Expert

रस्सी कूदना या दौड़ना, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा बेहतर? जानें एक्सपर्ट से

Weight Loss Tips : अगर आप वजन घटाना चाहते हैं, ताे स्किपिंग या रनिंग कर सकते हैं। लेकिन इन दाेनाें में से क्या ज्यादा बेहतर है, इस बारे में जानें- 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Oct 19, 2021Updated at: Mar 23, 2022
रस्सी कूदना या दौड़ना, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा बेहतर? जानें एक्सपर्ट से

रस्सी कूद या दौड़ना (Skipping or Running), वजन घटाने के लिए क्या है अधिक कारगर?  आजकल हर दूसरा व्यक्ति माेटापे से परेशान हैं। माेटापा कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं जैसे-हृदय राेग, कैंसर आदि का कारण बनता है। इसलिए लाेग किसी भी तरह से अपना वजन कम करना चाहते हैं। कई लाेग वजन कम करने के लिए डाइटिंग करते हैं, ताे कुछ लाेग इसके लिए एक्सरसाइज का सहारा लेते हैं (Weight Loss Exercise)। वजन कम करने के लिए स्किपिंग और रनिंग भी बेहतर विकल्प है (Skipping or Running for Weight Loss)। लेकिन इन दाेनाें में से अधिक फायदेमंद क्या है? इस बारे में जानने के लिए हमने YOBICS Workout की फिटनेस ट्रेनर डॉक्टर कविता नालवा (Fitness Trainer dr. Kavita Nalwa) से बातचीत की-

रस्सी कूद और दौड़ना, दाेनाें ही स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी हैं। दाेनाें के अभ्यास से हृदय स्वस्थ (Healthy Heart) रहता है, मांसपेशियां मजबूत बनती हैं और फिटनेस में सुधार हाेता है। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं या खुद काे फिट रखना चाहते हैं, ताे अपनी जीवनशैली में स्किपिंग और रनिंग काे जरूर शामिल करें (Skipping and Running in Daily Routine)। इससे आप काफी हद तक अपनी फिटनेस काे मेंटेन रख सकते हैं।

skipping for weight loss

रस्सी कूद या स्किपिंग के फायदे (Skipping Benefits)

फिटनेस एक्सपर्ट फिट रहने के लिए हमेशा रस्सी कूद करने की सलाह देते हैं। रस्सी कूद करने से पूरी बॉडी की मूवमेंट हाेती है। इसे करने से मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत बनती हैं। साथ ही यह हृदय काे भी स्वस्थ रखता है। रस्सी कूद काे वजन कम करने के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जाता है।  हृदय राेग और हाई ब्लड प्रेशर वाले लाेगाें काे इसे करने से बचना चाहिए (Hearth and High Blood Pressure Patients should avoid Skipping)।

इसे भी पढ़ें - वजन घटाने और एब्स बनाने के लिए रोज करें जापानी टॉवेल एक्सरसाइज, जानें सही तरीका

1. वजन घटाने के लिए स्किपिंग (Skipping for Weight Loss)

अगर आप माेटापे से परेशान हैं, ताे रेगुलर स्किपिंग कर सकते हैं। स्किपिंग करने से कैलाेरी बहुत तेजी से बर्न हाेते हैं। कैलाेरी बर्न करने के लिए रस्सी कूद, दौड़ने से एक बेहतर विकल्प है। लगातार 1 मिनट तक स्किपिंग करने से करीब 10-15 कैलाेरी बर्न किया जा सकता है। यह कहा जा सकता है कि 10 मिनट तक लगातार स्किपिंग करना, 8 मील दौड़ के बराबर हाे सकता है। यह बैली, थाई, हाथाें के फैट काे कम करता है (Skipping Help to Burn Belly and Thigh Fat)।

2. लोअर बॉडी काे बनाए मजबूत (Skipping Makes Lower Body Strong)

राेजाना 10 मिनट रस्सी कूद करना लोअर बॉडी के लिए काफी फायदेमंद हाेता है। यह निचले शरीर की मांसपेशियाें काे मजबूत बनाता है। साथ ही यह घुटनाें, टखनाें का बैलेंस भी बनाता है। कई लाेगाें काे दौड़ने की मनाही हाेती है, इस स्थिति में वे रस्सी कूद करके खुद काे फिट रख सकते हैं। स्किपिंग करने से पैर, घुटने, कमर की मांसपेशियां मजबूत बनती हैं।

3. फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाए (Skipping Increase Flexibility)

नियमित रूप से रस्सी कूद का अभ्यास करने से बॉडी फ्लेक्सिबल बनती है। दरअसल, रस्सी कूद करने से पूरी बॉडी की मूवमेंट हाेती है, जाे मांसपेशियाें काे फ्लेक्सिबल बनाती है। स्किपिंग करने से शरीर का संतुलन बना रहता है।

running for weight loss

दौड़ने या रनिंग के फायदे (Benefits of Running)

रनिंग करने से शरीर काे कई तरह से लाभ मिलते हैं। दौड़ना स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी हाेता है (राेजाना दौड़ने के फायदे)। इससे आपकी मांसपेशियां मजबूत बनती हैं, शारीरिक क्षमता का विकास हाेता है, हृदय स्वस्थ रहता है, पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। साथ ही दौड़ लगाने से आप अपना वजन भी कम कर सकते हैं। अगर आप इन सभी फायदाें काे पाना चाहते हैं, ताे राेजाना दौड़ जरूर लगाएं।

1. कार्डियाेवैस्कुलर में सुधार करे (Running Improve Cardiovascular)

राेजाना दौड़ना आपके कार्डियाेवैस्कुलर सिस्टम में सुधार करता है। दौड़ लगाने से हृदय हमेशा स्वस्थ रहता है। दौड़ने से रक्त प्रवाह या ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हाेता है, यह बैड काेलेस्ट्रॉल के लेवल काे कम करता है। साथ ही यह हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) के जाेखिम काे भी कम करता है। 

2. मानसिक रूप से रखे स्वस्थ (Running to Mental Health)

दौड़ना शारीरिक के साथ ही मानसिक रूप से भी फायदा पहुंचाता है। दरअसल, दौड़ने से मस्तिष्क में एंडाेर्फिन और सेराेटाेनिन जैसे रसायनाें काे छाेड़ने में मदद मिलती है, जाे स्ट्रेस लेवल (Stress Level) काे कम करता है। साथ ही रनिंग करने से डिप्रेशन दूर हाेता है और नींद अच्छी आती है।

इसे भी पढ़ें - पैराें में दर्द हाेने पर नहीं करनी चाहिए ये 4 एक्सरसाइज

3. लंग्स की सफाई करे (Running Cleans Lungs)

फेफड़ाें काे स्वस्थ रखने के लिए दौड़ना बहुत फायदेमंद हाेता है। राेजाना दौड़ लगाने से फेफड़ाें बलगम काे आसानी से निकालने में मदद मिलती है। यह श्वसन की मांसपेशियाें काे मजबूत बनाता है। दौड़ लगाने से फेफड़ाें की कार्यक्षमता बढ़ती है और फेफड़े साफ हाेते हैं (फेफड़ाें की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय)। इसलिए अगर आपके कफ बना रहता है, ताे इस स्थिति में आप राेजाना दौड़ लगा सकते हैं। दौड़ने लगाने से फेफड़े मजबूत बनते हैं और इनके कार्य करने की क्षमता बढ़ती है।

weight loss tips

रस्सी कूद या दौड़- वजन घटाने के लिए क्या है बेहतर ( Skipping or Running What is More Effective for Weight Loss)

अकसर लाेगाें के मन में सवाल रहता है कि रस्सी कूद या दौड़ में से वजन घटाने के लिए क्या अधिक बेहतर है? इस पर फिटनेस ट्रेनर डॉक्टर कविता नालवा बताती हैं कि रस्सी कूद और दौड़ या रनिंग दाेनाें ही वजन घटाने में मददगार हाेते हैं। लेकिन रस्सी कूद, दौड़ की तुलना में कैलाेरी जल्दी बर्न करने में मदद करता है। लगातार 1 मिनट रस्सी कूद करने से आप लगभग  10-15 कैलाेरी बर्न कर सकते हैं। अगर राेजाना 10 मिनट लगातार स्किपिंग की जाए, ताे आप काफी हद तक अपने माेटापे या वजन काे कम कर सकते हैं। 10 मिनट स्किपिंग करता 8-10 मील दौड़ लगाने के बराबर माना जाता है। इसलिए कहा जा सकता है कि समय और सहुलियत काे ध्यान में रखकर रस्सी कूद करने से वजन काे कम किया जा सकता है।

अगर आप भी वजन कम करना चाहते हैं, ताे इसके लिए रस्सी कूद के विकल्प काे आजमा सकते हैं। लेकिन अगर आपकाे हृदय राेग और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, ताे ऐसे में आपकाे रस्सी कूद करने से बचना चाहिए। इस स्थिति में आप दौड़ लगा सकते हैं। वजन घटाने के चक्कर में आप बहुत ज्यादा रस्सी कूद या दौड़ लगाने से भी बचें। आप दिनभर में एक बार रस्सी कूद या दौड़ लगा सकते हैं।

Disclaimer