Tea vs Coffee: चाय या कॉफी? जानें गैस और बदहजमी में किसे पीना है ज्यादा फायदेमंद

क्या गैस में चाय या कॉफी फायदेमंद है? आइए जानते हैं गैस की परेशानी में इन दोनों में से कौन ज्यादा हेल्दी विकल्प है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Nov 07, 2020Updated at: Nov 07, 2020
Tea vs Coffee: चाय या कॉफी? जानें गैस और बदहजमी में किसे पीना है ज्यादा फायदेमंद

सर्दियां में लोग दिन भर में कई बार चाय या कॉफी पी लेते हैं। पर क्या गैस और बदहजमी की परेशानी में भी चाय और कॉफी पीना फायदेमंद है? दरअसल सर्दियों में तो खासतौर पर लोग तरह-तरह की तली भुनी चीजें खाते  हैं, जिससे एसिडिटी और गैस की परेशानी होती है। कई बार तो ये एसिडिटी पेट में दर्द, सीने में जकड़न या तेज सिर दर्द का कारण भी बनती है। पर क्या चाय पीने से लोगों को गैस की परेशानी (gas and acidity) हो सकती है? तो क्या ऐसे में चाय की जगह काफी पीना ज्यादा फायदेमंद ( Which is better: tea or coffee)है? इन सवालों के जवाब को जानने के लिए आइए पहले जानते हैं कि गैस में चॉय और काफी पीने को लेकर क्या कहते हैं शोध। फिर जानेंगे कि इन दोनों में ऐसी कौन सी चीज है, जो आसानी से गैस को ट्रिगर कर सकती है।

insideGASANDACIDITY

गैस की परेशानी में चाय और कॉफी  (Coffee vs. Tea)

गैस की परेशानी में चाय और कॉफी पीने को लेकर साल 2013 में किए गए शोध की मानें, तो  कॉफी और चाय जैसे खाद्य पदार्थ,  GERD (Gastroesophageal reflux disease) के लक्षणों को ट्रिगर या खराब करते हैं। इससे लोगों को भूख कम लगती है, डकारें आती हैं और सीने व पेट में जलन होती है। डॉक्टरों और स्वास्थ्य संगठनों की भी ये सिफारिश रही कि GERD के लक्षणों वाले मरीजों को  कैफीन युक्त पेय पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। साथ ही जीईआरडी वाले कुछ लोगों की रिपोर्ट इस ओर संकेत करते हैं कि कैफीन युक्त पेय पदार्थों का ज्यादा सेवन गैस और एसिडिटी के लक्षणों को प्रभावित कर सकते हैं। 

insideteaingas

इसे भी पढ़ें : भूलकर भी न करें इन 5 सब्जियों का सेवन, बढ़ा देगी गैस और कब्ज की परेशानी

गैस की समस्या में कॉफी

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी एंड हेपाटोलॉजी जर्नल  (Gastroenterology & Hepatology) के लिए एक साक्षात्कार में, स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में एक एसोसिएट प्रोफेसर, लॉरेन बी गर्सन ने, जीईआरडी के मरीजों के लिए जीवन शैली में परिवर्तन के बारे में बात करते कैफीन से बचने का सुझाव दिया। गर्सन का सुझाव है कि जीईआरडी वाला व्यक्तियों को इसके लक्षणों को ट्रिगर करने वाले खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए, जिसमें कि कैफीन युक्त पेय पदार्थ भी शामिल हैं । इस तरह से देखें, तो अगर आप कॉफी पीतें, जिसमें कि कैफीन की मात्रा सबसे अधिक है, तो ये भी गैस की परेशानी पैदा कर सकती है या इसे बढ़ा सकती है ।

गैस की समस्या में चाय (Benefits of Drinking Tea Over Coffee)

अब बात चाय और गैस की परेशानी की करें, इसे लेकर शोधकर्ता कहते आए हैं कि कैफीन चाहे कॉफी में हो या चाय में या किसी भी अन्य खादर्य पदार्थ में, ये सभी कैफीन युक्त पदार्थ गैस की परेशानी को बढ़ा सकते हैं। चाय में न केवल कैफीन होता है, बल्कि कई अन्य घटक भी होते हैं। अगर आप चाय की इन पदार्थों के साथ बदलाव कर लें, तो आपका चाय गैस की परेशानी में भी हेल्दी हो सकता है। जैसे कि आप चाय में ज्यादा दूध और चायपत्ती न डालें। इसकी जगह आप चाय के सहेतमंद विकल्पों को चुनें। जैसे कि

  • - नींबू वाली चाय
  • - बिना दूध की ब्लैक टी
  • - ग्रीन टी
  • -सहजन के पत्तियों की चाय
  • -रोजमैरी टी
insidecoffee

इसे भी पढ़ें : गैस और कब्ज से हैं परेशान, तो खाने में कुछ खास नहीं बल्कि खाएं ये आसान सी खिचड़ी

हालांकि गैस की परेशानी के दौरान चाय और कॉफी पीने को लेकर अब भी काफी और शोध करने की जरूरत है। ऐसा इसलिए कि कई शोध ये भी बताते हैं कि डाइट से कैफीन वाली चीजों को पूरी तरह निकाल देना भी कोई समझदारी का काम नहीं है। क्योंकि कैफीन ब्रेन को एक्टिवेट करने का काम भी करते हैं। वहीं शरीर के लिए कॉफी के कई और फायदे भी हैं। पर फिर भी लोगों को ये बात हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए कि अगर हम किसी चीज का सेवन संतुलित तरीके से नहीं करेंगे, तो वह परेशानी का कारण बन सकती है। हालांकि, अगर किसी व्यक्ति को पता चलता है कि कैफीन उसके गैस और बदहजमी के लक्षणों को बढ़ाता है, तो वे कॉफी और कैफीन वाले चाय लेना बंद कर सकते हैं या कम कर सकते हैं। इसकी जगह ऐसे लोगों को हर्बल या फ्रूट टी आदि का सेवन करना चाहिए।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer