मौसम में हल्‍की ठंडक कहीं ब‍िगाड़ न दे आपकी सेहत, न करें ये 5 गलतियां

मौसम में ठंडक बढ़ने के साथ बीमार‍ियों का खतरा भी बढ़ जाता है। इस समय डेंगू का प्रकोप देखते हुए इन 5 गल‍त‍ियों से बचना चाह‍िए।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Nov 02, 2022 10:57 IST
मौसम में हल्‍की ठंडक कहीं ब‍िगाड़ न दे आपकी सेहत, न करें ये 5 गलतियां

मौसम में ठंडक बढ़ने के साथ बीमार‍ियों का प्रकोप भी बढ़ गया है। कई शहरों में डेंगू के मामले बढ़ रहे हैं। अक्‍सर ऐसा देखा गया है क‍ि ठंड के द‍िनों में हम थोड़ा लापरवाह हो जाते हैं। इस मौसम में सेहत के प्रत‍ि जरा सी लापरवाही भी नुकसानदायक हो सकती है। ठंड के द‍िनों में बुखार, सर्दी, खांसी, जोड़ों में दर्द की समस्‍या बढ़ जाती है। इस दौरान की जाने वाली कुछ गलत‍ियों के कारण आप बीमारी की चपेट में आ सकते हैं। इस लेख में हम ऐसी ही 5 गलत‍ियों के बारे में बताने जा रहे हैं। लेख को अंत तक पढ़ें।

winter diseases in hindi

1. शरीर को साफ न रखना 

ठंड के द‍िनों में हर क‍िसी को रोजाना नहाने में आलस्‍य आता है। लेक‍िन आपको बता दें ठंड के द‍िनों में ये एक बड़ी गलती हो सकती है। डेंगू, कोव‍िड, त्‍वचा रोग और अन्‍य बीमार‍ियों को देखते हुए शरीर की साफ-सफाई जरूरी है। रोज नहीं नहाएंगे, तो शरीर में बैड बैक्‍टीर‍िया की मात्रा बढ़ जाएगी और बीमार‍ियां हो सकती हैं। ऐसे व्‍यक्‍त‍ि के करीब न रहें, जो सफाई न रखे या बीमार हो।    

इसे भी पढ़ें- सर्दियों में बढ़ जाता है इन 5 समस्याओं का खतरा, डॉक्टर से जानें बचाव के उपाय

2. कसरत न करने के नुकसान 

ठंड के द‍िनों में लोगों की फ‍िज‍िकल एक्‍ट‍िव‍िटी न के बराबर हो जाती है। लोग रजाई में आराम से सोना पसंद करते हैं। ये आदत आपकी सेहत को खराब कर सकती है। ठंड के द‍िनों में कसरत न करने से जोड़ों में जकड़न हो सकती है। मसल्‍स को लचीला रखने के ल‍िए कसरत करना जरूरी है। क‍िसी कारण से कसरत न भी कर पाएं, तो सर्दि‍यों के द‍िनों में टहलना न छोड़ें। 40 से 50 म‍िनट हल्‍के व्‍यायाम और वॉक जरूर करें।

3. ज्‍यादा सोने के नुकसान 

हम सब जानते हैं क‍ि ठंड के द‍िनों में ज्‍यादा सोने का मन करता है। हर कोई सुबह की ठंड में रजाई छोड़ना नहीं चाहता पर आपको बता दें क‍ि ये आदत सही नहीं है। ज्‍यादा सोने से आपको क्रोन‍िक बीमार‍ियां जैसे डायब‍िटीज, मोटापा, हार्ट रोग हो सकता है। ज्‍यादा सोने से पूरे द‍िन शरीर में ऊर्जा नहीं रहती और काम में मन नहीं लगता। ज्‍यादा थकान महसूस हो सकती है और आप तनाव की चपेट में आ सकते हैं।

4. हाथ-पैरों को न ढकना 

शरीर को गरम रखने के ल‍िए शरीर के बाक‍ि अंगों के साथ हाथ और पैरों को ढकना जरूरी है। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे, तो ठंडी हवाओं के श‍िकार हो जाएंगे। शरीर को गरम रखकर, बदलते मौसम में खुद को बीमार होने से बचा सकते हैं। कई लोग ग्‍लब्‍स या गरम मोजे पहने ब‍िना ही बाहर न‍िकल जाते हैं। ऐसा करने से सर्दी, खांसी, जुकाम आद‍ि समस्‍याएं हो सकती हैं।

5. कम पानी पीने से पड़ सकते हैं बीमार  

ये सच है क‍ि ठंड के द‍िनों में प्‍यास कम लगती है। लेक‍िन इसका मतलब ये नहीं है क‍ि शरीर को पानी की जरूरत नहीं है। ठंड के द‍िनों में भी पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करना चाह‍िए। हर द‍िन 2 से 3 लीटर पानी प‍िएं। पानी का सेवन न करने से क‍िडनी की समस्‍या, इंडाइजेशन जैसी समस्‍याओं के श‍िकार हो सकते हैं। ठंड के द‍िनों में पानी का सेवन न करने से त्‍वचा रूखी और बेजान हो जाती है, मुंह से बदबू आ सकती है और थकान महसूस हो सकती है।

ठंड के द‍िनों में बीमार‍ियों से कैसे बचें?

  • हेल्‍दी डाइट लें। हरी सब्‍ज‍ियों का सेवन करें।
  • ठंडा खाना न खाएं।
  • ज्‍यादा म‍िर्च या मसाले वाले भोजन के सेवन से बचें।
  • रोजाना कसरत करें।
  • साफ-सफाई पर गौर करें।
  • बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए ठंडी हवा से बचाव करें।

ऊपर बताई गई ट‍िप्‍स को फॉलो करेंगे, तो ठंड के द‍िनों में फ‍िट और हेल्‍दी रह सकते हैं। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें। 

Disclaimer