सिक्किम में हैं बीपी से प्रभावित सबसे ज्यादा मरीज, हेल्थ मिनिस्ट्री के सर्वे में खुलासा, जानें बचाव के टिप्स

हाइपरटेंशन स्वास्थ्य से जुड़ी एक बड़ी चुनौती के रूप में उभर रहा है, हेल्थ मिनिस्ट्री के सर्वे के मुताबिक देश में सिक्किम इससे सबसे ज्यादा प्रभावित है।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 17, 2022Updated at: May 17, 2022
सिक्किम में हैं बीपी से प्रभावित सबसे ज्यादा मरीज, हेल्थ मिनिस्ट्री के सर्वे में खुलासा, जानें बचाव के टिप्स

हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर स्वास्थ्य से जुड़ी एक बड़ी चुनौती बनकर सामने आ रहा है। दुनियाभर में हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। हाइपरटेंशन एक गंभीर समस्या है जिसे नजरअंदाज करने से आपको दिल से जुड़ी गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। एक आंकड़े के मुताबिक देश में होने वाली मौतों में गैर संचारी मौतों का आंकड़ा लगभग 65 प्रतिशत है जिसमें हाइपरटेंशन एक बड़ा कारण है। दुनियाभर में हाइपरटेंशन की समस्या के खिलाफ जागरूकता फैलाने और लोगों को इसके प्रति सचेत करने के लिए विश्व उच्च रक्तचाप दिवस यानी वर्ल्ड हाइपरटेंशन डे (World Hypertension Day) मनाया जाता है। हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा किये गए राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 (एनएफएचएस-2019-21) में यह बताया गया है कि देश में हाइपरटेंशन की वजह से लोग बहुत बड़े पैमाने पर प्रभावित हो रहे हैं। सर्वे में यह कहा गया है कि देश में सिक्किम राज्य में सबसे ज्यादा लोग हाइपरटेंशन से प्रभावित हैं। इसके अलावा शहरों, पूर्वोत्तर और पश्चिम के राज्यों की तुलना में दक्षिण भारत के लोगों में यह समस्या ज्यादा है। आइये जानते हैं पूरी रिपोर्ट।

सिक्किम है सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 (एनएफएचएस-2019-21) के सर्वेक्षण में सामने आये आंकड़ों के मुताबिक सिक्किम में सबसे ज्यादा लोग हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित हैं। सिक्किम के बाद दूसरे स्थान पर पंजाब है जहां पर आंकड़ों के मुताबिक लगभग 37 प्रतिशत पुरुष और 31.2 प्रतिशत महिलाएं हाइपरटेंशन से प्रभावित हैं। हेल्थ मिनिस्ट्री द्वारा किये गए सर्वे में यह कहा गया है कि सिक्किम में 34.4 प्रतिशत महिलाएं और 41.6 प्रतिशत पुरुष इस समस्या से प्रभावित हैं। इस सर्वे में कहा गया है कि कहीं न कहीं जानकारी के अभाव की वजह से लोग इस समस्या का शिकार हो रहे हैं। 

 World-Hypertension-Day

इसे भी पढ़ें : जानें हाई ब्लड प्रेशर और लो-ब्लड प्रेशर के लक्षणों में अंतर और इनसे बचाव के लिए जरूरी उपाय

जानें टॉप 10 राज्यों का हाल (Top 10 States Affected By Hypertension in India)

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण द्वारा किये गए वार्षिक सर्वेक्षण में यह कहा गया है कि देश में 15 साल से लेकर 19 साल की उम्र के लगभग 3.3 प्रतिशत बच्चियां और लगभग 4.6 प्रतिशत बच्चे इस समस्या से प्रभावित हैं। इसके अलावा 15 साल की उम्र से अधिक की लगभग 21 प्रतिशत महिलाओं में हाइपरटेंशन की समस्या है। वहीं लगभग 24 प्रतिशत पुरुषों में भी हाइपरटेंशन की समस्या देखने को मिली है। देश में सिक्किम के बाद पंजाब में हाइपरटेंशन से पुरुष और महिलाएं दोनों प्रभावित हैं। हाइपरटेंशन के मामले में देश के प्रमुख 10 राज्यों की स्थिति इस प्रकार से है।

1. सिक्किम - पुरुष 37%, महिलाएं 31.2%

2. पंजाब -  पुरुष 37.7%, महिलाएं 31.2% 

3. दिल्ली - पुरुष 32.7%. महिलाएं  24.1%

4. छत्तीसगढ़ - पुरुष 27.7%, महिलाएं 25%

5. हरियाणा - पुरुष 25.1 %, महिलाएं 21.0%

6. महाराष्ट्र - पुरुष 24.4%, महिलाएं 23.1%

7. मध्य प्रदेश - पुरुष 22.7%, महिलाएं 20.6%

8. झारखण्ड - पुरुष 22.6%, महिलाएं 17.8%

9. गुजरात - पुरुष 20.3%, महिलाएं 20.5%

10. बिहार - पुरुष 17.9%, महिलाएं 15.3%

67 फीसदी महिलाएं और 54 फीसदी पुरुष नही चेक करते ब्लड प्रेशर (Blood Pressure Checkup Ratio)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा किये गए सर्वे में चौंकाने वाले तथ्य सामने आये हैं। इस रिपोर्ट में यह कहा गया है कि लगभग 67 प्रतिशत महिलाएं और 54 प्रतिशत पुरुष अपना ब्लड प्रेशर चेक नहीं करते हैं। इसके अलावा सर्वेक्षण में यह भी कहा गया है कि लगभग 12 प्रतिशत महिला और 9 प्रतिशत पुरुषों को डॉक्टर हाइपरटेंशन होने की बात भी कह चुके हैं लेकिन इसके बावजूद भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। इस सर्वेक्षण के मुताबिक मोटापे की समस्या से प्रभावित लगभग 40 प्रतिशत पुरुषों में और लगभग 28 प्रतिशत महिलाएं हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित हैं।

इसे भी पढ़ें : हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो लाइफस्टाइल में करें ये 6 बदलाव, बीमारी को कंट्रोल करना हो जाएगा आसान

हाइपरटेंशन से बचाव के जरूरी टिप्स (Hypertension Prevention Tips in Hindi)

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या न सिर्फ बड़े और बुजुर्ग लोगों में तेजी से बढ़ रही है बल्कि इससे बच्चे भी तेजी से प्रभावित हो रहे हैं। हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार खानपान और जीवनशैली है। असंतुलित खानपान और निष्क्रिय जीवनशैली के कारण यह समस्या तेजी से लोगों में फैल रही है। हाइपरटेंशन की समस्या से बचाव के लिए खानपान की आदतों में बदलाव और हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाना चाहिए। जानें हाइपरटेंशन से बचाव के कुछ जरूरी टिप्स।

  • हेल्दी और संतुलित आहार का सेवन करें।
  • जंक फूड्स और अधिक ऑयली फूड्स का सेवन कम करें।
  • नियमित रूप से व्यायाम, योग आदि का अभ्यास करें।
  • रोजाना लम से कम 30 मिनट के लिए कार्डियो एक्सरसाइज करें।
  • नियमित रूप से ब्लड प्रेशर जरूर चेक करें।

हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर की समस्या स्वास्थ्य के लिए एक बड़ी चुनौती के रूप में उभर रही है। लाइफस्टाइल में सुधार और खानपान की आदतों में बदलाव कर आप इस समस्या से बच सकते हैं। समय रहते बचाव के लिए जरूरी कदम न उठाने पर आपको इसकी वजह से कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer