Doctor Verified

आंखों की रौशनी बढ़ाना चाहते हैं तो खाएं ये 5 फल, जानें फायदे

आंखों को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो इन 5 फलों को अपनी डाइट में जरूर शाम‍िल करें, जानें इनके बारे में 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Nov 01, 2021Updated at: Nov 01, 2021
आंखों की रौशनी बढ़ाना चाहते हैं तो खाएं ये 5 फल, जानें फायदे

आंखों की रौशनी बढ़ाने के ल‍िए क्‍या करें? आप आंखों की रौशनी बढ़ाना चाहते हैं तो व‍िटाम‍िन ए, बी, सी, ई आद‍ि का सेवन करें। इन व‍िटाम‍िन का सेवन करने का आसान तरीका है आप फल खाएं। फलों में ये सभी जरूरी व‍िटाम‍िन पाए जाते हैं। आपको आंखों के स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने के लि‍ए रोजाना ताजे फल और सब्‍ज‍ियों को मुख्‍य आहार के रूप में अपनी थाली के 60 प्रत‍िशत ह‍िस्‍से में जगह देनी चाह‍िए। फलों में व‍िटाम‍िन और म‍िनरल मौजूद होते हैं जि‍न्‍हें हम एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स कहते हैं। इन एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स से सैल्‍स और ट‍िशू हेल्‍दी रहते हैं और आंखों से जुड़ी बीमार‍ियों का खतरा कम होता है। इस लेख में हम आंखों के स्‍वास्‍थ्‍य के ल‍िए जरूरी 5 फलों के बारे में चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डाइटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की।

papaya for eyes

(image source:google)

1. आंखों की रौशनी बढ़ानी है तो खाएं पपीता (Papaya)

पपीते में इंजाइम्‍स, एंटी-ऑक्‍सीडेंट की अच्‍छी मात्रा होती है ज‍िससे आंखों को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है। पपीते का सेवन करने से आंखों की रौशनी बढ़ती है और आंखों से जुड़ी बीमारी भी नहीं होती। आपको छोटे बच्‍चों की डाइट में भी पपीते को शाम‍िल करना चाह‍िए।

2. आंखों में कैटरेक्‍ट की संभावना को कम करता है संतरा (Orange)

आंखों के ल‍िए खट्टे फलों का सेवन फायदेमंद होता है। आंखों को स्‍वस्‍थ रखने के ल‍िए आपको संतरे का सेवन करना चाह‍िए। संतरे में व‍िटाम‍िन सी मौजूद होता है। संतरे के अलावा नींबू, चकोतरा या ग्रेपफ्रूट में भी व‍िटाम‍िन सी की अच्‍छी मात्रा होती है। व‍िटाम‍िन सी एक खास एंटी-ऑक्‍सीडेंट है ज‍िससे कैटरेक्‍ट के लक्षण या कैटरेक्‍ट से बचा जा सकता है। उम्र के साथ आंखें कमजोर होती है पर आंखों की रौशनी को अच्‍छा रखने के ल‍िए व‍िटाम‍िन सी युक्‍त फलों का सेवन फायदेमंद होता है।

इसे भी पढ़ें- खाना बनाते समय आंखों को नुकसान से बचाएंगी डॉक्टर की बताई ये 10 टिप्स

3. नाइट ब्‍लाइंडनेस की समस्‍या से बचना है तो खाएं अमरूद (Guava)

guava for eyes

(image source:wikipedia)

अमरूद में व‍िटामिन सी और व‍िटाम‍िन ए की मात्रा पाई जाती है। व‍िटाम‍िन ए का सेवन आंखों के ल‍िए फायदेमंद होता है, व‍िटाम‍िन ए की कमी से रात के समय देखने में समस्‍या होती है। व‍िटाम‍िन ए की कमी के कारण ड्राय आई की समस्‍या, नाइट ब्‍लाइंडनेस के लक्षण आद‍ि नजर आ सकते हैं। ठंड के मौसम में आपको ताजे अमरूद खाने चाह‍िए, हालांक‍ि एक द‍िन में एक अमरूद से ज्‍यादा न खाएं क्‍योंक‍ि ज्‍यादा अमरूद खाने के कारण कई लोगों को पेट में दर्द की समस्‍या हो जाती है इसल‍िए मात्रा सीम‍ित रखें।

4. रेट‍िना को खराब होने से बचाता है एवोकाडो (Avocado)

एवोकाडो भी आंखों के ल‍िए फायदेमंद होता है, एवोकाडो में व‍िटाम‍िन ई पाया जाता है। व‍िटाम‍िन ई की मदद से आप मैक्‍यूलर डिजनेरेशन (macular degeneration) की समस्‍या से बच सकते हैं। मैक्‍यूलर डिजनेरेशन क्‍या होता है? ये समस्‍या आंखों से जुड़ी है और उम्र बढ़ने के साथ नजर आती है। मैक्‍यूलर ड‍िजनेरेशन होने पर आंख में मौजूद रेट‍िना खराब होने लगती है और इस कारण से आंखों की रौशनी कम हो जाती है और द‍िखना कम होने लगता है। अगर आप एवोकाडो का सेवन करते हैं तो व‍िटामि‍न ई की कमी नहीं होंगी और बुढ़ापे में आंखें स्‍वस्‍थ रहेंगी।

इसे भी पढ़ें- आई बैग्स को दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्खे

5. आंखों की बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए खाएं आडू (Peach)

आडू में भी व‍िटाम‍िन सी और ई जैसे व‍िटाम‍िन पाए जो हैं जो आंखों को मैक्‍यूलर ड‍िजनेरेशन यानी रेट‍िना को खराब होने से बचाते हैं ज‍िससे आंखें स्‍वस्‍थ रहती है। आडू में बीटा-कैरोट‍िन मौजूद होता है ज‍िससे आंखों की रौशनी अच्‍छी रहती है। आडू में ज‍िंक और कॉपर भी पाए जाते हैं, इस फल का सेवन करने से आप कैटरेक्‍ट यानी मोत‍ियाबिंद जैसी समस्‍या से भी बच सकते हैं।

आप रोजाना एक फल का सेवन भी करें तो बुढ़ापे में आंखों की गंभीर समस्‍या से बच सकते हैं, लोग सलाद के रूप में फल और सब्‍ज‍ियों को खाते हैं पर खाने के मुख्‍य हिस्‍से में आपको इन्‍हें शाम‍िल करना चाह‍िए और साइड में अन्‍य चीजें खानी चाह‍िए।

(main image source:google, wikipedia)

Disclaimer