महिलाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है प्रोजेस्टेरोन हार्मोन, जानें इसके 4 मुख्य फंक्शन

Progesterone Hormone:महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की अहम भूमिका होती है। यह हार्मोन महिलाओं के शरीर के विभिन्न कार्यों में योगदान देता है

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Feb 17, 2022Updated at: Feb 17, 2022
महिलाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है प्रोजेस्टेरोन हार्मोन, जानें इसके 4 मुख्य फंक्शन

progesterone hormone in hindi:  प्रोजेस्टेरोन क्या है? प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं में पाया जाने वाला सेक्स हार्मोन है। यह हार्मोन महिलाओं में खुद ही बनता है। महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन (Progesterone Hormone in Female) की अहम भूमिका होती है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं में पीरियड्स या मासिक धर्म, प्रजनन क्षमता और गर्भावस्था के लिए जरूर होता है। इतना ही नहीं स्तनों के विकास के लिए भी प्रोजेस्टेरोन हार्मोन जरूरी होता है। चलिए मातृत्व अस्पताल, नोएडा में वरिष्ठ सलाहकार प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मनीषा रंजन (Dr Manisha Ranjan Senior consultant obstetrics and gynaecologist at Motherhood hospital Noida) विस्तार से जानते हैं प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के कार्य-

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के कार्य (important function of progesterone hormone)

महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बहुत जरूरी होता है। महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन (progesterone hormone function) कई कार्य करता है। प्रोजेस्टेरोन का मुख्य कार्य गर्भाशय को गर्भावस्था के लिए तैयार करना होता है। महिलाओं के शरीर में इसका काफी महत्व होता है। जानें-

pregnancy

1. प्रेगनेंसी में सहायक (progesterone hormone function in pregnancy): प्रोजेस्टेरोन हार्मोन गर्भाशय को प्रेगनेंसी या गर्भावस्था के लिए तैयार करता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन प्रेगनेंसी के लिए बहुत जरूरी हार्मोन होता है। महिलाओं के शरीर में इस हार्मोन के कम होने या बढ़ने से प्रेगनेंसी में रुकावट भी पैदा हो सकती है। 

2. प्रजनन क्षमता बढ़ाए (progesterone hormone in female): प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है। यह एक सेक्स हार्मोन है, यह महिलाओं की फर्टिलिटी को बढ़ाता है।

3. रेगुलर पीरियड्स के लिए (progesterone hormone for regular periods): प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं में होने वाले मासिक धर्म यानी पीरियड्स को नियमित करने में मदद करता है। 

4. स्तनों का विकास करे: प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं के स्तनों के विकास के लिए भी जरूरी होता है। युवावस्था में लड़कियों के शरीर में इसका संतुलन में होना बहुत जरूरी होता है। यह हार्मोन स्तनों में दूध का उत्पादन करने वाली ग्रंथियों के विकास को भी बढ़ावा देता है।

प्रोजेस्टेरोन क्यों जरूरी है? (why is progesterone important)

प्रोजेस्टेरोन एक ऐसा हार्मोन है, जो अंडाशय (ovaries) और एड्रिनल ग्रंथियों (adrenal glands) से स्त्रावित होता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं के शरीर में कई कार्यों को नियंत्रित करता है। प्रोजेस्टोन गर्भावस्था के लिए एक जरूरी हार्मोन है। यह शरीर में एस्ट्रोजन की मात्रा को भी नियंत्रित करता है। महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का संतुलन में रहना बहुत जरूरी होता है। लेकिन कभी-कभी प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ता या घट जाता है, ऐसे में महिलाओं को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी से क्या होता है? (Progesterone Hormone Imbalance Symptoms)

महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का संतुलन में होना बहुत जरूरी होता है। प्रोजेस्टेरोन की कमी होने पर कंसीव या गर्भधारण करने में परेशानी हो सकती है। तमाम कोशिशों के बाद भी गर्भधारण न कर पाना प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी का एक आम लक्षण हो सकता है।

  • सिरदर्द
  • मूड स्विंग
  • तनाव और चिंता
  • अनियमित पीरियड्स
  • असामान्य रूप से ब्लीडिंग होना
  • स्किन ड्राय होना
  • नींद की समस्या या अनिद्रा
  • लगातार वजन बढ़ना

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ने के लक्षण (High Progesterone Hormone Symptoms)

जिस तरह से महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का कम होना नुकसान करता है, वैसे ही प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का अधिक होना भी महिलाओं के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ने की स्थिति में महिलाओं के शरीर में अंडे का उत्पादन नहीं होता है, इससे स्थिति में उन्हें गर्भधारण करने में परेशान होती है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ने पर महिलाओं में दिखने वाले लक्षणों में शामिल हैं-

महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन (progesterone hormone in female) का संतुलन में होना बहुत जरूरी होता है। इसकी कमी या बढ़ोत्तरी महिलाओं के शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए अगर आपको प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के असंतुलन का कोई भी लक्षण नजर आए, तो तुरंत स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलें।

Disclaimer