प्रेग्नेंसी (गर्भावस्था) में शहद खाने के 5 फायदे और जरूरी सावधानियां

गर्भावस्था में शहद के सेवन के कई फायदे होते हैं। यहां जानें इसके फायदे और सावधानियां। 

 
Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Jul 05, 2021Updated at: Jul 05, 2021
प्रेग्नेंसी (गर्भावस्था) में शहद खाने के 5 फायदे और जरूरी सावधानियां

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाएं अपने खान-पान को लेकर चिंतित रहती हैं। हालांकि यह लाजमी भी है। ऐसे में सेहत के प्रति लापरवाही बरतने से होने वाले बच्चे की सेहत पर भी नुकसान पहुंच सकता है। क्या आप जानती हैं गर्भावस्था में शहद खाने से सेहत को कई फायदे होते हैं? गर्भावस्था में शहद खाने से आपकी इम्यूनिटी बेहतर होने के साथ ही अच्छी नींद और पाचन तंत्र भी अच्छा रहता है। शहद में एंजाइम्स, मिनिरल्स और एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा पाई जाती है, जो सेहत के लिहाज से काफी बेहतर होती है। प्राकृतिक स्वीटनर के तौर पर इस्तेमाल किया जाने वाला शहद पेट के एसिड को कम करने में भी सहायक होता है। गर्भावस्था के दौरान शरीर के लिए जरूरी माने जाने वाले तकरीबन पोषक तत्व शामिल होते हैं। चलिए जानते हैं गर्भावस्था में शहद खाने के कुछ फायदों के बारे में। 

pregnancy

1. पाचन तंत्र करे बेहतर (Keeps good Digestion)

गर्भावस्था के दौरान शहद का सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याएं भी खत्म होती हैं। शहद से बदहज्मी, कब्ज और अल्सर आदि जैसी समस्याएं दूर होती हैं। शोध की मानें तो भी शहद खाने से आपकी शरीर में एसिड डाउन होता है और पाचन तंत्र सक्रिय होता है। शहद आपके पेट में मौजूद एसिड को गलेट या फूड पाइप तक आने से रोकता है, जिससे एसिड बर्न आदि का भी खतरा काफी कम रहता है। इसके लिए आप गुनगुने पानी में शहद का इस्तेमाल कर पी सकते हैं। वहीं शहद में एंटी अल्सर गुण पाए जाते हैं, जो अल्सर के लक्षणों को भी कम करते हैं। 

इसे भी पढ़ें - गर्भावस्था की पहचान हैं शरीर में होने वाले ये 3 बदलाव, जानें प्रेग्नेंट होने के अन्य लक्षण

2. इम्यूनिटी बढ़ाने में सहायक (Helps In Boosting Immunity)

गर्भावस्था के दौरान इम्यूनिटी का मजबूत होना भी काफी जरूरी होता है। मां की इम्यूनिटी का बच्चे पर भी सीधा असर पड़ता है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में कुछ हार्मोनल चेंजेंज देखे जाते हैं। इसलिए गर्भावस्था में बेहतर इम्यूनिटी जरूरी है। इस दौरान शहद का सेवन करना आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। मिकिगन स्टेट यूनिवर्सिटी द्वारा की गई रिसर्च में यह पाया गया कि शहद इम्यूनिटी बिल्डर के तौर पर काम करता है। 

3. सर्दी-जुकाम में मददगार (Helpful In Cold)

सर्दी जुकाम को ठीक करने में शहद अहम भूमिका निभाता है। गर्भावस्था में हार्मोनल चेंजेस के कारण भी कई बार आपको सर्दी जुकाम हो सकता है। खासकर ऐसी अवस्था में सर्दी-जुकाम जैसी समस्याओं की दवाइयां जहां तक हो सके नजरअंदाज करने की सलाह दी जाती है। ऐसे में आप गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीएं। इससे आपको कुछ ही समय में सर्दी जुकाम से आराम मिलेगा। आप चाहें तो इसमें नींबू या अदरक भी मिला सकते हैं। शहद में एंटी माइक्रोबियल प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं, जो शरीर से बैक्टीरिया और वायरस का सफाया करती है।   

4. एलर्जी होने से बचाए (Prevents from Allergy)

गर्भावस्था में एलर्जी आम परेशानी हो सकती है। वहीं शहद में एंटी एलर्जिक गुण भी पाए जाते हैं, जो गर्भावस्था के दौरान आपको किसी भी प्रकार की एलर्जी होने से बचाते हैं। शहद में पॉलेन नामक तत्व पाया जाता है, जो मौसम के कारण हो रही एलर्जी से आपको बचाता है। हालांकि अगर इसे आप एलर्जी के लिए ही इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक बार अपने चिकित्सक की सलाह जरूर लें। 

sleeping

5. अनिद्रा से दिलाए राहत (Provide Relief from Insomnia)

गर्भावस्था के दौरान आपको पर्याप्त नींद की जरूरत होती है। वहीं ऐसी अवस्था में तनाव के चलते भी नींद नहीं आना कई बार सामान्य हो जाता है। शहद में हायप्नॉटिक पाया जाता है, जो नींद आने और तनाव को कम करने में बेहतर होता है। इसके लिए दूध में शहद को डालकर पीना काफी फायदेमंद माना जाता है। दूध के साथ शहद आपके ब्रेन के सेरोटॉनिन व मेटाटॉनिन और कार्बोहाइड्रेट्स को सक्रिय कर देते हैं, जिससे आपको आसानी से नींद आती है। 

इसे भी पढ़ें - इन 6 कारणों से नहीं बढ़ता है स्तनों का आकार (ब्रेस्ट साइज), जानें कुछ महिलाओं में क्यों होती है ये समस्या

गर्भावस्था में शहद खाते समय बरतें यह सावधानियां (Precautions while eating Honey In Pregnancy)

  • गर्भावस्था में शहद खाने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। इसलिए ऐसे में सावधानियां बरतना बेहद जरूरी है। 
  • अगर आप शहद को गर्म पानी में डालकर पी रहे हैं तो इसे गर्म पानी की जगह ठंडे या हल्के गुनगुने पानी में डालकर पिएं। इससे शहद के एंजाइम्स नष्ट नहीं होंगे।  
  • ज्यादा मात्रा में शहद का सेवन न करें। इसमें कैलरी की मात्रा काफी होती है। यह गर्भावस्था के दौरान आपका वजन बढ़ा सकती है।  
  • वहीं इसका ज्यादा सेवन पेट फूलना आदि समस्या भी दे सकता है। 
  • शहद खरीदते समय हमेशा एफसीआई की मुहर और उसकी डेट चेक कर लें। 

प्रेगनेंसी में शहद खाने से सेहत को कई फायदे होते हैं। इसके सेवन से पहले एक बार चिकित्सक की सलाह जरूर लें। 

Read more Articles on Womens Health in Hindi

Disclaimer