कोरोना वायरस: केरल में अलर्ट जारी, चीन से लौटे यात्रियों की हवाई अड्डों पर हो रही है थर्मल स्क्रीनिंग

चीन के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार तक कोरोना वायरस के कारण 41 लोगों की मौत हो चुकी है। 237 लोगों की हालत गंभीर है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 25, 2020Updated at: Jan 25, 2020
कोरोना वायरस: केरल में अलर्ट जारी, चीन से लौटे यात्रियों की हवाई अड्डों पर हो रही है थर्मल स्क्रीनिंग

भारत में कोरोना वायरस का खतरा बढ़ रहा है। केरल में चीन से लौटे 7 लोगों को निगरानी में रखा गया है और इन्हें लेकर भारत के सभी स्वास्थ्य विभाग बेहद सतर्क हो गए हैं। कई लेवल पर इनकी निगरानी की जा रही है। वहीं भारत के अन्य चार शहरों में भी चीन से आए लोगों पर भी ऐसी ही निगरानी रखी जा रही है। चीन में कोरोनोवायरस के नए लक्षण भी दिखाई दिए हैं, जिससे वहां अब तक 41 लोगों की मौत की खबर है। चीन में लगभग 1,300 लोग इससे संक्रमित हैं और अब ये वायरस पूरे एशिया के साथ-साथ अमेरिका और यूरोप में भी फैल रहा है।

inside_Coronavirusthermaltest

केरल में अलर्ट

वहीं केरल में चीन से आए सात व्यक्तियों, मुंबई में दो और बेंगलुरु और हैदराबाद में एक-एक व्यक्तियों को अलग-थलग रख कर उनकी जांच की जा रही है। कोरोनोवायरस के संचार को रोकने के लिए केरल के प्रभारी अधिकारी डॉ. अमर फेटले की मानें तो "केरल में सात लोग, जिनमें इनके लक्षण हैं, मुख्य रूप से एहतियात के तौर पर शुक्रवार को अलगाव वार्डों में रखे गए हैं। वहीं लगतार चीन और हांगकांग से भारत लौटने वाले 20,000 से अधिक यात्रियों की हवाई अड्डों पर थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन 11 लोगों को लेकर य एक बयान जारी करते हुए कहा है कि मुंबई के एक अस्पताल में दो और हैदराबाद और बेंगलुरु में एक-एक व्यक्ति का परीक्षण किया गया है, जिनमें अभी तक इसके संकेत नहीं मिल पाए हैं।

इसे भी पढ़ें : जापान, थाईलैंड के बाद अमेरिका पहुंचा कोरोना वायरस, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अभी तक अलग-अलग देशों से आ रहे 96 विमानों के यात्रियों की जांच की गई है। इन 96 विमानों में सवार सभी 20 हजार 844 यात्री कोरोना वायरस से पूरी सुरक्षित पाए गए हैं। चीन में कोरोना वायरस से कई व्यक्तियों की मौत के बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन हर तरह की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

केरल में कुल 80 लोगों को निगरानी में रखा गया था, जिनमें से 73 में कोई लक्षण नहीं थे। उनमें से सात में बुखार और खांसी के हल्के लक्षण दिखाई दिए। एक अधिकारी ने कहा, "इन सात में से एक ने कोई लक्षण नहीं दिखाया, लेकिन वो काफी हद तक चिंतित था, इसलिए हमने उस यात्री को भर्ती कर लिया है और इलाज दे रहे हैं।" वहीं केरल के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि निगरानी में रखे गए दो लोगों के नमूने परीक्षण के लिए भेजे गए हैं।

inside_Coronaviruskerala

इसे भी पढ़ें: दुनियाभर में तेजी से पांव पसार रहा है खतरनाक कोरोना वायरस, WHO ने जारी की चेतावनी और बचाव के टिप्स

दिल्ली में AIIMS भी तैयार

दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ने एक आइसोलेशन वार्ड तैयार किया है और श्वसन संधि के किसी भी संदिग्ध मामले में उपचार प्रदान करने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। वहीं हवाई अड्डों पर, अगर चीन से लौटने वाले यात्री कोई लक्षण नहीं दिखाते हैं, तो उनका नाम लिया जाता है और जिला चिकित्सा अधिकारियों को भेज दिया जाता है। उन्हें कुछ हफ्तों के लिए अपने घरों में अकेले और लोगों से दूर रहने की सलाह दी गई है और उनके स्वास्थ्य अपडेट के लिए नजर रखी जा रही है।

केरल सरकार ने कोरोनोवायरस से संबंधित लोगों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर 0471-2552056 भी जारी किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार, देश में अब तक किसी भी सकारात्मक मामले का पता नहीं चला है। कोरोनोवायरस के मामले सबसे पहले मध्य चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से सामने आए थे। वुहान से ये वायरस इस प्रांत के 13 अन्य शहरों में फैल चुका है। 

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer