डिलीवरी के लिए अस्पताल का चुनाव कर रहे हैं? ध्यान रखें ये 2 बातें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 23, 2018
Quick Bites

  • अस्पताल का चुनाव करते समय बरतें सावधानी।
  • सही डॉक्टर के साथ गर्भवती सहज महसूस करती है।
  • प्रसव के समय प्राइवेसी की आवश्‍यकता पड़ती है।

मां बनना हर औरत का सपना होता है। जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उसकी चाहत होती है कि जल्दी से जल्दी वो अपने बच्चे को अपनी गोद में लें। लेकिन उससे पहले भी हमें कई चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। आजकल लोगों की जितनी बिजी लाइफ है उसमें हर कोई अपने आप में ही बिजी रहता है। लेकिन अगर आप गर्भवती हैं तो अस्पताल का चुनाव करते वक्त अपनी बिजी लाइफ को जरा भी आड़े ना आने दें। क्योंकि कई बार छोटी सी गलती भी बड़ी समस्या का रूप ले सकती है। आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं जिन्हें आपको डिलीवरी के वक्त अस्पताल का चुनाव करने के लिए ध्यान रखनी चाहिए। 

अगर आप शहर में अपने सिर्फ अपने पति के साथ रहती हैं तो आप इस बारे में अपने फैमिली डॉक्टर से बात कर सकती हैं। वो आपको सही और अच्छी सलाह देगा। जिसके आधार पर आप अच्छे से अस्पताल में गुणवत्तापूर्ण इलाज करा सकती हैं। एक डॉक्टर को अपने काम में माहिर होने के साथ-साथ काफी संवेदनशील भी होना चाहिए ताकि वह अपने गर्भवती के किसी प्रकार के भय और संशय को कम कर सके और उसके अंदर उठने वाले सवालों का जिज्ञासओं को शांत कर सके। ऐसे डॉक्टर के साथ मरीज काफी सहज महसूस करती है जिससे गर्भावस्था का यात्रा तनाव मुक्त और सरल बन जाता है।

इसे भी पढ़ें : गर्भवती शिशु की खुशी में ना करें पति को इग्नोर

अस्पताल का रिकॉर्ड हो अच्छा

जब भी अस्पताल का चुनाव करें तो पहले उसका थोड़ा बहुत इतिहास पढ़ लें। अगर सब कुछ पॉजिटिव है तो समझ लें कि आपने सही अस्पताल का चुनाव किया है। ऐसे में आधा से अधिक तनाव और संशय तब समाप्त हो जाता है जब आप किसी अच्छे से डॉक्टर के पास पहुंच जाते है। आप की फैमिली लेडी डॉक्टर या प्रसव रोग विषेशज्ञ अस्पताल के चयन करने के विषय में सही सलाह देगी। हमेशा अस्पताल का चुनाव करते समय निम्नलिखित चीजों का ख्याल रखें।

घर से ज्यादा दूरी ना हो

आप के घर के नजदीक का अस्पताल हमेशा आपके लिए सुविधाजनक और फायदेमंद साबित होगा। गर्भावस्था के दौरान अचानक होने वाले किसी भी असहजता और समस्या के समय जल्दी और आसानी से अस्पताल पहुंचा जा सकता है।

आधुनिक सुविधाओं से हो लैस

प्रसव के अंतिम समय में बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। एक अच्छे अस्पताल में आधुनिक सुविधाओं से लैस मातृत्व युनिट, 24 घंटे इमरजेंसी सेवा और ब्लड बैंक  की सुविधा होनी चाहिए ताकि कभी भी किसी भी आपात स्थिति से निपटा जा सके। अस्पताल में आईसीयू और इंक्यूबेटर सहित बच्चों के अलग वार्ड जैसी सुविधाएं भी होनी चाहिए । इसके अलावा न्यू बार्न बच्चे और मां की देखभाल करने के लिए प्रशिक्षित डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की टीम भी होनी चाहिए। इन सुविधाओं के आधार पर प्रसव को आसान और खतरों से मुक्त बनाया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान हर महीने बदलते हैं लक्षण, जानिये क्या हैं ये

साफ-सफाई जरूर हो

सस्ते के चक्कर में किसी ऐसे अस्पताल का चुनाव ना कर लें जहां बिल्कुल भी सफाई ना हो। हाइजिन और साफ–सफाई का मुद्दा आपके और आप के बच्चे के लिए निहायत ही महत्वपूर्ण है। अस्पताल का चुनाव करते समय देख ले कि वार्ड का कमरा कितना बड़ा है, बेड आदि किस स्थिति में हैं, हवा और रोशनी ठीक से कमरे में पहुंचती है या नहीं? यह निश्‍चित है कि प्रसव के समय आप को प्राइवेसी की आवश्‍यकता पड़ेगी। अगर आप प्रसव के लिए प्राइवेसी और व्यक्तिगत स्थान चाहती हैं तो इस संबंध में पहले से ही अपने डाक्टर या नसिं‍र्ग स्टाफ से बात कर लें।

अस्पताल का माहौल हो अच्छा

आपके अस्पताल का माहौल आपके लिए शांतिमय और आरामदायक होना चाहिए। किसी–किसी महंगे अस्पताल में अलग–अलग रेट पर घर जैसी सुविधाओं से सुसज्जित कमरे भी होते है जिसे अतिरिक्त भुगतान करके प्राप्त किया जा सकता है। जहां आप अपने साथ अपने बच्चे और पति को भी लाकर रख सकती है और इस क्षण और अनुभव को काफी आरामदायक और यादगार बना सकती है। अस्पताल के स्टाफ को भी काफी धैर्यवान, सहनशील और खातिरदारी करने वाले स्वभाव का होना चाहिए ताकि प्रसव के पहले और बाद वो आप का सही तरीके से ख्याल कर सके।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On PregnancyIn Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES2490 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK