हेडस्टैंड (शीर्षासन) करने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे, जानें करने का तरीका

Health benefits of Headstand in Hindi:  शीर्षासन करने से हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद मिलती है। इसके अलावा ये एकाग्रता बढ़ाने में भी मदद करता है। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Jan 23, 2023 11:39 IST
हेडस्टैंड (शीर्षासन) करने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे, जानें करने का तरीका

Health benefits of Headstand in Hindi: 'योग करो और निरोग रहो' जब बात स्वस्थ रहने की आती है तो ज्यादातर लोगों के दिमाग में रोजाना योग करने का ही ख्याल आता है। योग सेहत के लिए फायदेमंद तो है लेकिन सवाल उठता है कि कौन सा योगासन करने से दिल, दिमाग और पूरे शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। इस सवाल का जवाब है हेडस्टैंड यानी की शीर्षासन (Sirsasana Benefits)। हेडस्टैंड को योगासनों का राजा कहा जाता है। रोजाना थोड़ी देर हेडस्टैंड करने से शरीर को सही तरीके से संतुलित करने और बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। आज इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं हेडस्टैंड करने के फायदे और इसके करने का तरीका।

हेडस्टैंड करने से सेहत को मिलने वाले फायदे  - Health Benefits of doing Handstand

1. नियमित तौर पर शीर्षासन करने से टेंशन और डिप्रेशन से मुक्ति दिलाने में मदद मिलती है।

2. शीर्षासन करने से स्ट्रेस वाले हार्मोन को बैलेंस करने में मदद मिलती है, जिससे दिमाग शांत रहता है। 

3. शीर्षासन करने से दिमाग की कोशिकाओं में सही तरीके से ऑक्सीजन पहुंच पाता है, जिससे एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है। 

4. शीर्षासन करने से ये ब्लड फ्लो में सुधार करता है, जिसकी वजह से यह आंख, कान और नाक सही तरीके से काम कर पाते हैं। 

5. नियमित तौर पर शीर्षासन करने से हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद मिलती है, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसी खतरनाक बीमारियों को शरीर से दूर रखने में मदद मिलती है।

इसे भी पढ़ेंः कंधे के दर्द से राहत दिलाएंगे ये 5 योगासन, आज ही करें ट्राई

Health_benefits_of_Headstand

शीर्षासन करने का सही तरीका - Sirsasana Kaise Kare in Hindi

अगर आप शीर्षासन करने की शुरुआत कर रहे हैं तो इसकी शुरुआत दीवार के सहारे से करें। एक बार नियमित तौर पर शीर्षासन की प्रैक्टिस करने के बाद आप बिना दीवार के सहारा इसे कर सकते हैं।

  • शीर्षासन करने के लिए सबसे पहले हाथों के तलवों को जमीन पर सही तरीके से टिका लें।
  • इसके बाद दीवार के सहारे रखी योगा मैट पर अपने हाथों की उंगलियों को लॉक करने की कोशिश करें।
  • जब हाथों की उंगलियां लॉक हो जाएं तो पैरों को सिर के पास लाते हुए कमर और गर्दन को सीधा करने की कोशिश करें।
  • इस दौरान ध्यान रखें कि आपकी कमर, गर्दन और कंधे को बिल्कुल सीधा रखें।
  • अब धीरे-धीरे शरीर का संतुलन बनाते हुए अपने एक पैर को ऊपर की तरफ सीधा करने की कोशिश करें।
  • अब अपनी क्षमता के अनुसार इस पोजीशन में 10 से 15 सेकेंड तक रहें और दोबारा प्रैक्टिस करें।

कितनी देर करें हेडस्टैंड

जो लोग नियमित तौर पर हेडस्टैंड करते हैं वो इसे 5 से 7 मिनट तक कर सकते हैं। वहीं, जो लोग इस योगासन की शुरुआत कर रहे हैं वो इसे 30 सेकंड तक कर सकते हैं। समय और प्रैक्टिस के साथ आप हेडस्टैंड करने का वक्त बढ़ा सकता है।

 

Pic Credit: Freepik.com

 
Disclaimer