हाई हील सैंडल्स बन सकती हैं पीठ और पैर दर्द का कारण, एक्सपर्ट से जानें कैसे चुनें सही फुटवियर

हाई हील्स के क्या-क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। जानें हाई हील्स पहनने को लेकर ऑर्थोपेडिक सर्जन की सलाह।

Satish Singh
Written by: Satish SinghUpdated at: Aug 06, 2021 05:58 IST
हाई हील सैंडल्स बन सकती हैं पीठ और पैर दर्द का कारण, एक्सपर्ट से जानें कैसे चुनें सही फुटवियर

हाई हील्स सैंडल्ल आज के समय में महिलाओं की पहली पसंद है लेकिन इन सैंडल्स को पहनने से पीठ से लेकर घुटने तक दर्द होता है। जमशेदपुर के बाराद्वारी में एपेक्स अस्पताल में सेवा देने वाले हड्डी के डॉक्टर (सीनियर ऑर्थोपेडिक सर्जन) सौरव चौधरी ने बताया - कभी कबार हाई हील्स पहनने से कोई समस्या नहीं होती है। लेकिन इसे आदत बना लेना काफी घातक हो सकता है। शार्ट हाइट लड़कियां ज्यादातर हाई हील्स पहनती हैं।  इसका हर रोज नियमित रूप से इस्तेमाल आपकी सेहत को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप लंबे समय तक हाई हील्स पहने रहती हैं कुछ समय बाद आपको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। लड़कियों और महिलाओं की यही आदत आगे चलकर पीठ दर्द और पैर के दर्द का कारण बनती है। तो आइए इस आर्टिकल में हम हील्स के काऱण होने वाले दर्द के बारे में विस्तारपूर्वक बात करते हैं।

डॉक्टर सौरव चौधरी ने कहा- हाई हील्स पहनने वाली कई महिलाओं में असहनीय कमर दर्द के कई मामले में मेरे पास आ चुके हैं। इनमें से कई युवतियां तो स्थाई रूप से आर्थोपेडिक समस्याओं का भी शिकार हो जाती हैं। लेकिन इसका एहसास काफी नुकसान झेलने के बहुत बाद होता है। हाई हील्स पहनने से बॉडी की सेंटर ऑफ ग्रेवेटी शिफ्ट हो जाती है, उसकी वजह से मैकेनिकल पेन होता है। जोड़ों में दर्द होता है, क्योंकि बॉडी की मैकेनिक्स बदल जाती है। सारा भार आगे की तरफ रहता है।  मांसपेशियों के ज्वाइंट में ज्यादातर असर करता है। हाई हील्स की सैंडल पहनने से घुटनों पर बहुत दबाव पड़ता है, जिसकी वजह से हाई हील्स पहनने वालों को अक्सर घुटने में दर्द की शिकायत रहती है

जानें हाई हील्स की वजह से क्यों होती है समस्या

डॉ. सौरव चौधरी बताते हैं कि हाई हील्स पहनने वाली लड़कियों व महिलाओं में उनके एंकल और घुटने ज्यादा प्रभावित होते हैं।  यदि कोई लंबे समय तक हाई हील्स पहने तो इससे शरीर को आगे की तरफ झुकाएं रखना होता है, इससे हीप्स और रीढ़ में बदलाव होता है, जिससे लोवर बैक पेन भी होता है। जब हम नॉर्मल चलते हैं तो एंकल और फुट का मुवमेंट सामान्य होता है, लेकिन हाई हील्स पहनने से सारा शरीर का भार पैर के पंजे के एक तरफ हो जाता है। पैर का पंजा घोड़े की पंजे की तरह उठ जाता है। इससे  फुट ज्वाइंट, घुटने के ज्वाइंट, एंकल के ज्वाइंट पर असर होता है। हील्स की वजह से पैर पर दबाव बढ़ जाता है। वहीं शरीर का ऊपरी हिस्सा संतुलन बनाने की कोशिश करता है। कई बार इस बैलेंस बनाने के चक्कर में आप अजीबो-गरीब तरीके से खड़े होने लगते हैं।

