टेंशन और एंग्जाइटी के कारण आपको भी होती है शरीर में खुजली? जानें क्या है ये सिंड्रोम

युवाओं में स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम बड़ी तेजी से बढ़ रहा है, इसलिए जरूरी है कि वो अपने स्ट्रेस लेवल और मानसिक स्वास्थ्य का सही से ख्याल रखें।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 02, 2020
टेंशन और एंग्जाइटी के कारण आपको भी होती है शरीर में खुजली? जानें क्या है ये सिंड्रोम

क्या आपने कभी तनाव या चिंता के दौरान अपनी त्वचा में जलन और खुजली महसूस की है? अगर हां, तो ये कोई आम बात नहीं है, जिसे आप नजरअंदाज कर दें। दरअसल जब आप परेशान होते हैं और उस दौरान जो आपको खुजली महसूस होती है, वो बेवजह नहीं होती है बल्कि उसके पीछे स्वास्थ्य से जुड़े हुए कुछ कारक हैं। साइंस की भाषा में इसे स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम (Skin Anxiety Syndrome) कहा जाता है। वहीं स्ट्रेस और एंग्जायटी एसोसिएशन ऑफ अमेरिका की मानें, तो ये स्ट्रेस से जुड़ा एक विकार है, जो लगभग 40 मिलियन वयस्कों को प्रभावित करता हैं। आइए अब विस्तार से जानते हैं इस स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम के बारे में। 

insideitchinginanxiety

क्या है स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम (Skin Anxiety Syndrome)?

चिंता, खासकर अगर यह पुरानी आदत बन गई है, तो आपके स्वास्थ्य को कई तरह से प्रभावित कर सकती है। चिंता त्वचा की कई समस्याओं से भी संबंधित है। जब भी आप परेशान होते हैं या नर्वस होते या शर्मिंदा होते हैं तो आपको शरीर में खुजली महसूस या लाल पैचेस उभर आना महसूस हो सकता है। वहीं मानसिक या भावनात्मक तनाव से भी आपको खुजली हो सकती है। दरअसल आपका मस्तिष्क हमेशा आपकी त्वचा में तंत्रिका अंत के साथ संचार कर रहा होता है। जब चिंता बढ़ जाती है, तो आपके शरीर की तनाव प्रतिक्रिया तेज हो जाती हैं। यह आपके तंत्रिका तंत्र को प्रभावित कर सकता है और त्वचा के जलने या खुजली जैसे संवेदी लक्षण पैदा कर सकता है।

इसे भी पढ़ें : 4 तरह की होती है एंग्जाइटी या चिंता? तीसरी वाली एंग्जाइटी है सबसे खतरनाक, जानें क्या है ये

आप अपनी बाहों, पैरों, चेहरे और सिर सहित अपनी त्वचा पर कहीं भी इस अनुभूति का अनुभव कर सकते हैं। आप इसे रुक-रुक कर भी महसूस कर सकते हैं या ये आपको लगातार भी हो सकता है। यहां तक कि अगर आपकी खुजली का कारण चिंता है, तो आप बहुत सख्ती से खरोंच या खुजली कर सकते हैं। इससे आपकी त्वचा खराब हो सकती है और इसमें संक्रमण भी हो सकता है। इतना ही नहीं, खुजली को दूर करने के लिए शायद स्क्रैचिंग बहुत कुछ नहीं करती है।

स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम के लक्षण?

  • -चिंता या घबराहट होने पर त्वचा जलने लगती है और इसमें खुजली शुरू हो जाती है।
  • - एलर्जी की प्रतिक्रिया या सूर्य की तेज रौशनी अचानक पड़ने से भी ये होने लगता है।
  • -स्किन में रेडनेस आ जाना
  • - स्किन का सूखा महसूस होना और चुनचुनाहट महसूस करना
  •  -पैर, पीठ और सिर को बार-बार खुजलाना। 
insideanxietysyndrome

इसे भी पढ़ें : एंग्जाइटी से मिनटों में राहत दिलाते हैं ये 5 तरीके, दिमाग को भी मिलता है सुकून

इन कारणों से भी हो सकती है खुजली

  • -एलर्जी की प्रतिक्रिया
  • -रूखी त्वचा
  • -खुजली
  • -कीड़े के काटने और डंक से
  • -सोरायसिस
  • - पुरानी खुजली
  • -दाद इत्यादि।

स्किन एंग्जाइटी सिंड्रोम के उपचार

  • - 'चिंता करना बंद करो', ऐसे व्यक्ति को जो चिंता से गुजर रहा है उसे अपने दिमाग में ये बात बिठानी होगी। 
  • - ऐसे लोग जिन्हें एंग्जायटी या चिंता बहुत ज्यादा होती है, उन्हें यो और ध्यान की मदद लेनी चाहिए।
  • -वहीं जब भी खुजली महसूस, उस जगह को आप खुजलाए नहीं बस वहां सहला या चुटकी काट कर छोड़ दें।
  • -वही आप खुजली वाली जगह पर कपूर, कैलामाइन, एलोवेरा, विटामिन और कैप्साइसिन युक्त क्रीम और लोशन भी अफ्लाई कर सकते हैं,ये ठंडक वाली चीजें हैं, जो खुजली में राहत प्रदान करेंगी।
  • -खुरदरे कपड़ों, गर्म स्नान, कड़ी धूप, या ऐसी अन्य चीजों से बचें जो खुजली का कारण बन सकती हैं।
  • -चूंकि तनाव खुजली को बढ़ा सकता है, इसलिए आपको अपने तनाव के स्तर को कम करने के लिए भी कदम उठाने होंगे। जैसे एक्यूपंक्चर, गहरी सांस लेने वाले व्यायाम,ध्यान और योग

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer