कैसे की जाती है प्लास्टिक सर्जरी और कब पड़ती है जरूरत? प्लास्टिक सर्जन से जानें इससे जुड़ी सभी जरूरी बातें

प्लास्टिक सर्जरी से लोग अपने शरीर के अंगों को जैसा चाहे वैसा रूप दे पाते हैं। प्लास्टिक सर्जन से जानते हैं क्या है प्लास्टिक सर्जरी, कितनी है कीमत।

Satish Singh
Written by: Satish SinghUpdated at: Aug 17, 2021 16:18 IST
कैसे की जाती है प्लास्टिक सर्जरी और कब पड़ती है जरूरत? प्लास्टिक सर्जन से जानें इससे जुड़ी सभी जरूरी बातें

आज के समय में प्लास्टिक सर्जरी का चलन काफी ज्यादा हो गया है। पहले लोग दुर्घटना या कोई घटना के बाद प्लास्टिक सर्जरी कराते थे। लेकिन अब शरीर के जन्मजात विकार दूर करने के लिए लोग प्लास्टिक सर्जरी कराते हैं। इस संबंध में जमशेदपुर के महात्मा गांधी मेमोरियल अस्पताल (एमजीएम अस्पताल) के सर्जन डॉ. सरवार आलम ने विस्तार से बताया। तो आइए इस आर्टिकल में हम प्लास्टिक सर्जरी कैसे की जाती है, इस सर्जरी की जरूरत कब और किसे पड़ती है। प्लास्टिक सर्जन से इसकी सभी जरूरतों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

सामान्य सर्जरी से महंगी है यह क्रिया

प्लास्टिक सर्जन डॉक्टर सरवार ने कहा- प्लास्टिक सर्जरी महंगी प्रक्रिया है। यह अनुवांशिक विकार व जन्मजात विकार को समाप्त करने में उपयोगी होता है। प्लास्टिक सर्जरी शरीर के विभिन्न अंगों जैसे आंख, होठ, नाक, ब्रेस्ट इत्यादि पर की जाती है। प्लास्टिक सर्जरी कराने की औसतन लागत 5 लाख से 50 लाख तक या इससे ज्यादा खर्च हो सकता है। प्लास्टिक सर्जरी करवाने में बहुत ही अधिक पैसा खर्च होता है। आम आदमी इसे नहीं करवा सकते हैं। इसके अलावा इसमें काफी समय लगता है और आपको अपने काम से काफी छुट्टी लेनी पड़ सकती है। इसके कुछ दिन बाद तक भी आपको काफी केयर करना होता है। प्लास्टिक सर्जरी एक ऐसी मेडिकल प्रक्रिया है, जो आपको सुंदर दिखाने के लिए आपकी शरीर की बनावट को बदल सकता है। 

प्लास्टिक सर्जरी के हैं नुकसान

यह बात सच है कि कई फिल्म स्टार के साथ आम लोग ज्यादा सुंदर दिखने की चाहत में प्लास्टिक सर्जरी करवाते हैं। ताकि वो आकर्षक लुक हासिल कर सकें। प्लास्टिक सर्जरी से नुकसान भी होता है। ज्यादातर प्लास्टिक सर्जरी चेहरे के अंगों के पास की जाती है। इससे चेहरे के आसपास के अंग की मांसपेशियां खराब हो जाती हैं। दवा रिएक्शन करने से इंसानी शरीर पर प्रभाव पड़ता है। सर्जरी के बाद कई बार इसके शरीर पर निशान रह जाते हैं। कभी-कभी सर्जरी सफल नहीं हो पाती है। जो परिणाम लोग चाहते प्लास्टिक सर्जरी के बाद मिले वह नहीं मिलता है। यह तमाम प्लास्टिक सर्जरी के साइड इफेक्ट्स में आता है। 

Plastic Surgery

सर्जरी के नुकसान पर एक नजर

  • मांसपेशियों को खराब करता है : प्लास्टिक सर्जरी से मांसपेशियों और त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है। कई बार प्लास्टिक सर्जरी के कारण जिस अंग पर सर्जरी हो रही है उसकी मांसपेशियां खराब हो जाती है।
  • ज्यादा खर्च आना : यह सर्जरी काफी महंगी होती है। इसे मीडिल क्लास के लोग नहीं करा सकते हैं। पैसे वाले लोग इसे ज्यादातर कराते हैं।
  • दवा का रिएक्शन हो सकता है : इस सर्जरी के बाद उपभोग की जाने वाली दवा कभी-कभी रिएक्शन करती है।
  • सर्जरी के निशान बने रहना : सर्जरी से अंग पर निशान बन जाते हैं।
  • मनचाहा परिणाम नहीं मिल पाता है : कभी-कभी इस सर्जरी को कराने से जैसा परिणाम हम चाहते हैं, वह नहीं मिल पाता है। सर्जरी असर तो करता है, पूरी तरह अंग में बदलाव कभी-कभी नहीं कर पाता।