Back Pain From Heels

हाई हील्स पहनने से स्पाइन पर पड़ता है असर

डॉ. सौरव बताते हैं कि हाई हील्स पहनकर चलना, नॉर्मल चलना नहीं है। चलने के लिए हमेशा पैर के पंजे का पोजिशन 90 डिग्री में होना चाहिए, लेकिन हील्स पहनने के बाद पंजा मुड़ जाता है। इससे बॉडी के विभिन्न अंग पर अतिरिक्त भार पड़ता है। इससे मैकेनिकल पैन होता है। हाई हील्स से संतुलन बनाने के चक्कर में स्पाइन पर असर पड़ता है और पीठ दर्द एक हमेशा रहने वाला दर्द बन जाता है । हाई हील्स पहनने पर एंकल, घुटने, फुट और लोअर बैक में पैन होता है। हाई हील्स पहनने से पैरों की अंगुलियां भी मुड़ती हैं, जिसके कारण उसमें भी दर्द होता है।

इसे भी पढ़ें : पैर के तलवों में दर्द होने का कारण और इससे छुटकारा पाने के आसान उपाय<

हाई हील्स पहनने से बॉडी में कहां-कहां होता है दर्द

  • पीठ
  • रीढ़
  • हीप्स
  • पंजा
  • पैरों की अंगुलियों में
  • एंकल में
  • घुटनों में
  • पैरों के जोड़ों में
  • पैर की विभिन्न हडि्डयों के ज्वाइंट में दर्द होती है

हाई हील्स के नुकसान को इस तरह कम करें

डॉक्टर  सौरव बताते हैं कि कुछ उपाय आजमाकर समस्या कम की जा सकती है। ड्राइविंग के समय फ्लैट चप्पल पहनें। किसी मीटिंग में बैठने के दौरान जूतियां ढीली कर सकतीं हैं और पैरों को फर्श पर रख सकतीं हैं। इससे पैरों को आराम मिलता है। पैरों को रिलैक्स करने के लिए 20-30 मिनट के अंतराल पर ब्रेक लें व अपनी जूतियां निकाल लें। जूतियों का चयन स्टाइल से न करें। जूतियां पहनने में कितना आराम देंगी इसपर करें। हाई हील्स पहनकर कभी दौड़ लगाने की कोशिश न करें।  इससे पैर के मुड़ने (मुचुकने) की संभावना रहती है। महिलाओं और लड़कियों की कोशिश यही होनी चाहिए  यदि वो हील्स पहनें तो लंबे समय तक न पहनें।

इसे भी पढ़ें : गलत जूते और सैंडल के कारण पैरों में हो सकते हैं घाव और लालपन, एक्सपर्ट से जानें इसके लिए 9 घरेलू नुस्खे

फुटवेयर खरीदते वक्त रखें ध्यान

ऑर्थोपेडिक सर्जन बताते हैं कि गलत फुटवेअर पहनने से कई गंभीर परेशानियां भी हो सकती है। जैसेमॉर्टन न्यूरोमा, हैमर टो, फुट कॉर्न आदि। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम हमेशा फुटवेयर का सलेक्शन स्टाइल को देख कर करते हैं। हमें फुटवेयर की खरीदारी करते वक्त उसकी स्टाइल के साथ फुटवेयर किताना आराम दायक है इसका भी ख्याल रखना चाहिए। गलत फुटवेअर पहनना पैरों के साथ ही सेहत के लिए भी हानिकारक साबित हो सकता है। लिहाजा पैरों की संरचना, उनकी लंबाई और तलवे का ध्यान रखते हुए ही फुटवेयर खरीदना व पहनना चाहिए। ध्यान रखें जो फुटवेयर ( जूता, चप्पल, सैंडल, जूती) आप ले रहें हैं, उसका सोल मोटा हो या फिर सोल के बीच का भाग उठा हुआ हो। स्ट्रैप वाली सैंडल पहनें। इससे एड़ियों पर दबाव पड़ता है, क्योंकि इनमें पैरों को ग्रिप बनाने में मेहनत करनी पड़ती है। अच्छे ब्रांड की चप्पल या सैंडल ही पहनें जिनका साइज और शेप जल्दी न बिगड़े।

समस्या हो तो लें डॉक्टरी सलाह

यदि आप भी लंबे समय से हाई हील्स वाले फुटवियर पहन रही हैं तो आपको भी परेशानी हो सकती है। यदि किसी महिला या लड़की को इस प्रकार की समस्या है तो उसे डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। ताकि समस्या से जल्द से जल्द निजात पाया जा सके। इसके लिए वो चाहें तो हाई हील्स को पहनना छोड़ सकती है और डॉक्टरी परामर्श ले सकती हैं। यदि इस बीमारी का उपचार न किया गयो तो यह गंभीर रूप ले सकता है।

Read More Articles on Diseases in Other Disease

Disclaimer