क्यों पॉपुलर है कीटो डाइट? एक्सपर्ट से जानिए इसके फायदे और नुकसान

तेजी से वजन कम करने के लिए लोग कीटो डाइट का सहारा ले रहे हैं। यह कॉफी तेजी से पॉपुलर भी हो रहा है। आइए जानते हैं इस बारे में-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Dec 01, 2020
क्यों पॉपुलर है कीटो डाइट? एक्सपर्ट से जानिए इसके फायदे और नुकसान

बढ़ते वजन को कम करने के लिए लोग कई तरह के डाइट फॉलो करते हैं। इन्हीं डाइट में से एक है कीटो डाइट (Keto Diet)। पिछले कुछ सालों से कीटो डाइट का चलन काफी तेजी से बढ़ा है। बॉलीवुड स्टार्स से लेकर साधारण लोग कीटो डाइट के नियमों का पालन करते नजर आते रहते हैं। खासतौर पर महिलाएं कीटो डाइट (Keto Diet Plan) प्लान को पुरुषों की तुलना में अधिक फॉलो करती हैं। कीटो डाइट (Keto Diet) एक ऐसा डाइट है, जिसमें कार्बोहाइट्रेड युक्त आहार का सेवन कम कर दिया जाता है। इसे लो कार्ब्स (Low Carbs) या फिर लो फैट डाइट (Fat) के नाम से भी जाना जाता है। अगर आप इस डाइट प्लान से अबतक अंजान हैं, तो चलिए आज जानते हैं 

क्या है कीटो डाइट? (What is keto Diet)

कीटो डाइट एक ऐसा डाइट प्लान है, जिसमें कम कार्बोहाइट्रेड युक्त फूड्स को प्राथमिकता दी जाती है। इस डाइट को फॉलो करने से हमारे लिवर में कीटोन पैदा होता है, इस वदह से इसका नाम कीटोजेनिक डाइट रखा गया है। डायटिशियन स्वाती बाथवाल के अनुसार, अधिक कार्बोहाइट्रेड वाली चीजों के सेवन से शरीर में ग्लूकोज और इंसुलिन का उत्पादन काफी ज्यादा बढ़ जाता है। इस कारण शरीर में काफी ज्यादा फैट बढ़ने लगता है। वहीं, अगर हम कीटो डाइट फॉलो करते हैं, तो शरीर में कम फैट जमा होता है। इसका कारण है कि कार्बोहाइट्रेड का सेवन कम करने से हमारा शरीर फैट का इस्तेमाल उर्जा के रूप में करने लगता है। इस प्रक्रिया को कीटोसिस कहते हैं। इस डाइट में फैट का अधिक सेवन, प्रोटीन का मध्ययम और कार्बोहाइट्रेड वाली चीजों का कम सेवन किया जाता है। कीटो डाइट में अधिकतर लोग 5% कार्बोहाइट्रेड, 25 % प्रोटीन और 70 % फैट युक्त आहार का सेवन करते हैं। 

इसे भी पढ़ें - कीटो डाइट टाइप-2 डायबिटीज को किस तरह करती है कंट्रोल? जानिए एक्सपर्ट की राय

क्यों पॉपुलर है कीटो डाइट? (Why is keto diet popular?)

डायटिशियन स्वाती बाथवाल बताती हैं कि कीटो डाइट सॉट टर्म डाइट प्लान है। इस कारण से लोग इसे काफी ज्यादा पसंद करते हैं। इसके अलावा इसमें हमें वे सभी चीजें खाने के लिए मिलती हैं, जो अधिकतर लोगों को काफी ज्यादा पसंद होता है। जैसे- क्रीम, मलाई, मक्खन इत्यादि फैटयुक्त चीजें।  

कीटो में कौन-कौन से फूड्स खाए जाते हैं? (What foods are eaten in keto Diet?)

नारियल तेल - स्वाती बाथवाल बताती हैं कि कीटो डाइट में आप नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह कीटोजेनिक डाइट के लिए उपयुक्त माना जाता है। इस तेल में मध्यम-श्रृंखला ट्राइग्लिसराइड्स मौजूद होता है। यह वजन को कम करने में आपके लिए फायदेमंद है। 

एवाकाडो - वेजीटेरियन लोगों के लिए एवाकाडो काफी फायदेमंद होता है। 1 मध्यम आकार के एवाकाडो में लगभग 9 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। इसके अलावा इसमें हाई पोटैशियम होता है। यह विटामिन और खनिज से भरपूर होता है। 

अंडे - अगर आप अंडा खाते हैं, तो कीटो डाइट प्लान फॉलो करते समय इसे अपने नाश्ते में शामिल कर सकते हैं। अंडे में कार्बोहाइट्रेड की मात्रा काफी कम होती है। 1 मध्यम आकार के अंडे में सिर्फ 1 ग्राम कार्बोहाइट्रेड रहता है। वहीं, इसमें 9 ग्राम प्रोटीम होता है। कीटोजेनिक डाइट के लिए यह एक उत्तम फूड है। 

इसे भी पढ़ें- वजन घटाने वाली कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग पहुंचा सकती है आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान : शोध

मीट और चिकन - शाकाहारी लोगों के लिए कीटो डाइट काफी सही होता है। क्योंकि मीट और चिकन जैसी चीजों में कार्बोहाइट्रेड की मात्रा काफी कम होती है। इसके साथ ही यह खनिज और विटामिंस से भरपूर होता है। मीट और चिकन जैसे आहार में प्रोटीन और  फैट की अधिकता होती है। कीटो डाइट प्लान फॉलो करते समय आप मीट और चिकन को अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं।

सीफूड - कीटो डाइट प्लान फॉलो करते समय आप सीफूड्स को अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं। सल्मन और मछलियों में सेलेनियम, विटामिंस और पोटेशियम जैसे तत्व भरपूर रूप से होते हैं। वहीं, इसमें कार्ब की मात्रा बहुत ही कम होती है। इसलिए सीफूड्स को आप अपने कीटो डाइट प्लान का हिस्सा बना सकते हैं।

बेरीज - कीटो डाइट प्लान फॉलो करने वाले कई तरह के फलों का सेवन नहीं करते हैं। क्योंकि फलों में कार्ब्स की मात्रा अधिक होती है। लेकिन आप बेरीज को अपने डाइट प्लान में शामिल कर सकते हैं। बेरीज में कार्ब्स की मात्रा काफी कम होती है। इसके साथ ही इसमें फाइबर की अधिकता होती है। ब्लैकबेरीज और रसभरी जैसे बेरीज आप अपने डाइट प्लान में शामिल कर सकते हैं।

कीटो डाइट के फायदे (Benefits of Keto diet)

  • कीटो डाइट प्लान फॉलो करने वाले लोगों का वजन काफी तेजी से घटता है। 
  • फैट बर्न होने की वजह से शरीर में इंसुलिन की मात्रा भी कम होती है। इसके साथ ही कीटोयुक्त आहार में शर्करा की मात्रा भी काफी कम होती है। 
  • टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों के लिए कीटो डाइट फायदेमंद हो सकता है।
  • शरीर को मिलती है एनर्जी - कीटो डाइट प्लान फॉलो करने से शरीर को हाई एनर्जी मिलती है। 
  • मिर्गी के रोगियों के लिए भी कीटो डाइट प्लान काफी अच्छा माना जाता है। 
  • स्किन और मुंहासे जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में कीटो डाइट फायदेमंद है।
  • गुल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में कीटो डाइट हमारी मदद करता है। कार्बोहाइट्रेड की मात्रा कम और फैट की मात्रा अधिक लेने से खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर शरीर में कम होता है। 

कीटो डाइट के नुकसान (Side Effects of Keto Diet)

स्वाती बाथवाल बताती हैं कि काफी लंबे समय तक कीटो डाइट फॉलो सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। एक सामान्य व्यक्ति को सिर्फ 15 दिनों तक ही कीटो डाइट फॉलो करना चाहिए। हाल ही में बंगाल की मशहूर अभिनेत्री मिष्टी मुखर्जी का निधन किडनी फेल होने की वजह से हुआ था। रिपोर्ट के मुताबिक, अभिनेत्री मिष्टी का किडनी फेल कीटोजेनिक डाइट फॉलो करने के कारण हुआ। मिष्टी काफी लंबे समय से कीटो डाइट फॉलो कर रही थीं।  