प्लास्टिक सर्जरी के फायदे

  • मनचाहा बदलाव : इससे हम अपने शरीर में मनचाहा बदलाव ला सकते हैं।
  • खूबसूरती : प्लास्टिक सर्जरी से आप अपने चेहरे को वैसे दिखा सकते हैं, जैसा दिखाना चाहते हैं।
  • जवान दिखना : प्लास्टिक सर्जरी कराने से आप जवान दिखते हैं।
  • आत्मविश्वास का बढ़ना : प्लास्टिक सर्जरी से आप अपने मन मुताबिक शरीर के अंग में बदलाव लाते हैं। इससे आत्मविश्वास बढ़ता है।
  • जन्मजात व अनुवांशिक विकार को नष्ट करता है : इससे बर्थमार्क, कटे-फटे होठ, अतिरिक्त अंगुलियां इत्यादि जन्मजात विकार को इससे खत्म किया जा सकता है।
Cosmetic Surgery

इन अंगों के लिए की जाती है प्लास्टिक सर्जरी

  • आंख की प्लास्टिक सर्जरी : इस सर्जरी से हम आंख के आस-पास की त्वचा को हटाने के लिए करते हैं। इससे आंख की सुंदरता बढ़ती है।
  • ब्रेस्ट एनहांसमेंट प्लास्टिक सर्जरी : कभी-कभी महिलाएं ब्रेस्ट के साइज से खुश नहीं रहती हैं। प्लास्टिक सर्जरी से ब्रेस्ट संतुलित होता है और अच्छा दिखता है।
  • लिप प्लास्टिक सर्जरी : लिप प्लास्टिक सर्जरी ज्यादा चलन में है। अधिकांश समय हम देखते हैं कि कुछ लोग अपने पतले लिप से खुश नहीं होते हैं। तब सर्जरी कराकर होंठों को बेहतर रूप दे सकते हैं।
  • लेज़र हेयर रिमूवल:  इस सर्जरी से शरीर पर मौजूद अनचाहे बालों को हटा सकते हैं।
  • लिपोसक्शन सर्जरी : इस सर्जरी से शरीर में जमा अतिरिक्त वसा कम किया जाता है। मोटापे से ग्रसित लोग इस प्रकार की सर्जरी करवाते हैं।

सर्जरी के हैं दो प्रकार 

कॉस्मेटिक सर्जरी

एक्सपर्ट बताते हैं कि कॉस्मेटिक सर्जरी सुंदर दिखने के लिए की जाती है। इसमें स्तन के साइज को कम करना, पेट को कम करना, नाक को फिर से आकार देना है, अनचाहे बालों को हटाना, होंठ को अच्छा करना इत्यादि शामिल है। इसे कॉस्मेटिक सर्जरी से किया जाता है। इससे शरीर के किसी हिस्से को पुनः आकार दिया जाता है।

रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी

इससे सर्जरी शरीर के क्षतिग्रस्त अंग या हिस्से को ठीक किया जाता है। इस सर्जरी से व्यक्ति का अंग बेहतर हो जाता है। स्किन जलना, चोट, बर्थमार्क इत्यादि हटाने के लिए इस सर्जरी को किया जाता है।

प्लास्टिक सर्जरी है आधुनिकता की ओर एक कदम

आज से कुछ साल पहले तक किसी ने यह सोचा भी नहीं होगा कि वो अपने नाक, आंख, कान सहित अन्य अंग में मनचामहा परिवर्तन ला सकता है। लेकिन आज के समय में पैसे हैं तो सब संभव है। वैसे शुरुआती दौर में प्लास्टिक सर्जरी सिर्फ ट्रामा या एक्सीडेंट होने की स्थिति में ही किया जाता था। लेकिन आज के दौर में सिनेमा स्टार से लेकर वैसे लोग जिनके पास पैसे हैं वो इस सर्जरी को करवाते हैं। यदि किसी अच्छे प्रोफेशनल सर्जन से प्लास्टिक सर्जरी करवाएं तो बेहतर परिणाम आ सकते हैं। इसलिए यदि आप भी प्लास्टिक सर्जरी करवाने की सोच रहे हैं तो अच्छे डॉक्टर से जांच करवाना चाहिए।

Read More Articles On Health Diseases In Miscellaneous

Disclaimer