क्या थायराइड में चाय पीना चाहिए? जानें एक्सपर्ट की राय

Teas in Thyroid : क्या थायराइड में चाय का सेवन करना चाहिए? अगर आपके मन में इस तरह के सवाल हैं, तो जानते हैं इस बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 07, 2022Updated at: Jul 07, 2022
क्या थायराइड में चाय पीना चाहिए? जानें एक्सपर्ट की राय

Teas in Thyroid : क्या थायराइड में चाय पीना चाहिए? थायराइड रोगी अक्सर खानपान से जुड़े ऐसे कई सवालों में उलझे होते हैं। । थायराइड एक ऐसी बीमारी है, जिससे ग्रसित व्यक्ति के शरीर में थायरॉक्सिन हार्मोन असंतुलित होने लगता है। इसके कारण शरीर में कई तरह की समस्याएं जैसे- मोटापा, बालों का झड़ना, कमजोर याददाश्त इत्यादि हो सकती हैं। थायराइड की इन समस्याओं को कंट्रोल करने के लिए मरीज को अपने आहार को लेकर काफी सतर्क होने की जरूरत होती है। इसलिए अक्सर लोग थायराइड में डाइट को लेकर काफी कंफ्यूज रहते हैं, खासतौर पर चाय को लेकर। अगर आपके मन में भी यह सवाल है कि थायराइड में चाय पीना चाहिए या नहीं, तो आज इस लेख को पढ़कर आपका यह कंफ्यूजन दूर हो सकता है।

क्या थायराइड में चाय पीना चाहिए? - Is Tea Good for Thyroid Patient

थायराइड में चाय पीना चाहिए या नहीं, इस विषय की जानकारी के लिए हमने डाइट मंत्रा क्लीनिक की डायटीशियन कामिनी कुमारी से बात की। डायटीशियन कामिनी का कहना है कि कुछ रिसर्च में बताया गया है कि थायराइड में ग्रीन टी और ब्लैक टी का सेवन फायदेमंद होता है। लेकिन ध्यान रखें कि खाली पेट खाई जाने वाली दवा से करीब 1 से 2 घंटे बाद ही चाय का सेवन करें।

इसे भी पढ़ें - क्या थायराइड में बादाम खा सकते हैं? जानें एक्सपर्ट की राय

वहीं, थायराइड में दूध और चीनी वाली चाय का सेवन न करें। इस तरह की चाय नॉर्मल स्थिति वाले लोगों के लिए भी सेहतमंद नहीं होती है। इससे मोटापा, शुगर लेवल और ब्लड प्रेशर बढ़ने की परेशानी हो सकती है, साथ ही थायराइड की भी समस्याएं बढ़ सकती हैं। इतना ही नहीं, अगर आप हर्बल टी पीने का सोच रहे हैं, तो थायराइड में इसका भी कम से कम सेवन करें। पूरे दिन में आप 1 से 2 कप चाय लें। इससे अधिक चाय पीने से परहेज करें।

थायराइड में कौन सी चाय पिएं? - What tea is good for the thyroid gland?

थायराइड में अश्वगंधा और कैमोमाइट टी का सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में-

अश्वगंधा टी - Ashwagandha Tea

थायराइड में आप अश्वगंधा से तैयार चाय का सेवन कर सकते हैं। अश्वगंधा अपने एडाप्टोजेनिक गुणों के लिए जाना जाता है। एडाप्टोजेन शरीर में तनाव के प्रभावों कम करता है। साथ ही इससे शरीर की अन्य परेशानियां कम होती हैं। 

कैमोमाइल टी - Chamomile Tea

थायराइड में कैमोमाइल हर्बल टी का सेवन किया जा सकता है। यह आपके शरीर में विभिन्न बीमारियों को दूर कर सकता है। इसके सेवन से अनिद्रा की समस्या दूर होती  है, साथ ही यह पेट की समस्याओं को भी दूर कर सकता है। कैमोमाइल टी हाइपोथायरायडिज्म (is tea good for thyroid patient) में होने वाली कब्ज की परेशानी को भी दूर कर  सकती है।

सेज टी - Sage Tea

थायराइड में आप सेज टी का सेवन कर सकते हैं। यह एंटीकैंसर गुणों से भी भरपूर  होती है, इसलिए कैंसर से बचाव करने में प्रभावी हो सकती है। सेज टी पीने से मूड को बेहतर किया जा सकता है। साथ ही यह याददाश्त बढ़ाने और अल्जाइमर जैसी मानसिक समस्याओं को भी दूर कर सकती है। 

थायराइड मेें दूध वाली चाय सेहत के लिए नुकसानदेह हो  सकती है। हालांकि, आप कुछ हर्बल टी का सेवन कर सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि इन हर्बल टी का भी सीमित मात्रा में सेवन करें। 

 
Disclaimer