2 साल में 4 करोड़ भारतीय हुए 'लॉन्ग कोविड' के शिकार, इस वैरिएंट से Long Covid का ज्यादा खतरा

कोरोना संक्रमण के बाद देश में 4 करोड़ लोग लॉन्ग कोविड से प्रभावित हैं, जानें कौन से वैरिएंट की वजह से लॉन्ग कोविड का खतरा ज्यादा रहता है।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 20, 2022Updated at: Jun 20, 2022
2 साल में 4 करोड़ भारतीय हुए 'लॉन्ग कोविड' के शिकार, इस वैरिएंट से Long Covid का ज्यादा खतरा

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस महामारी की वजह से बीते 2 सालों से तबाही मची हुई है। बीते 2 साल में कोरोना संक्रमण के चलते लाखों लोगों की जानें गयी हैं और करोड़ों जिंदगियां इससे प्रभावित हुई है। हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार भारत में कोरोना संक्रमण के बाद लॉन्ग कोविड की वजह से 4 करोड़ लोग प्रभावित हैं। कोरोना वायरस संक्रमण शुरू होने के दो साल बाद भी देश में 4 करोड़ लोग ऐसे हैं जो लॉन्ग कोविड से प्रभावित हैं। दरअसल लॉन्ग कोविड एक ऐसी स्थिति है जिसमें मरीज को कोरोना से ठीक होने के बाद भी 4 हफ्ते या उससे अधिक समय के लिए कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई देते हैं। यूनाइटेड किंगडम के शोधकर्ताओं की एक टीम द्वारा किये गए इस शोध के मुताबिक ज्यादातर मामलों में सांस लेने में दिक्कत, शरीर में थकान और जोड़ों में दर्द जैसे लक्षण देखे जा रहे हैं। इस शोध में 204 देशों के ग्लोबल बर्डेन ऑफ डिजीज से भी आंकड़े लिए गए हैं।

लॉन्ग कोविड होने पर लोगों में दिखने वाले प्रमुख लक्षण (Long Covid Symptoms in Hindi)

यूके के शोधकर्ताओं द्वारा किये गए इस अध्ययन में कहा गया है कि साल 2020 और 2021 में 14.47 करोड़ लोगों में लॉन्ग कोविड के तीन प्रमुख लक्षणों में से एक लक्षण जरूर दिखाई दिया है। इस शोध में यह कहा गया है की कोरोना वायरस संक्रमण होने के बाद लोगों में दिखने वाले लॉन्ग कोविड के लक्षणों में 3 लक्ष प्रमुखता से देखे गए हैं। लोगों में लॉन्ग कोविड के दिखने वाले 3 प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं-

  • सांस लेने में दिक्कत
  • ध्यान केंद्रित करने में परेशानी
  • शरीर में थकान और जोड़ों में दर्द
long covid causing variants

लॉन्ग कोविड के लक्षणों को लेकर किये गए इस अध्ययन में कहा गया है कि 14.47 करोड़ लोगों में से लगभग 60.4 प्रतिशत लोगों में खांसी, जुकाम और सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हुई है। इसके अलावा 50 फीसदी से ज्यादा लोगों में शरीर में दर्द, थकान और ध्यान केंद्रित करने में परेशानी जैसे लक्षण देखे गए हैं। इन लोगों में से 35 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को ध्यान केंद्रित करने में परेशानी हुई है। शोध में कहा गया है की लॉन्ग कोविड की सबसे ज्यादा शिकायत 20 से 29 साल की महिलाओं में देखने को मिली है। इस शोध में पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर हुए 44 से ज्यादा अध्ययन और शोध के आंकड़े लिए गए हैं।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस इन 5 अंगों को पहुंचाता है सबसे ज्यादा नुकसान, ऐसे पहचानें शरीर में वायरस के लक्षण

इस वैरिएंट की वजह से ज्यादातर लोग हो रहे लॉन्ग कोविड के शिकार (Which COVID Variant is More Likely to Cause Long Covid)

यूनाइटेड किंगडम के शोधकर्ताओं के मुताबिक दुनियाभर में लोगों को लॉन्ग कोविड का खतरा कोरोना वायरस के कुछ वैरिएंट से ही है। दो सालों में कोरोना के दर्जनों नए वैरिएंट का संक्रमण देखा गया है। कोरोना के हर नए वैरिएंट के कुछ लक्षण दूसरे वैरिएंट से अलग भी रहे हैं। इनमें से अब तक का सबस ज्यादा खतरनाक वैरिएंट डेल्टा और ओमिक्रोन को माना गया है। इस अध्ययन के मुताबिक कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद लॉन्ग कोविड से प्रभावित ज्यादातर मामले डेल्टा और ओमिक्रोन के ही हैं। अध्ययन के मुताबिक ओमिक्रोन से संक्रमित 56,003 लोगों से 4.5 प्रतिशत लोगों में लॉन्ग कोविड के लक्षण देखे गए हैं। वहीं शोध में शामिल  डेल्टा वैरिएंट से प्रभावित 41,361 लोगों में से 4469 यानी लगभग 10.8 प्रतिशत लोगों में लॉन्ग कोविड के लक्षण देखने को मिले हैं। ओमिक्रोन वैरिएंट से संक्रमित लोगों में लॉन्ग कोविड का खतरा डेल्टा के मुकाबले कम हो सकता है।

कैसे पता करें आपको लॉन्ग कोविड है या नहीं? (Tips To Identify Long Covid)

लॉन्ग कोविड एक ऐसी स्थिति है जिसमें कोरोना से संक्रमित मरीज को ठीक होने के 4 हफ्ते बाद या उससे अधिक समय के लिए कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई देते हैं। इस शोध के मुताबिक कोरोना संक्रमण के बाद लॉन्ग कोविड से प्रभावित ज्यादातर लोगों में लॉन्ग कोविड के 3 प्रमुख लक्षण सांस लेने में तकलीफ, शरीर और जोड़ों में दर्द और ध्यान केंद्रित करने में परेशानी देखे गए हैं। ऐसे लोग जो कोविड संक्रमण से ठीक होने के बाद भी लंबे समय के लिए इन लक्षणों से प्रभावित रहते हैं उन्हें लॉन्ग कोविड होता है। यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के अनुसार लॉन्ग कोविड के कुछ प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं-

  • सांस लेने में तकलीफ
  • अत्यधिक थकान
  • जोड़ों में दर्द
  • बुखार और खांसी
  • जुकाम और काफ बनना
  • सीने या छाती में दर्द
  • तेज सिरदर्द
  • दिल के धड़कन तेज होना
  • ब्रेन फॉग और चक्कर आना

लॉन्ग कोविड के लक्षण दिखने पर आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और डॉक्टर की सलाह के आधार पर इलाज जरूर करना चाहिए। इन लक्षणों से बचने के लिए आपको खानपान और शारीरिक व्यायाम का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer