कमर के दाहिने साइड में दर्द के पीछे हो सकते हैं ये 5 कारण, जानें बचाव के उपाय

कमर के दाहिने साइड में दर्द के कुछ गंभीर कारण हो सकते हैं। आइए जानते हैं इसके कारण और बचाव के उपाय। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Mar 18, 2022 12:00 IST
कमर के दाहिने साइड में दर्द के पीछे हो सकते हैं ये 5 कारण, जानें बचाव के उपाय

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

कमर दर्द हर किसी को परेशान करती है। लेकिन हर बार इसे हल्का समझ कर नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार कमर के किसी खास साइड में दर्द होना किसी गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है। जी हां, दरअसल शरीर के दाहिने हिस्से में शरीर के कई जरूरी अंग होते हैं। जैसे कि लिवर, गोलब्लैडर, किडनी, कॉलन और छोटी आंत। ऐसे में इन किसी भी अंग में समस्या होने पर आपके दाहिने कमर में दर्द हो सकता है। इसके अलावा भी कमर के दाहिने हिस्से में दर्द (Right Side Back Pain Causes) के कई और कारण भी हो सकते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से। 

inside_kamardrd

कमर के दाहिने साइड में दर्द का कारण-Right Side Back Pain Causes

1. इंटरवर्टेब्रल डिस्क डिजनरेशन  (Intervertebral disc degeneration)

इंटरवर्टेब्रल डिस्क डिजनरेशन एक सामान्य स्थिति है जिसमें रीढ़ की हड्डियों को सहारा देने वाली डिस्क खराब हो जाती है। इसकी वजह से कोशिकाओं के बीच घर्षण बढ़ जाता है और कमर के दाहिने साइड में दर्द महसूस होता है। इस दौरान पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियां तनावग्रस्त हो जाती हैं जिसके कारण शरीर में कई बार सूजन भी महसूस होती है। सूजन से मांसपेशियों में ऐंठन होती है जिसके परिणामस्वरूप दर्द हो सकता है।

2. स्पाइन से जुड़ी दिक्कतें

रीढ़ की हड्डी से जुड़ी गड़बड़ियों के कारण भी कई लोगों को पीठ के निचले हिस्से में दर्द और खास कर कि दाहिने हिस्से में दर्द होता है। ये चोट या फिर स्पाइन से जुड़ी कुछ खास समस्याओं के कारण हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें: शरीर में सूजन क्यों आती है? डॉक्टर से जानें इसके 6 कारण और बचाव के उपाय

3. साइटिका

साइटिक नर्व में कंप्रेशन के कारण भी पीठ के दाहिने हिस्से और खास कर कि कमर में दर्द होता है । यह तंत्रिका है जो आपके नितंबों और आपके पैर के पिछले हिस्से से होकर गुजरती है। आमतौर पर एक हर्नियेटेड डिस्क, बोन स्पर, या स्पाइनल स्टेनोसिस के कारण होता है जो साइटिक नर्व को नुकसान पहुंचाता है। साइटिका आमतौर पर शरीर के केवल एक तरफ को प्रभावित करती है। यह एक बिजली या जलन कम पीठ दर्द का कारण बनता है जो आपको उठने, बैठने और सोने के दौरान तेजी से महसूस हो सकता है।  

inside_nervepain

4. हर्नियेटेड डिस्क

हर्नियेटेड डिस्क तब होती है जब आपकी कोशिकाओं में अचानक से चोट लग जाती है या फिर सुन्नता या कमजोरी होती है। इसमें  उभड़ा हुआ डिस्क अक्सर नसों पर दबाव डालता है, जिससे दर्द, सुन्नता और कमजोरी होती है। हर्नियेटेड डिस्क भी साइटिका का एक सामान्य कारण है। हर्नियेटेड डिस्क चोट के कारण हो सकती है और जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे वे अधिक सामान्य होते जाते हैं क्योंकि डिस्क स्वाभाविक रूप से खराब हो जाती हैं। इस तरह आपको अगर हर्नियेटेड डिस्क की शिकायत है तो आप हमेशा कमर के दाहिने साइड में दर्द से परेशान रह सकते हैं।

5. कुछ गंभीर रोगों के कारण

गंभीर रोगों जैसे कि गुर्दे में संक्रमण,पथरी,पनेक्रियाज से जुड़ी समस्याओं में भी कमर के दाहिने साइड में दर्द होता है। इसके अलावा स्त्री रोग संबंधी विकार जैसे एंडोमेट्रियोसिस और फाइब्रॉएड में भी कमर के दाहिने हिस्से में दर्द होता है।

इसे भी पढ़ें: Ocular Hypertension: ऑक्युलर हाइपरटेंशन क्या है? जानें आंखों से जुड़ी इस बीमारी के लक्षण, कारण और इलाज

कमर के दाहिने साइड में दर्द से बचाव के उपाय

कमर के दाहिने साइड में दर्द होने पर आप कुछ चीजों को कर सकते हैं। लेकिन सबसे पहले तो आपको आराम करना है। क्योंकि ये प्रेशर को कम करेगा और दर्द को कम करेगा। -अपने रोज के परेशान करने वाले ज़ोरदार गतिविधि से एक या दो दिन की छुट्टी लें।

  • - ऐसी गतिविधियों से बचें या कम करें जो आपके दर्द को बढ़ा दें।
  • -इस दौरान बर्फ की सिकाई करें। इसके अलावा आप आप गर्म चीजों से सिकाई कर सकते हैं। दरअसल, गर्मी ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ा सकती है और मांसपेशियों के तनाव को कम कर सकती है।

इसके अलावा अपने डॉक्टर से मिलें। अपने दर्द के कारणों की जांच करवाएं और इस समस्या का इलाज करवाएं। साथ ही ध्यान रखें कि कमर के दाहिने हिस्से के इस दर्द को लंबे समय तक के लिए नजरअंदाज ना करें। समय रहते ही डॉक्टर को दिखाएं और अपना सही से इलाज करवाएं।

all images credit: freepik

Disclaimer