किडनी में कैंसर आम और गंभीर बीमारी है, जानें किडनी के कैंसर से कैसे करें बचाव?

अगर आपके पर‍िवार में क‍िसी को कैंसर है या आपको क‍िडनी से जुड़ी कोई बीमारी हुई है तो क‍िडनी कैंसर से बचने के तरीके जरूर जान लें

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Aug 06, 2021 13:51 IST
किडनी में कैंसर आम और गंभीर बीमारी है, जानें किडनी के कैंसर से कैसे करें बचाव?

क‍िडनी के कैंसर के क्‍या लक्षण होते हैं? क‍िडनी में कैंसर होने पर भूख न लगना, वजन कम होना, बुखार, थकान, लोअर बैक में दर्द, यूरिन में ब्‍लड आना आद‍ि लक्षण नजर आते हैं। क‍िडनी कैंसर एक गंभीर समस्‍या है ज‍िससे आपकी जान खतरे में पड़ सकती है। इसे हल्‍के में नहीं लेना चाह‍िए। अगर आपके घर में किसी को कैंसर है या पहले आपको कभी क‍िडनी से जुड़ी बीमारी रही है तो आपको क‍िडनी कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है। क‍िडनी के कैंसर से बचने के लि‍ए आपको कुछ अच्‍छी आदतों को अपने रूटीन में शाम‍िल करना चाह‍िए जैसे एक्‍सरसाइज, सही डाइट आद‍ि। इस लेख में हम क‍िडनी में होने वाले कैंसर से बचने के उपायों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

kidney cancer

क‍िडनी कैंसर की जांच कैसे की जाती है? (How kidney cancer is diagnosed)

कई तरीकों से किडनी कैंसर की जाती है जैसे- 

  • खून की जांच करके क‍िडनी कैंसर है या नहीं ये पता क‍िया जाता है। 
  • अल्‍ट्रासाउंड के जर‍िए क‍िडनी को देखकर डॉक्‍टर बताते हैं क‍ि कैंसर का खतरा है या नहीं। 
  • सीटी स्‍कैन के जर‍िए भी क‍िडनी में कैंसर की पुष्‍ट‍ि की जाती है। 
  • क‍िडनी का एक्‍स-रे करके डॉक्‍टर कैंसर का पता लगाते हैं ज‍िसे इंट्रावेनस पाइलोग्राम कहा जाता है। 

 इसे भी पढ़ें- इन कारणों से होती है किडनी में सूजन की समस्या, जानें लक्षण और इलाज

क्‍या एक्‍सरसाइज करने से क‍िडनी के कैंसर से बच सकते हैं? (Can exercise prevents kidney cancer)

exercise for healthy kidney

हां अगर आप न‍ियम‍ित तौर पर कसरत करें तो क‍िडनी के कैंसर से बचा जा सकता है। केवल कैंसर ही नहीं एक्‍सरसाइज से आपके शरीर में अन्‍य बीमार‍ियां भी नहीं होतीं ज‍िसका अच्‍छा असर शरीर पर पड़ता है और आप कैंसर के खतरे से काफी हद तक बच सकते हैं। अगर आप हर द‍िन कम से कम 30 म‍िनट चलें तो यूट्रस, लंग्‍स, ब्रेस्‍ट, प्रोस्‍टेट कैंसर के लक्षण से बचा जा सकता है। आपको एक्‍सरसाइज करने के साथ जॉग‍िंग, योगा, एरोब‍िक्‍स को भी अपने रूटीन में शाम‍िल करना चाह‍िए।

क‍िडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए कैम‍िकल्‍स से दूर रहें (Stay away from chemicals to prevent kidney cancer)

कैम‍िकल्‍स के संपर्क में आने से भी कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। जो लोग फील्‍ड या इंडस्‍ट्री में काम करते हैं उन्‍हें काम बाहर न‍िकलने से पहले फेस मास्‍क, ग्‍लब्‍स, का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए। आप बॉडी सूट पहनकर भी बाहर न‍िकल सकते हैं, सेफ्टी को अपनी पहली प्राथम‍िकता पर रखें। जो लोग एल्‍कोहॉल का ज्‍यादा सेवन करते हैं उन्‍हें क‍िडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए एल्‍कोहॉल के सेवन के नुकसान जान लेने चाह‍िए। एल्‍कोहॉल का सेवन करने से भी क‍िडनी के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है इसलि‍ए आपको इसके सेवन से बचना चाहिए।

किडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए बीपी कंट्रोल करें (Control BP to avoid kidney cancer)

control bp

ज‍िन मरीजों को क‍िडनी का कैंसर होता है उनमें हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या देखी गई है, आपको हाई बीपी का इलाज करना चाह‍िए और ऐसे खतरों से बचना चाह‍िए जिनके कारण ब्‍लड प्रेशर बढ़े। ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करने के ल‍िए आपको एक्‍सरसाइज करना चाह‍िए। तनाव को कम करने का तरीका ढूंढना चाह‍िए और डाइट मे भी बदलाव करने चाह‍िए। ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल रखने से क‍िडनी में कैंसर होने की संभावना कम हो जाती है। डॉ सीमा ने बताया क‍ि अगर आपको हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या है तो क‍िडनी की ब्‍लड वैसल्‍स मोटी हो सकती हैं ज‍िसके कारण ट्यूमर बनने की संभावना बढ़ जाती है इसल‍िए क‍िडनी कैंसर से बचने के ल‍िए बीपी कंट्रोल में रखें। 

इसे भी पढ़ें- एक्सपर्ट से जानें किडनी स्टोन से जुड़ी 9 भ्रामक बातें (मिथक) और उनकी सच्चाई

क‍िडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए क्‍या खाएं? (Right food to prevent kidney cancer)

brown rice  

क‍िडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए डाइट पर फोकस करना जरूरी है ज‍िसके ल‍िए आपको कॉम्‍प्‍लेक्‍स कॉर्ब्स चुनना चाह‍िए। आपको अपनी डाइट में ढेर सारी सब्‍जियां, होल ग्रेन और फल शाम‍िल करने चाह‍िए। आपको वाइट ब्रेड या चीनी अवॉइड करनी चाह‍िए। कॉम्‍प्लेक्‍स कॉर्ब्स में हेल्‍दी ऑप्‍शन की बात करें तो आप केला, अंगूर, बेरीज,संतरा, सेब, आम, ब्रोकली, पालक, लहसुन, प्‍याज आद‍ि का सेवन करें। वाइट ब्रेड की जगह होल ग्रेन ब्रेड चुनें, सफेद चावल की जगह आपको ब्राउन राइस खाना चाह‍िए इसके अलावा आपको बीन्‍स, नट्स, ओमेगा 3 फैटी एस‍िड र‍िच फूड्स का भी सेवन करना चाह‍िए।

वजन बढ़ने से बढ़ता है क‍िडनी में कैंसर होने का खतरा (Control weight to prevent kidney cancer)

kidney cancer and weight

अगर आपका वजन ज्‍यादा है तो आपके शरीर में क‍िडनी कैंसर होने का खतरा भी बढ़ सकता है। आपको कैलोरी और वजन कम करने के ल‍िए अपने डॉक्‍टर या डायटीश‍ियन से संपर्क करना चाह‍िए। वजन कंट्रोल करने से आप क‍िडनी के कैंसर के खतरे से बच सकते हैं। वजन कम करने के साथ आपको स्‍मोकिंग की लत भी छोड़नी चाह‍िए। स्‍मोकिंग से भी क‍िडनी कैंसर का खतरा बढ़ता है इसल‍िए अपने डॉक्‍टर से सलाह लेकर स्‍मोक‍िंग की लत छोड़ने का प्रयास करें। कुछ शोध में भी इस बात की पुष्‍ट‍ि हुई है क‍ि पतले लोगों के मुकाबले मोटे लोगों को क‍िडनी कैंसर का खतरा 70 प्रतिशत ज्‍यादा होता है। 

क‍िडनी के कैंसर से बचने के ल‍िए नमक की मात्रा कम करें (Limit sodium intake to prevent kidney cancer)

आपको नमक की मात्रा कम करनी चाह‍िए। अगर आप बहुत ज्‍यादा नमक खाते हैं तो ये आपकी क‍िडनी पर बुरा असर डाल सकता है। आपको प्रोसेस्‍ड फूड के सेवन से बचना चाहि‍ए। इसके अलावा आपको एक द‍िन में 2200 एमजी से ज्‍यादा नमक का सेवन नहीं करना चाह‍िए। नमक कम करने के ल‍िए प्रोसेस्‍ड फूड अवॉइड करें, प्रोसेस्‍ड फूड में नमक की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है ज‍िससे आपका वजन भी बढ़ सकता है। 

हर द‍िन 8 से 10 ग‍िलास पानी प‍िएं (Drink 8 to 10 glasses of water per day)

क‍िडनी को स्‍वस्‍थ रखने के ल‍िए आपको पानी की मात्रा बढ़ानी चाह‍िए। अगर आप पानी नहीं प‍िएंगे तो क‍िडनी में स्‍टोन होने का खतरा बढ़ जाएगा। आपको हर द‍िन 8 से 10 ग‍िलास पानी पीना चाह‍िए। अगर आपको क‍िडनी में दर्द या सूजन की श‍िकायत हो तो आप डॉक्‍टर से संपर्क करके लक्षणों का पता लगाएं। 

आपको हर साल अपना हेल्‍थ चेकअप करवाना चाह‍िए ज‍िससे क‍िडनी के कैंसर जैसी गंभीर बीमार‍ियों का पता लगाया जा सके। साल में कम से कम एक बार चेकअप जरूर करवाएं और कोई भी लक्षण नजर आने पर डॉक्‍टर से संपर्क करें।

Read more on Cancer in Hindi 

Disclaimer