Doctor Verified

स्किन कैंसर के कितने स्टेज होते हैं? जानें डॉक्टर से बचाव के टिप्स

Skin Cancer in Hindi: स्किन कैंसर के शुरूआती स्टेज में इलाज लेने से मरीज जल्दी ठीक हो सकता है, जानें स्किन कैंसर के कितने स्टेज होते हैं। 

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 18, 2022Updated at: Sep 18, 2022
स्किन कैंसर के कितने स्टेज होते हैं? जानें डॉक्टर से बचाव के टिप्स

Skin Cancer in Hindi: कैंसर की बीमारी एक घातक और जानलेवा बीमारी मानी जाती है। आज के समय में दुनियाभर में कैंसर की बीमारी तेजी से फैल रही है। दुनियाभर में सालाना होने वाली मौतों में कैंसर की वजह से होने वाली मौतें प्रमुख स्थान पर हैं। कैंसर की बीमारी कई तरह की होती है और शरीर के अलग-अलग अंगों में इसके प्रभाव के आधार पर इसे वर्गीकृत किया जाता है। कैंसर की बीमारी का एक प्रकार है, स्किन कैंसर (Skin Cancer in Hindi)। स्किन कैंसर की समस्या को भी बहुत घातक माना जाता है। एपिडर्मिस लेयर में कैंसर सेल्स के अचानक बढ़ने की वजह से स्किन कैंसर की समस्या शुरू होती है। शुरूआती स्टेज में स्किन कैंसर का इलाज न होने पर यह समस्या गंभीर स्टेज में चली जाती है और इसकी वजह से मरीज की जान भी जा सकती है। आइए विस्तार से जानते हैं स्किन कैंसर के कितने स्टेज होते हैं और इससे बचने के लिए किन बातों का ध्यान रखें।

स्किन कैंसर क्या है?- What is Skin Cancer in Hindi

स्किन कैंसर की समस्या स्किन में कैंसर की कोशिकाओं के फैलने के कारण होती है। कई शोध और रिसर्च यह कहते हैं कि कोई व्यक्ति अगर दिन भर धूप में बैठा रहता है, तो उसमें स्किन कैंसर का खतरा सामान्य व्यक्तियों की तुलना में ज्यादा रहता है। कैंसर विशेषज्ञ डॉ नीति के मुताबिक स्किन कैंसर में मुख्य रूप से आपका चेहरा, सिर, कान, गर्दन और हाथ के हिस्से प्रभावित होते हैं। हालांकि स्किन कैंसर शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है और इसके कारण भी अलग-अलग होते हैं। सही समय पर स्किन कैंसर की पहचान कर इलाज लेने से मरीज जल्दी ठीक हो जाता है। आखिरी स्टेज में कैंसर के पहुंचने पर मरीज का इलाज बहुत लंबा होता है और उसकी जान जाने का भी खतरा बना रहता है।

Skin Cancer in Hindi

इसे भी पढ़ें: Skin Cancer Prevention: स्किन कैंसर से अपना बचाव करने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये खास चीजें

स्किन कैंसर के कितने स्टेज होते हैं?- Skin Cancer Stages in Hindi

कैंसर की बीमारी को गंभीरता के आधार पर अलग-अलग स्टेज में बांटा गया है। शरीर में स्किन कैंसर की शुरुआत होने को स्टेज 0 कहा जाता है और धीरे-धीरे जब यह समस्या बढ़ने लगती है, तो इसके स्टेज भी बढ़ने लगते हैं। जब शरीर में किसी छोटे हिस्से को कैंसर की कोशिकाएं अपना शिकार बनाती हैं, तो यह बीमारी अपने प्रारंभिक स्टेज में होती है। इस स्टेज में डॉक्टर से सलाह लेकर इलाज कराने से मरीज जल्दी ठीक हो सकता है। शुरुआती स्टेज में इलाज लेने से आप इस बीमारी को शरीर में बढ़ने से रोक सकते हैं और अपनी जिंदगी बचा सकते हैं। स्किन कैंसर के स्टेज इस तरह से हैं-

स्टेज 0

यह स्किन कैंसर की बीमारी का सबसे प्रारंभिक स्टेज है, इस स्टेज में कैंसर कोशिकाएं आपके शरीर में किसी एक हिस्से को प्रभावित करती हैं। मेडिकल की भाषा में जब आपकी स्किन की सबसे ऊपरी लेयर एपिडर्मिस में कैंसर कोशिकाएं विकसित होती हैं, तो इसे स्टेज 0 कैंसर कहा जाता है। इस स्टेज में इलाज लेने से आप बीमारी को शरीर के एनी हिस्सों में फैलने से रोक सकते हैं।

स्टेज 1

स्टेज में 1 में कैंसर के पहुंचने का मतलब यह है कि अब आपके शरीर में प्रभावित हिस्से के आसपास कैंसर की कोशिकाएं विकसित हो रही हैं। इसमें ट्यूमर यानी कैंसर कोशिकाओं का अकार 2 सेमी तक हो सकता है। हालांकि स्टेज 1 में भी यह कैंसर लिम्फ नोड्स में नहीं फैला होता है।

स्टेज 2

स्टेज 2 स्किन कैंसर की समस्या को बहुत गंभीर माना जाता है। इस स्टेज में कैंसर के होने का मतलब यह है कि कैंसर कोशिकाओं का आकार 2 सेमी से बढ़कर 4 सेमी तक हो सकता है और मरीज की परेशानियां भी बढ़ जाती हैं।

स्टेज 3

स्टेज 3 कैंसर में आपके शरीर में कैंसर कोशिकाएं फैलनी शुरू हो जाती हैं। इसमें कैंसर सेल्स आपके ब्लड वेसेल्स, हेयर फोलिकल्स और हड्डियों तक फैलने लगते हैं। स्टेज 3 में कैंसर का होना बहुत गंभीर और घातक माना जाता है।

स्टेज 4 

स्टेज 4 को स्किन कैंसर का लास्ट स्टेज भी कह सकते हैं। इस स्टेज में कैंसर सेल्स लिम्फ नोड्स तक पहुंच जाते हैं और ट्यूमर का आकार भी 4 सेमी से ज्यादा हो जाता है। इस स्टेज में मरीज की परेशानियां भी बहुत ज्यादा होती हैं।

इसे भी पढ़ें: त्‍वचा पर लाल पपड़ीदार घाव है स्किन कैंसर के संकेत, जानें इसके प्रकार और बचाव के तरीके

स्किन कैंसर के लक्षण दिखते ही आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और सही समय पर उपचार जरूर लेना चाहिए। इलाज में देरी कैंसर के मरीजों के लिए घातक मानी जाती हैं। इसकी वजह से कैंसर की कोशिकाएं शरीर के अन्य हिस्से को प्रभावित करने लगती हैं और मरीज की स्थिति बेहद गंभीर हो जाती है। स्किन कैंसर की समस्या से बचने के लिए आपको खानपान और लाइफस्टाइल का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा सूरज की रोशनी में बहुत देर रहने से बचना चाहिए।  सूरज की हानिकारक अल्ट्रावॉयलेट किरणों से भी स्किन कैंसर का खतरा रहता है। 

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer