थकान और सांस फूलने जैसे लक्षण हो सकते हैं फेफड़ों की कमजोरी का संकेत, जानें इसका कारण और इलाज

अगर सीढ़ी चढ़ते समय आपकी सांस फूल रही है या आपको ज्यादा खांसी आ रही है या फिर सांस संबंधी कोई भी परेशानी है तो, आप के फेफड़े कमजोर हो सकते हैं।

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 17, 2021Updated at: Jul 19, 2021
थकान और सांस फूलने जैसे लक्षण हो सकते हैं फेफड़ों की कमजोरी का संकेत, जानें इसका कारण और इलाज

सांस लेने में दिक्कत (Shortness of Breathing) आजकल के लाइफस्टाइल के साथ बहुत ही कॉमन है। अगर आपको सांस लेने में दिक्कत (Shortness of Breathing) महसूस होती है तो हो सकता है आप पहले के मुकाबले बहुत ओवर वेट हो गए हों या आप को कोई गंभीर समस्या हो। हमारे एक्सपर्ट डा. एस.एस. सिबिया, कार्डियोलॉजिस्ट एंड डायरेक्टर्, सिबिया मेडिकल सेंटर, लुधियाना के अनुसार यह समस्या उन लोगों को भी होती है जिन्हें अस्थमा होता है या जिन्हें बहुत सी हृदय संबंधी बीमारियों होती हैं। अगर आपको भी ऐसे ही सांस लेने में दिक्कत (Shortness of Breathing) होती है तो अपने फेफड़ों की जांच कराएं। हो सकता है कि आपके फेफड़ों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन ना मिल रहा हो। सामान्य से लेकर यह गंभीर स्थिति भी हो सकती है। 

breathing_problem_inside2

अगर आपकी हेल्थ ठीक है, तो सांस लेने में दिक्कत (Shortness of Breathing) होना निम्न कारणों की वजह से भी हो सकता है। 

  • -आपने बहुत अधिक थकान वाली एक्सरसाइज कर ली हो।
  • -बाहर का तापमान बहुत अधिक बढ़ गया हो
  • -एयर क्वालिटी बहुत खराब हो गई हो
  • -आप मोटापे के शिकार हों
  • -चोकिंग
  • -कार्बन मोनोऑक्साइड प्वाइजनिंग
  • -आपको किसी चीज से एलर्जिक रिएक्शन हो गया हो।

कब है गंभीर स्थिति (Serious Condition)

  • -जब आप बेहोश हो जाते हैं।
  • -जब आपकी छाती में दर्द होता है।
  • -जब आपका जी घबराने लगता है।

लेकिन सांस लेने में दिक्कत आपको तब भी हो सकती है जब आपको सांस लेने के लिए प्रयाप्त हवा नहीं मिल रही हो। यह अचानक से भी हो सकता है और कई महीनों या हफ्तों में भी हो सकता है। आपको चलते समय, सीढियां चढ़ते समय, भागते समय या केवल बैठने से ही सांस लेने में दिक्कत हो सकती है।

सांस लेने में होने वाली दिक्कत के कारण (Causes)

अधिकतर केसों में यह स्थिति हृदय और फेफड़ों में किसी बीमारी के कारण होती है। आपका हृदय और फेफड़े आपके शरीर के हर भाग तक ऑक्सीजन पहुंचाते हैं और कार्बन डाइऑक्साइड को रिलीज करते हैं। इन दोनों में से अगर किसी के साथ समस्या हो जाती है तो आपको सांस लेने में दिक्कत होती है। कुछ समय के लिए होने वाली दिक्कत के कारण  

  • -अस्थमा
  • -लो ब्लड प्रेशर
  • -न्यूमोनिया
  • -एनीमिया
  • -असामान्य धड़कन
  • -लंबे समय तक सांस लेने में दिक्कत के कारण 
  • -अस्थमा
  • -हृदय का सामान्य रूप से काम न कर पाना।
  • -मोटापा।
  • -अन्य प्रकार की फेफड़ों से जुड़ी समस्या।

इसे भी पढ़ें :  डायबिटीज, हार्ट और सांस के मरीजों के लिए फायदेमंद है राजयोग, जानें इस योग को करने का तरीका और फायदे

सांस लेने में दिक्कत के लक्षण या संकेत (Symptoms of Shortness of Breathing)

  • आपके पैरों या टखनों में सूजन आ जाना।
  • जब आप सीधे लेटते हैं तो सांस लेने में दिक्कत होना।
  • बहुत तेज बुखार, ठंड लगना और बुखार होना।
  • होंठ या अंगूठों का नीला पड़ना।
  • जब आप सांस लेते हैं तो सीटी की आवाज आना।
  • इन्हेलर के बाद भी अगर आप सांस लेते हैं तो भी सांस न आना।
  • आधे घंटे के बाद भी सांस का अच्छे से न आ पाना।

इस स्थिति के रिस्क फैक्टर कौन कौन से हैं? (Risk Factors)

  • मसल्स का कमजोर हो जाना।
  • हिमोग्लोबिन का कम होना।
  • एक्सरसाइज न करना या आउट ऑफ शेप हो जाना।

इसे किस प्रकार पहचाना जा सकता है (How to Recognise)

अगर आप सांस लेने में दिक्कत से परेशान हो कर डॉक्टर के पास जाते हैं तो वह इस स्थिति का जायजा लेने के लिए बहुत से टेस्ट और स्क्रीनिंग कर सकते हैं जिनमें से कुछ कॉमन स्कैन का नाम है : 

  • चेस्ट इमेजिनिंग स्कैन, 
  • लंग फंक्शन टेस्ट, 
  • ब्लड टेस्ट आदि।

इसे भी पढ़ें : बच्चों में भी हो सकती हैं सांस से जुड़ी ये 6 गंभीर बीमारियां, जानें इनके बारे में

उपचार क्या है (How To Treat)

इसको ठीक करने के लिए आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए जो आपके अस्थमा को और अधिक बढ़ा रही हो।

  • धूम्रपान बंद कर दें।
  • ऑक्सीजन का प्रयोग करें।

अगर आपको अचानक से सांस लेने में समस्या आती है और यह कुछ घंटों में ठीक नहीं होती तो डॉक्टर के पास जानें में देरी न करें।

Read more articles on Other-Diseases in Hindi

Disclaimer