हार्ट के मरीजों के लिए कीटो डाइट अच्छा नहीं माना जाता है। कीटो डाइट के सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ जाता है, जो हार्ट के मरीजों के लिए सही नहीं है। कीटो डाइट फॉलो करने वाले कई ऐसी चीजों का सेवन करते हैं, जो हार्ट के मरीजों के लिए सही नहीं होता है।

अधिक शारीरिक परिश्रम करने वालों को भी कीटो डाइट फॉलो नहीं करना चाहिए। दरअसल, कीटो डाइट फॉलो करते समय हमारा शरीर कीटोसिस में होता है। जिसके कारण शरीर अधिक अम्लीय अवस्था में रहता है, जो शारीरिक कार्य करने की क्षमता को घटा सकता है। 

कीटो डाइट फॉलो करने वालों का वजन दोबारा बढ़ सकता है। 

शरीर में ऐंठन की शिकायत।

इसके अलावा स्वाती बताती हैं कि उन लोगों को कीटो डाइट बिल्कुल भी नहीं फॉलो करने चाहिए, जो पहले से ही किसी बीमारी से ग्रसित हैं। जिसमें कैंसर, हार्ट से जुड़ी बीमारियां, लिवर डिजीज प्रमुख है। बिना एक्सपर्ट की सलाह के कीटो डाइट बिल्कुल भी फॉलो ना करें। एक्सपर्ट की सलाह के अनुसार ही अपना डाइट प्लान फॉलो करें।

इसे भी पढ़ें - कीटो डाइट फॉलो करने पर आपको भी परेशान कर रहा है सिर दर्द? घबराएं नहीं अपनाएं ये आसान उपाय

कीटो डाइट चार्ट (Keto Diet Chart)

स्वाती बताती हैं कि वेजीटेरियन वालों के लिए कीटो डाइट फॉलो करना थोड़ा मुश्किल होता है। इसका कारण उनके पास फूड्स के ऑप्शन काफी कम होते हैं। एक व्यक्ति को 1 बार में सिर्फ 15 दिनों तक ही कीटो डाइट फॉलो करने चाहिए। 

सुबह उठने के बाद - सुबह उठते ही 1 चम्मच ऑर्गेनिक नारियल तेल पिएं। इसके बाद आप ग्रीन टी और ग्रीन कॉफी ले सकते हैं।

नाश्ते में - अगर आप अंडा खाते हैं, तो 1 ऑमलेट लें। यह ऑमलेट अच्छे से बटर या घी में फ्राई होना चाहिए। अगर अंडा नहीं खाते हैं, तो एवाकाडो को अपने डाइट में शामिल करें। इसमें आप क्रीम और बटर यूज कर सकते हैं।

स्नैक्स - नाश्ते के 1 घंटे बाद कुछ नट्स लें। इसमें आप 4-5 बादाम, अखरोट पिस्ता जैसी चीजों को शामिल कर सकते हैं।

दोपहर का खाना - खाने में चपाती और चावल बिल्कुल भी शामिल ना करें। अगर आप नॉनवेजिटेरयन हैं, तो 1 कटोरी चिकन, सब्जियों के साथ लें। अगर नॉनवेज नहीं खाते  हैं, तो अपने डाइट में आलू का भर्ता शामिल करें। जिसमें बटर और क्रीम की मात्रा काफी ज्यादा होनी चाहिए। 

शाम का स्नैक - शाम के स्नैंक्स में आप 2-3 बादाम या फिर नारियल का छोटा सा टुकड़ा ले सकते हैं।

डिनर - 1 चपाती के साथ 1 कटोरी पनीर की सब्जी लें। पनीर की सब्जी के अलावा आप चिकन भी शामिल कर सकते हैं। 

 

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

 

 
 
 
Disclaimer