#MondayMotivation: सुचेता पाल से जानें, प्रेग्‍नेंसी के आखिरी महीनों में होने वाले बदलाव और देखभाल के टिप्‍स

गर्भावस्था एक ऐसा समय है, जब महिलाओं को कई अनोखे और दिल को छूं लेने वाले अनुभव होते हैं। इस समय उन्‍हें धैर्य के साथ साहस की भी आवश्यकता होती है। 

सुचेता पाल
Written by: सुचेता पालPublished at: Jan 20, 2020
#MondayMotivation: सुचेता पाल से जानें, प्रेग्‍नेंसी के आखिरी महीनों में होने वाले बदलाव और देखभाल के टिप्‍स

आप सोचते हैं कि आपका पेट किसी भी तरह से बड़ा नहीं होगा, तो आप समय के साथ अचानक अपनी तीसरी तिमाही की अवस्‍था में पहुंचते हैं। यह तब होता है, जब आपको पता चलता है कि आप एक नई जान को जन्म देने के इतने करीब हैं। माता-पिता के लिएं संतान सुख, जीवन के सभी सुखों में से बड़ा सुख माना जाता है। लेकिन इस खुशी के पल को केवल महिलाएं ही ज्‍यादा बेहतर तरीके से अनुभव कर सकती हैं कि इस विशेष तिमाही के दौरान शरीर में क्या होता है। मैं अब इस नए आनंद की देखभाल करने में व्यस्त हूं, जिसे ईश्वर ने हमें आशीर्वाद के रूप में दिया है, लेकिन मेरे तीसरी तिमाही के दौरान, जो हुआ उसे मैं कभी नहीं भूल सकती। आप सभी की मदद करने के लिए यहाँ कुछ महत्वपूर्ण टिप्‍स और बदलाव मैं आपको बता रही हूं, जो मैंने अपनी तीसरी तिमाही के दौरान अनुभव किए।

अचानक ऊर्जा के स्तर में गिरावट

Energy Level Low

भले ही मैं अपनी गर्भावस्था के दौरान सक्रिय थी, लेकिन एक समय ऐसा भी आया, जब मुझे अचानक भारी महसूस हुआ। खुद को हर चीज के लिए घसीटना पड़ता था और चलने में भी मन नहीं लगा। मैं केवल इतना ही करना चाहती थी कि मेरे शरीर को राहत मिले। मैं अपने बाहर निकलते हुए पेट की वजह से अपने एनर्जी के लेवल में भारी गिरावट आती महसूस करती थी। यह तब था जब मुझे एहसास हुआ कि मेरी गर्भावस्था के अन्य सभी चरणों में 3 तिमाही सबसे कठिन था। मैं स्ट्रेचिंग पर कुछ ऑनलाइन कार्यक्रमों से भी गुजरी, जिससे मुझे काफी हद तक असुविधा से बाहर आने में मदद मिली।

एक्सरसाइज बॉल से मुझे मदद मिली 

मुझे अपनी गर्भावस्‍था की तीसरी तिमाही में सबसे ज्यादा, जिससे मदद मिली, वह थी एक्सरसाइज बॉल। यह मेरे निरंतर साथ थी, क्योंकि मुझे इससे दर्द से इतनी राहत मिली और मेरे बड़े पेट के कारण असुविधा में मदद मिली। यह एक्‍सरसाइज बॉल मेरी गो-टू कम्फर्ट ज़ोन थी क्योंकि मेरे लिए पूरी तरह से बाहर निकले पेट के साथ बैठना बहुत आसान था। मुझे उस समय सबसे अधिक आराम मिला, जब मैं पूरी तरह से अलग मूड में होती थी।  मैं यह कहना चाहती हूं कि आप सभी गर्भवती महिलाओं को अपने दिल की बात सुननी चाहिए और सब कुछ करना चाहिए, जो आपको ऐसे समय में खुश करता है, जब आप सबसे अधिक शारीरिक बदलावों से गुजर रहे होते हैं।

Ball Exercise

मूविंग की तरह महसूस नहीं किया

मेरी गर्भावस्था की शुरुआत तीसरी तिमाही में इसके विपरीत थी। जैसा कि आप सभी जानते हैं, शुरुआती समय ज़ुम्बा के बारे में था, लोगों से मिलना, हर किसी से बात करना, अपने अनुभवों को लोगों के साथ साझा करना, लेकिन तीसरी तिमाही ने मुझे आश्चर्यचकित कर दिया। उस समय, मेरा मन नहीं करता था कि मैं एक इंच आगे बढ़ूँ, व्यायाम या डांस करना छोड़ दूं। मैं बस एक ही जगह पर बैठना चाहती थी, किसी से मिलना नहीं, किसी से बात नहीं करना था। मैंने भी उस समय लोगों को मिलने से मना करना शुरू कर दिया था। 

मेरा दिमाग तेज हो गया 

मैं अधिक जोर नहीं दे सकती थी, लेकिन मेरे दिमाग में तीसरी तिमाही के दौरान इस तरह के महान विचार थे। मुझे लगा जैसे मैंने पिछले कुछ वर्षों में जो कुछ किया उससे बेहतर योजना बना सकती हूं। महिलाओं को मेरा सुझाव है कि उनके दिमाग का अधिक से अधिक उपयोग करें क्योंकि उस समय शरीर आपको ज्यादा कुछ नहीं करने देगा।

बचपन के दिनों में मैं जो खाया करती मैनें वही खाना शुरू कर दिया

Eating Healthy Foods

मेरी तीसरी तिमाही ने मुझे उन खाद्य पदार्थों की ओर वापस ले आयी, जो मुझे बचपन में खाने में बहुत पसंद थे। रात में हॉर्लिक्स, क्रीम की एक मोटी परत के साथ एक स्टेपल और दूध। मैंने एक मस्जिद में रोज होने वाली प्रार्थनाओं की आवाज़ में शांति और एकांत ढूंढना शुरू कर दिया, जैसा कि मुझे पसंद था जब मैं छोटी थी। क्‍योंकि जहां मैं रहती थी, वहाँ एक मस्जिद थी। यह काफी सुखदायक आवाज थी, जिसने मुझे इसे झुकाए रखा और मुझे बहुत शांति दी।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि किसी को यह जानना होगा कि शरीर अंतिम तिमाही में काफी बदल जाता है और माता-पिता दोनों को बहुत कुछ सीखाता है। तो, यह सब आनंद लें कि बाद में क्या होता है, यह सबसे कीमती चीज है, जो हमेशा के लिए आपका जीवन बन जाती है। 

(Inputs from Sucheta's Official Instagram Account)

Read More Articles on Women's Health In Hindi

Disclaimer