एसिड होता है। यह शरीर में कोलेजन का निर्माण करता है। इससे आपकी स्किन में कोलेजन का स्तर मजबूत होता है। इसके सेवन से स्किन का लचीलापन दूर हो सकता है। साथ ही झुर्रियों की परेशानी को कम किया जा सकता है।

10. अर्थराइटिस की परेशानियों को करे कम

अंकुरित बाजरा का सेवन करने से अर्थराइटिस में होने वाली परेशानियों को भी कम किया जा सकता है। इसके अलावा यह जोड़ों में सूजन, दर्द और लालिमा को कम करता है। अर्थराइटिस में होने वाली शारीरिक कमजोरी को भी कम कर सकता है।

11. बालों की ग्रोथ के लिए बेहतर

अंकुरित बाजरा का सेवन करने से बालों की ग्रोथ भी अच्छी हो सकती है। दरअसल, बालों के लिए प्रोटीन बेहद जरूरी होता है। बाजरा प्रोटीन से भरपूर होता है। ऐसे में जब आप इसका सेवन करते हैं, तो बालों को भरपूर रूप से प्रोटीन मिलता है, जिससे बालों की ग्रोथ अच्छी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - डेंगू में चावल खाना चाहिए या नहीं? एक्सपर्ट से जानें डेंगू में खानपान से जुड़े ऐसे 5 सवालों के जवाब

12. आयरन की कमी को करे पूरा

डायटीशियन बताती हैं कि अगर आपके शरीर में आयरन की कमी है, तो आप अंकुरित बाजरा का सेवन करें। अंकुरित बाजरा का सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी को पूरा किया जा सकता है। क्योंकि यह आयरन का अच्छा स्त्रोत होता है। अगर आपको एनीमिया की शिकायत है या फिर शरीर में ऑक्सीजन की कमी है, तो आप अंकुरित बाजरा का सेवन कर सकते हैं। डायटीशियन का कहना है कि 100 ग्राम बाजरा में आपको 1 एमजी आयरन मिल सकता है। ठंड में इसका सेवन करने से आपको बेहतर रिजल्ट मिल सकता है। 

सर्दियों में आपको बाजारा बहुत ही आसानी से मिल सकता है। अगर आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर करना चाहते हैं, तो अंकुरित बाजरा का सेवन करें। इससे आपको काफी बेहतर रिजल्ट मिल सकता है। वहीं, अगर आपको कोई गंभीर परेशानी है, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार डायटीशियन से जरूर सलाह लें। 

Disclaimer