Doctor Verified

ड‍िलीवरी के बाद प‍िंपल की समस्‍या से आपको बचाएंगे ये 5 सरल उपाय

ड‍िलीवरी के बाद प‍िंपल की समस्‍या से बचने के ल‍िए आप भी कुछ बेहतरीन उपाय अपनाकर देखें  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 02, 2022Updated at: May 02, 2022
ड‍िलीवरी के बाद प‍िंपल की समस्‍या से आपको बचाएंगे ये 5 सरल उपाय

प्रेगनेंसी का दौरान नाजुक होता है, इस दौरान होने वाली मां को कई ऐसी शारीर‍िक और मानस‍िक समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है जो उसके ल‍िए नई है ज‍िनमें से एक है एक्‍ने की समस्‍या। प्रेगनेंसी के दौरान एक्‍ने की समस्‍या का मुख्‍य कारण है हार्मोनल चेंज। हार्मोन्‍स में बदलाव के कारण मह‍िलाओं को एक्‍ने यानी प‍िंपल की समस्‍या (postpartum acne) हो सकती है। अगर एक्‍ने में रेडनेस नजर आती है, उसमें दर्द होता है तो आपको डॉक्‍टर से संपर्क करना चाह‍िए। अगर ट्रीटमेंट के बाद भी एक्‍ने की समस्‍या दूर नहीं होती है तो आपको व‍िशेषज्ञ की मदद लेने में देरी नहीं करना चाह‍िए। अगर आप प‍िंंपल की समस्‍या से बचना चाहते हैं तो कुछ आसान ट‍िप्‍स को फॉलो कर सकते हैं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोजिस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की। 

skin care routine      

1. प्रेगनेंसी में स्‍क‍िन केयर रूटीन फॉलो करें (Follow skin care routine during pregnancy)

प्रेगनेंसी में आपको सही स्‍क‍िन केयर रूटीन फॉलो करना चाह‍िए। अपने ल‍िए माइल्‍ड फेसवॉश चुनें और मेकअप का इस्तेमाल अवॉइड करें। आपको अच्‍छे मॉइश्‍चराइजर का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए, साथ ही मेकअप का इस्‍तेमाल प्रेगनेंसी के दौरान अवॉइड करें, इससे बच्‍चे की सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है और मेकअप, एक्‍ने की समस्‍या को भी दावत देता है। कुछ मह‍िलाएं स्‍क‍िन केयर रूटीन में भी प्रोडक्‍ट्स का बहुत ज्‍यादा इस्‍तेमाल करती हैं पर उसकी जगह आप नैचुरल इंग्रीड‍िएंट्स जैसे  नीम, तुलसी, एलोवेरा, हल्‍दी, टमाटर को अपने स्‍क‍िन केयर में शाम‍िल कर सकते हैं।   

इसे भी पढ़ें- स्किन में कोलेजन की मात्रा बढ़ाने के लिए जरूरी हैं ये 6 पोषक तत्व, जानें इनके स्रोत    

2. बॉडी और स्‍क‍िन को हाइड्रेट रखें (Hydrate yourself during pregnancy)

आपको अपनी बॉडी और स्‍क‍िन को हाइड्रेट रखना चाह‍िए, ड‍िहाइड्रेशन के कारण भी स्‍क‍िन फटने लगती है और उसमें बैक्‍टीर‍िया जमा होने के कारण एक्‍ने की समस्‍या होती है और ये खासकर प्रेगनेंसी के दौरान देखने को म‍िलता है इसल‍िए आपको रोजाना 8 से 10 ग‍िलास पानी का सेवन करना चाह‍िए इससे प‍िंपल की समस्‍या (postpartum acne) भी नहीं होगी।

3. प्रेगनेंसी के दौरान यूवी रेज से बचें (Reduce exposure to UV rays)

प्रेगनेंसी के दौरान आपको यूवी रेज से बचना चाह‍िए। यूवी रेज के कारण भी एक्ने की समस्‍या हो सकती है। आपको बाहर न‍िकलते समय चेहरे और स्‍क‍िन को कवर करना चाह‍िए और कोश‍िश करें क‍ि दोपहर के दौरान जब धूप तेज होती है उस समय बाहर जाना अवॉइड करें। इसके अलावा आपको अपनी स्‍क‍िन पर केवल ऑर्गेन‍िक प्रोडक्‍ट्स इस्‍तेमाल करने चाह‍िए, कोश‍िश करें क‍ि नैचुरल सामग्री का इस्‍तेमाल ज्‍यादा और प्रोडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल कम हो।   

इसे भी पढ़ें- देसी घी और मिश्री एक साथ खाने से शरीर को मिलते हैं ये 6 फायदे, जानें खाने का तरीका     

4. प्रेगनेंसी में संतुल‍ित आहार लें (Eat balanced diet during pregnancy)

acne during pregnancy

प्रेगनेंसी के दौरान बैलेंस्‍ड डाइट का रोल अहम है। प्रेगनेंसी में अच्‍छी डाइट लेने से मां और बच्‍चे की सेहत तो अच्‍छी रहती ही है साथ ही स्‍क‍िन के ल‍िए सही आहार जरूरी है, प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली एक्‍ने की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आपको अपनी डाइट फाइबर र‍िच फूड्स, दही, म‍िल्‍क प्रोडक्‍ट्स आद‍ि को शाम‍िल करना चाह‍िए। सही आहार लेने से आपको पोस्‍टपॉर्टम एक्‍ने की समस्‍या नहीं होगी। इसके अलावा प्रेगनेंसी के दौरान आपको तला-भुना खाना भी ज्‍यादा नहीं खाना चाह‍िए इससे एक्‍ने बढ़ जाते हैं खासकर गर्मि‍यों के मौसम में इस बात का ख्‍याल रखें।        

5. प्रेगनेंसी के दौरान तनाव से बचें (Avoid stress during pregnancy)

एक्‍ने की समस्‍या से बचने के ल‍िए आपको स्‍ट्रेस फ्री रहना चाह‍िए, स्‍ट्रेस कम होगा तो स्‍क‍िन भी हेल्‍दी रहेगी और एक्‍ने की समस्‍या नहीं होगी। आपको प्रेगनेंसी के दौरान तनाव कम करने के ल‍िए रोजाना मेड‍िटेशन करना चाह‍िए, मेड‍िटेशन से आपकी हेल्‍थ और स्‍क‍िन दोनों पर प्रेगनेंसी के साइड इफेक्‍ट्स नहीं पड़ेंगे। स्‍ट्रेस फ्री रहने के ल‍िए हेल्‍दी रूटीन फॉलो करें, सोने का समय फ‍िक्‍स करें और समय-समय पर अपने मील्‍स खाते रहें।   

इन आसान ट‍िप्‍स को फॉलो करेंगे तो प्रेगनेंसी के दौरान एक्‍ने और स्‍क‍िन से जुड़ी अन्‍य समस्‍याओं से बच सकते हैं।

Disclaimer