पित्ती उछलने पर करें ये 5 घरेलू उपाय, मिलेगी चकत्तों और खुजली से राहत

पित्ती उछलने पर त्वचा पर खुजली के साथ लाल रंग के दाने और चकत्ते हो जाते हैं। आप कुछ घरेलू उपाय करके इसके लक्षणों को कम कर सकते हैं।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Oct 02, 2022 07:43 IST
पित्ती उछलने पर करें ये 5 घरेलू उपाय, मिलेगी चकत्तों और खुजली से राहत

Home Remedies For Hives: पित्ती उछलना एक तरह की स्किन एलर्जी है, जिसमें त्वचा पर खुजली के साथ लाल रंग के दाने और चकत्ते हो जाते हैं। इसे मेडिकल भाषा में हाइव्स (Hives) या अर्टिकैरिया (Urticaria) के नाम से भी जाना जाता है। वहीं, आम भाषा में इसे शीतपित्त, छपाकी या ददोरे भी कहते हैं। मुख्य तौर पर यह समस्या ज्यादा ठंडा-गरम या तापमान के बदलाव के कारण हो सकती है। लेकिन, इसके कुछ और भी कारण हो सकते हैं, जैसे पेट ठीक से साफ ना होने, कीड़ों के काटने, ज्यादा पसीना आने या कुछ दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण भी पित्ती उछलने की समस्या हो सकती है। इस समस्या में प्रभावित हिस्से की त्वचा लाल और उभरी हुई दिखती है। सामान्य तौर पर पित्ती के लक्षण और प्रभाव कुछ घंटों में अपने आप ठीक हो जाते हैं, लेकिन कुछ मामलों में यह समस्या लंबे समय तक बनी रह सकती है। पित्ती उछलने पर कुछ घरेलू उपाय करके आप इसके लक्षणों को कम कर सकते हैं - 

पित्ती के लक्षण (Symptoms Of Hives)

त्वचा पर खुजली होना

त्वचा का लाल या गुलाबी रंग का होना 

त्वचा पर सूजन होना 

सिर में दर्द होना

पलक, गले और होठों में सूजन होना 

कभी-कभी सांस लेने में कठिनाई महसूस करना

बेहोशी होना

चक्कर आना

उल्टी या मतली महसूस होना 

इसे भी पढ़ें : ब्रेस्‍ट में हो रही खुजली को रोकने के ल‍िए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

पित्ती के घरेलू उपाय (Home Remedies For Hives)

अदरक

पित्ती उछलने पर आप अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा की सूजन को कम करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही, अदरक का सेवन करने से शरीर में जमा विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है और खून साफ होता है। इससे त्वचा पर खुलजी और चकत्ते की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है। इसके लिए आप एक चम्मच ताजे अदरक के रस में दो चम्मच शहद मिलाएं और इसका सेवन करें। आप इस मिश्रण का सेवन दिन में 3 से 4 बार तक कर सकते हैं। इससे पित्ती की समस्या में जल्द आराम मिलेगा। 

टी ट्री ऑयल

पित्ती की समस्या से निपटने के लिए आप टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो सूजन को कम करने और संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं। टी ट्री ऑयल लगाने से त्वचा की लालिमा और खुजली को कम करने में भी मदद मिलती है। इसके लिए एक कप पानी में 12-15 बूंदें टी ट्री ऑयल की डालें। अब इसमें एक पट्टी या कॉटन के कपड़े को भिगोएं और प्रभावित हिस्से पर दो से चार मिनट के लिए लगाएं। आप चाहें तो एक कॉटन पैड में 2-4 बूंदें टी ट्री ऑयल की डालकर प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं। ऐसा दिन में दो से तीन बार करने से पित्ती की समस्या में काफी आराम मिलेगा। 

नारियल का तेल 

पित्ती की समस्या में नारियल के तेल का इस्तेमाल भी बहुत प्रभावी माना गया है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं। नारियल के तेल में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं, जिससे त्वचा को नमी मिलती है। त्वचा पर नारियल का तेल लगाने से खुजली, जलन और सूजन को कम करने में मदद मिलती है। इसके लिए थोड़ा सा नारियल का तेल लेकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इसे कुछ घंटों के लिए ऐसे ही छोड़ दें। 

इसे भी पढ़ें : दाद, खाज, खुजली किस विटामिन की कमी से होता है? जानें इसके स्रोत 

एलोवेरा जेल

त्वचा के लिए एलोवेरा जेल बहुत फायदेमंद माना जाता है। पित्ती की समस्या में भी इसका इस्तेमाल काफी प्रभावी है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। एलोवेरा जेल लगाने से संक्रमण रोकने के साथ-साथ सूजन और जलन को कम करने में भी मदद मिलती है। पित्ती की समस्या में ताजा एलोवेरा लेकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं और 20-30 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद इसे पानी से धो लें। ऐसा दिन में दो से तीन बार करें।  

अजवायन

पित्ती की समस्या से राहत पाने के लिए आप अजवायन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। यह त्वचा पर बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है, जिससे पित्ती में आराम मिलता है। 50 ग्राम अजवायन को दरदरा पीस लें और इसमें 50 ग्राम गुड़ मिलाकर 15 गोलियां बन लें। अब एक गोली सुबह-शाम पानी के साथ लें। इससे पित्ती में जल्द ही आराम मिलेगा।

इन सभी चीजों का इस्तेमाल करके आप पित्ती उछलने के कारण त्वचा पर हो रहे चकत्तों, खुजली और सूजन जैसे लक्षणों को कम कर सकते हैं।

 
Disclaimer