अस्थमा के उपचार से लेकर कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने तक, लहसुन के दूध में है ढेरों फायदे, जानिए सेवन का तरीका

अस्थमा के उपचार से लेकर कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने तक, लहसुन का दूध आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Jul 12, 2019
अस्थमा के उपचार से लेकर कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने तक, लहसुन के दूध में है ढेरों फायदे, जानिए सेवन का तरीका

क्या आपने लहसुन के दूध (Benefits of garlic milk) के बारे में सुना है? यह पोषण विशेषज्ञों का नया स्‍वास्‍थ्‍य मंत्र है। अस्थमा के उपचार से लेकर कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने तक, लहसुन का दूध आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। लहसुन फ्लेवोनोइड, एंजाइम और विटामिन जैसे सेलेनियम, मैंगनीज, विटामिन बी 6 और कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत है जो शरीर के कामकाज के लिए फायदेमंद होते हैं। 

 

लहसुन का दूध कैसे बनाएं 

सबसे पहले आप, 2-3 लहसुन की कलियां, 1 कप दूध, हल्दी पाउडर के 1/4 चम्मच, एक चुटकी काली मिर्च और 1 बड़ा चम्मच शहद को इकट्ठा कर के रख लें। इसे बनाने के लिए एक सॉस पैन में सबसे पहले दूध डालकर उसमें लहसुन की कलियां डालें। इसे उबाल लें। जब दूध उबलना शुरू हो जाए तो काली मिर्च और हल्दी पाउडर डालें। मिश्रण के ठंडा होने के बाद, दूध को फेंट लें और इसमें शहद मिलाएं। गर्म होने पर इस दूध को सर्व करें।

इसे भी पढ़ें: सिरदर्द से लेकर डायबिटीज और ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों में फायदेमंद है किचन में मौजूद ये 10 औषधियां 

लहसुन का दूध पीने के फायदे 

  • रात में एक गिलास लहसुन के दूध के सेवन से अस्थमा से तुरंत मुकाबला करने में मदद मिलेगी।
  • लहसुन के जीवाणुरोधी गुण इसे खांसी के लिए एक उत्कृष्ट उपाय बनाते हैं। सर्वोत्तम परिणामों के लिए लहसुन के दूध में एक चम्मच हल्दी डाली जाती है।
  • लहसुन सल्फ्यूरिक एसिड से युक्‍त होता है, जो टीबी के कीटाणुओं को मारने की क्षमता रखता है। लहसुन के उबले हुए दूध का काढ़ा तपेदिक के इलाज के लिए भी बेहतर होता है। 
  • निमोनिया को ठीक करने के लिए लहसुन के दूध का काढ़ा दिन में तीन बार पिएं।
  • एक हफ्ते तक रोजाना लहसुन का दूध पीने से एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिलती है और इससे शरीर में एचडीएल या अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है।
  • कहा जाता है कि लहसुन का दूध पीने से थक्कों के निर्माण को रोका जाता है, जिससे हृदय रोग नहीं होता है। 
  • रोज एक गिलास लहसुन का दूध पीने से महिलाओं और पुरुषों दोनों को इंफर्टीलिटी को दूर करने में मदद मिलती है।
  • लहसुन के दूध से पीलिया ठीक हो जाता है। लिवर के कामकाज को सुचारू रूप से करने के लिए रोजाना लहसुन का दूध पीने की सलाह दी जाती है।
  • लहसुन के एंटी इंफ्लामेट्री गुण और दूध की उच्च कैल्शियम की मात्रा गठिया के लक्षणों जैसे दर्द और सूजन को कम करने में मदद करती है।
  • सोने में परेशानी होती है तो आप सोने से पहले एक गिलास लहसुन का दूध पीने से अनिद्रा का इलाज किया जा सकता है। 

Read More Articles On Alternative Therapies In Hindi 

Disclaimer