इन सात वजहों से हो सकता है सर दर्द, एक्सपर्ट से जानें कारण और बचाव

अगर आप हर वक्त सिर के दर्द से परेशान रहते हैं और आपको इसके पीछे का कोई कारण समझ नहीं आता तो पढ़ें ये खबर...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Nov 17, 2020Updated at: Nov 17, 2020
इन सात वजहों से हो सकता है सर दर्द, एक्सपर्ट से जानें कारण और बचाव

लोगों को लगता है कि उनका सर दर्द केवल माइग्रेन, तनाव, सर्वाइकल या साइनस के कारण ही हो सकता है पर ऐसा नहीं है। कई बार कुछ ऐसे असामान्य कारण हो जाते हैं, जिसके कारण सर में दर्द जैसी समस्या सामने आती हैं। अगर आप हर वक्त सिर के दर्द से परेशान रहते हैं और आपको इसके पीछे का कोई कारण समझ नहीं आता तो हो सकता है कि आपकी लापरवाही के कारण ऐसा हो रहा हो। ऐसे बहुत से कारण हैं जिन पर हम ध्यान भी नहीं देते हैं और वह बड़ी समस्या देकर जाते हैं। यदि अगर आप समय रहते इन समस्याओं के लक्षणों को पहचान लें तो आप अपनी परेशानी से भी बच सकेंगे। इस लेख के माध्यम से हम बताएंगे वह सामान्य कारण के बारे में, जिनके कारण आपके सिर में दर्द हो सकता है। पढ़ते हैं आगे... 

कैफीन के ओवरडोज से हो सकती है परेशानी

आपने देखा होगा कि खाने की कुछ चीजों में कैफीन की मात्रा ज्यादा होती है। उदाहरण के तौर पर पुडिंग, केक आदि में कैफीन ज्यादा पाया जाता है। इनके अधिक सेवन से भी सिर में दर्द की समस्या हो सकती है। इसके अलावा कॉफी, चाय, कोला आदि लिक्विड के सेवन से भी यह समस्या हो सकती है।

कैसे करें बचाव

अगर आप चाय, कॉफी, कोला कोल्ड ड्रिंक आदि की मात्रा को कम कर देंगे तो आपके शरीर में कैफीन की मात्रा खुद-ब-खुद कम हो जाएगी। इसके अलावा मोनो सोडियम ग्लूटामैट जैसे प्रोसेस्ड मीट, फिश, रेड वाइन, सिट्रस फ्रूट आदि चीजें डाइट से निकाल दें।

खुशबू के कारण सर में दर्द

कभी-कभी ज्यादा खुशबू के कारण सर में दर्द होने लगता है। तेज महक से किसी किसी को एलर्जी होती है जिसका पता तब चलता है जब माहौल में तेज सुगंध आ रही हो। ऐसे में लोगों को सिर दर्द की परेशानी हो सकती है।

क्या करें

अगर आपको तेज फ्रेगरेंस से परेशानी है तो दूरी बना लें। या फिर वहां से दूर हट जाए, जहां परफ्यूम स्प्रे हो रहा हो। इसके अलावा आप अब खुद के पास मास्क भी रख सकते हैं। याद रखें अगर तेज खुशबू से आप के सर में दर्द हो रहा हो तो यह दर्द आसानी से नहीं जाता है। इसके लिए आपको पेन किलर की मदद लेनी पड़ती है।

ब्रेन फ्रीज

कई बार हम ठंडी आइसक्रीम या बर्फ कोल्ड ड्रिंक आदि खा लेते हैं, जिनके कारण सर में दर्द शुरू हो जाता है इस चीजों के सेवन को ब्रेन फ्रीज कहा जाता है। जो बहुत ज्यादा ठंडा खाने पर होता है। यदि आपको माइग्रेन की समस्या है तो आप ठंडा खाने से बचें।

क्या करें

अगर आप इस समस्या से बचना चाहते हैं तो ठंडी चीजों के सेवन से बचें। इसके अलावा कोल्ड ड्रिंक जैसे पेय पदार्थ चीजों का सेवन भी कम कर दें।

इसे भी पढ़ें-  संक्रमण की वजह से फैलता है सेप्टिक गठिया, जानिए इसके लक्षण और उपचार

चुस्त कपड़े पहनने से भी दर्द

कई बार हम ऐसे कपड़े पहन लेते हैं जो हमारे शरीर पर दबाव डालते हैं। जैसे टाइट बेल्ट, चुस्त कपड़े आदि। इनसे अक्सर सिर दर्द की परेशानी होती है। अधिक देर तक पेट अगर भीतर की तरफ दवा रहता है तो आपके सिर में दर्द हो सकता है।

क्या करें

अगर आप सर दर्द से बचना चाहते हैं तो आरामदायक कपड़े पहनें। खाना खाते समय पेट टाइट ना रखें। साथ ही जो लोग फिट कपड़े खरीदते हैं वह अपने फिटिंग से एक नंबर हल्का कपड़ा खरीदें।

गैस्ट्रोनॉमी

कुछ लोग तेज मिर्च मसाले का खाना खाना पसंद करते हैं। ऐसे लोग जंक फूड आदि हैवी खाने के शौकीन होते हैं। इन लोगों के पेट में जलन में गैस बनने की समस्या होती है। यह इस कारण भी सर में दर्द जैसी परेशानी सामने आती है।

क्या करें

अधिक मिर्च मसाला या तला भूना खाना ना खाएं। यह सब खाने पेट में एसिड बनाते हैं जो लोग खाने के तुरंत बाद लेट जाते हैं उन्हें भी गैस्ट्रिक समस्या हो सकती है। कम से कम सोने से 2 घंटे पहले खाना खाएं। इसके अलावा जितना पानी हो सके उतना पानी पीएं।

वातावरण को रखें सुरक्षित

वातावरण में अचानक से बदलाव आ जाना या तेज हवाओं का चल देना इससे भी सिरदर्द जैसी परेशानी हो सकती है। कभी-कभी दिन में सूरज की तेज रोशनी और शाम को ठंडी हवा सिर दर्द का कारण बन जाती है। ऐसे में बदलते मौसम से बचें।

क्या करें

मेडिटेशन इसके लिए एक अच्छा उपाय है। आप जहां रह रहे हैं वहां पर पर्याप्त धूप आए इसके लिए अपने कमरे को हवादार बनाए रखें। सफाई के वक्त मास्क लगाएं। धूप में निकलने से पहले सनग्लासेस और स्काफ का प्रयोग करें और शाम को कानों में रुई लगा कर बाहर निकलें।

फैशन के कारण सिर में दर्द

कुछ लोग भारी इयररिंग्स या टाइट बाल कर लेते हैं, जिससे बालो पर खिंचाव पड़ता है और सर में दर्द शुरू हो जाता है। इसके अलाव बालों के क्लिप्स से भी ये परेशानी सामने आती है। 

क्या करें

अगर आपको लंबी इयररिंग्स पहनने का शौक है तो हल्के इयररिंग्स का चुनाव करें। साथ ही बालों को थोड़ा ढीला बांधें। उन्हें खुला छोड़ देना भी अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें- गर्दन में जकड़न हो या सिर, कान और कंधे में दर्द, सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस से घर पर ऐसे हों ठीक 

Read More Articles on other diseases in hindi

Disclaimer