महिलाएं हार्मोन को संतुलित करने के लिए खाएं 7 चीजें, मिलेगा लाभ

How to Increase Hormones in Females in Hindi: महिलाएं हार्मोनल संतुलन के लिए कुछ चीजों का सेवन कर सकते हैं।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Nov 10, 2022 13:45 IST
महिलाएं हार्मोन को संतुलित करने के लिए खाएं 7 चीजें, मिलेगा लाभ

Foods to Increase Hormones in Females in Hindi: महिलाओं के शरीर में हर पड़ाव पर हार्मोन्स का उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है। हर अवस्था में हार्मोन का स्तर प्रभावित होता है। किसी स्थितियों में हार्मोन्स का स्तर बढ़ता है, तो कुछ स्थितियों में हार्मोन्स का स्तर कम भी होता है। लेकिन हार्मोन्स का बढ़ना या घटना दोनों ही स्थितियां समस्याएं पैदा कर सकती हैं। इसलिए शरीर में हार्मोन्स का संतुलन में होना बहुत जरूरी होता है। अगर आपके शरीर में भी हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं, तो आप इन्हें संतुलन में लाने के लिए कुछ उपायों को आजमा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं, महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन को कैसे ठीक करें (what food to eat to increase hormone)? या फिर महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन के लिए प्राकृतिक उपचार क्या है? (How can I increase my hormones naturally)

महिलाओं में हार्मोन असंतुलन को ठीक करे ये आहार- Foods to Increase Hormones in Females in Hindi

1. अलसी के बीज

अलसी के बीज विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होते हैं। अलसी के बीज हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। अलसी के बीजों में लिग्नान और कैमिकल कंपाउंड्स होते हैं, जो फाइटोएस्ट्रोजन के रूप मे कार्य करते हैं। शरीर में हार्मोन का स्तर बढ़ाने के लिए आप अलसी के बीजों को स्मूदी, सलाद या फिर रोस्ट करके खा सकते हैं। इतना ही नहीं अलसी के बीजों में पाए जाने वाले पोषक तत्व कैंसर के जोखिम को भी कम करने में मदद कर सकते हैं।

2. ड्राई फ्रूट्स

ड्राई फ्रूट्स भी पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इनमें फाइबर, प्रोटीन, मैग्नीशियम काफी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। अगर आपके शरीर में हार्मोन असंतुलित हो गए हैं, तो आपको अपनी डाइट में ड्राई फ्रूट्स को जरूर शामिल करना चाहिए। ड्राई फ्रूट्स में फाइटोएस्ट्रोजन भी अधिक मात्रा में होता है। अगर किसी महिला के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर कम है, तो ड्राई फ्रूट्स खाने से एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ सकता है। इसके लिए आप बादाम, अखरोट, खजूर या खुबानी का सेवन कर सकते हैं। आप ड्राई फ्रूट्स को सुबह नाश्ते में ले सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- महिलाओं में इन 6 कारणों से हो सकता है हार्मोनल असंतुलन

3. लहसुन

लहसुन की तासीर बेहद गर्म होती है। महिलाएं शरीर में हार्मोन को संतुलन में रखने के लिए लहसुन को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। आप लहसुन को अपने खाने में शामिल कर सकते हैं। या फिर सुबह खाली पेट लहसुन की कलियां खा सकते हैं। अगर आपके शरीर में हार्मोन असंतुलित हो गए हैं, तो लहसुन का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा लहसुन का सेवन करने से महिलाओं की अन्य समस्याएं भी दूर हो सकती हैं। 

4. आड़ू

शरीर में हार्मोन का स्तर कम होने पर आप आड़ू का सेवन भी कर सकते हैं। आड़ू में कई तरह के विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं। साथ ही आड़ू में लिग्नान भी होता है, जो फाइटोएस्ट्रोजन के रूप में काम करता है। महिलाओं को अपने हार्मोन को संतुलन में रखने के लिए आड़ू को अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए। आड़ू खाने से हार्मोन संतुलित होते हैं, साथ ही अन्य स्वास्थ्य समस्याओं में भी आराम मिलता है। इतना ही नहीं आड़ू खाने से कैंसर का जोखिम भी कम होता है।

5. जामुन 

जामुन विटामिन्स, मिनरल्स और फाइबर पाए जाते हैं। महिलाओं को अपने हार्मोन को संतुलन में रखने के लिए जामुन का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके लिए आप स्ट्रॉबेरी, क्रैनबेरी या रास्पबेरी का सेवन कर सकते हैं। बैरीज फाइटोएस्ट्रोजन के रूप में काम करते हैं, इससे शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ने लगता है।

6. टोफू

टोफू सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। टोफू प्रोटीन का एक बेहतरीन सोर्स होता है। महिलाएं अपने शरीर में हार्मोन के स्तर को संतुलन में रखने के लिए टोफू का सेवन कर सकती हैं। टोफू महिलाओं के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए अगर आपके हार्मोन संतुलित भी है, तो आप टोफू का सेवन कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- महिलाओं और पुरुषों में हार्मोन असंतुलित के होते हैं अलग लक्षण, जानें इनके कारण भी

7. सोयाबीन

सोयाबीन में प्रोटीन समेत कई विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं। अगर आपके शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर कम है, तो आप सोयाबीन को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। सोयाबीन खाने से मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत बनती हैं। साथ ही महिलाओं को ताकत और ऊर्जा भी मिलती है। अगर आपके शरीर में हार्मोन असंतुलित हो गए हैं, तो आप सोयाबीन का सेवन कर सकते हैं।

Disclaimer