अच्छी खबर: देश में बढ़ रहे कोरोना के मामले पर R-Value में दिखी गिरावट, जानें कोरोना से जुड़े सभी ताजा अपडेट्स

Covid-19 live update: देश में आर-वैल्यू (R Value) में कमी इस बात का संकेत है कि आने वाले दिनों में स्थिति सुधर सकती है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 17, 2022Updated at: Jan 17, 2022
अच्छी खबर: देश में बढ़ रहे कोरोना के मामले पर R-Value में दिखी गिरावट, जानें कोरोना से जुड़े सभी ताजा अपडेट्स

देश में कोरोना मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। स्थिति ये है कि हर दिन यहां कोरोना के लाखों मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे की बात करें तो, देश में 2 लाख 58 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं और एक्टिव केस 16 लाख के पार हैं। हालांकि, देश के कुछ हिस्सों में कोरोना मामलों की संख्या में कमी भी आई है जैसे कि राजधानी दिल्ली और मुंबई। राजधानी दिल्ली की बात करें तो, यहां पिछले 24 घंटों में कोरोना के 18286 मामले सामने आए हैं और पॉजिटिविटी रेट में 27.87 प्रतिशत की कमी आई है। इसी तरह बात अगर मुंबई की करें तो, यहां रविवार को कोरोना के 7895 नए मामले सामने आए हैं जो कि शनिवार की तुलना में 25 प्रतिशत कम हैं। लेकिन अगर ओमीक्रोन वैरिएंट के मामलों को देखें तो इसमें बढ़ोतरी हुई है और ओमीक्रोन से पीड़ित लोगों की संख्या अब 8209 हो गई है। इसी बीच एक अच्छी खबर भी है कि भारत में कोरोना की आ-वैल्यू में कमी आ रही है यानी कि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को होने वाला संक्रमण दर (indias R value is reducing rapidly) कम हो रहा है। तो, आइए जानते हैं देश और दुनिया की कोरोना से जुड़े ऐसे सभी बड़े अपडेट्स (covid-19 omicron updates)

Insidecovid18news

R Value में कमी क्यों है एक अच्छी खबर? 

भारत में कोरोना के मामलों में जहां तेजी से बढ़ोतरी हो रही है वहीं, आर-वैल्यू में कमी आना हम सभी के लिए राहत भरी खबर है। दरअसल, भारत में 7 से 13 जनवरी के बीच आर-वैल्यू (R Value) में 2.2 प्रतिशत की कमी आई है। दरअसल, आर-वैल्यू (R Value) का मतलब होता है एक संक्रमित व्यक्ति द्वारा दूसरे लोगों को संक्रमित करने की क्षमता। जैसे कि अगर आर-वैल्यू अगर एक है, तो एस व्यक्ति सिर्फ एक ही लोग को संक्रमित करेगा।  आसान शब्दों में समझें तो ये बताता है कि संक्रमण कितनी तेजी से फैल सकता है और एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति कितने अन्य लोगों को संक्रमित कर सकता है। ऐसे में जब भारत में आर-वैल्यू में कमी नजर आ रही है तो हम इस बात कि उम्मीद कर सकते हैं कि आने वाले दिनों में कोरोना के मामले कम हो सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें : 24 घंटे में 2.6 लाख कोरोना के नए मामले और 315 लोगों की मौत ने बढ़ाई चिंता, पॉजिटिविटी रेट बढ़कर हुआ 14.7

बता दें कि ये बात आईआईटी मद्रास के एक विश्लेषण में सामने आई है। आईआईटी मद्रास के गणित विभाग और सेंटर ऑफ एक्सेलेंस फॉर कम्प्यूटेशनल मैथेमैटिक्स एंड डेटा साइंस ने इस पर खास तौर पर विश्लेषण किया है और पाया है कि  7 से 13 जनवरी के बीच  दिल्ली की आर-वैल्यू 2.5, मुंबई की आर वैल्यू 1.3, चेन्नई की 2.4 और कोलकाता की 1.6 हो गई है। जबकि 25 दिसंबर से 31 दिसंबर 2021 तक राष्ट्रीय स्तर पर  आर-वैल्यू  2.9 के करीब थी। 

कोविड टीकाकरण अभियान का 1 साल पूरा

पिछले साल 16 जनवरी 2021 को प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड टीकाकरण अभियान की शुरुआत की थी। तब से अब तक देश के वयस्क आबादी में 68 प्रतिशत लोगों का पूर्ण टीकाकरण किया जा चुका है। वहीं, 92 प्रतिशत तक लोगों को कोरोना की एक खुराक दी जा चुकी है। इसके अलावा 15-18 आयु वर्ग के बच्चों का भी टीकाकरण अब सरकार की प्राथमिकता बन गई है। भारत सरकार की पूरी कोशिश है कि आने वाले हफ्तों में कोविड टीकाकरण अभियान में तेजी लाई जाए और 15-18  साल के बच्चों का ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण किया जाए। हालांकि,  15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के टीकाकरण पर विचार चल रहा है और इसके लिए वैज्ञानिक डेटा की खोज की जा रही है। 

इसे भी पढ़ें : पिछले 24 घंटे में आए 2 लाख 47 हजार से ज्यादा कोरोना मामले, कई राज्यों में हालात हो रहे हैं बेकाबू

अब जहां मुंबई और दिल्ली में कोरोना के मामलों में कमी आ रही है वहीं यूपी में स्थिति अब गंभीर हो रही है। यूपी सरकार के स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में 17 हजार से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आए हैं। जबकि एक जनवरी को 383 मामले ही थे। सबसे ज्यादा संक्रमितों की संख्या लखनऊ में है। इसे देखते हुए लखनऊ में स्कूल और कॉलेज को 23 जनवरी तक के लिए बंद कर दिए हैं।

Disclaimer