आपके मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर डालते हैं ये 6 आहार, कम कर दें इनका सेवन

खाद्य पदार्थ भी मानसिक स्वास्थ्य काे प्रभावित करते हैं। ऐसे में आपकाे इनका सेवन करने से बचना चाहिए और हेल्दी भाेजन लेना चाहिए।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jul 15, 2021Updated at: Jul 15, 2021
आपके मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर डालते हैं ये 6 आहार, कम कर दें इनका सेवन

आजकल की बिजी लाइफस्टाइल ने लाेगाें में तनाव और चिंता बढ़ा दिया है। लाेग तनाव, चिंता और अवसाद के शिकार हाे रहे हैं, जिसका असर उनके मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) पर भी पड़ता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि तनाव के साथ ही कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी है, जिनके सेवन से मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। ऐसे में अगर आप खुद काे मानसिक रूप से स्वस्थ रखना चाहते हैं, ताे इन खाद्य पदार्थाें का सेवन करना कम या बंद कर दें। डायटीशियन सुगीता मुटरेजा से जानें मानसिक स्वास्थ्य काे प्रभावित करने वाले फूड्स के बारे में (Foods That Affect Mental Health)-

दरअसल, जैसे शरीर काे स्वस्थ रखने के लिए हेल्दी भाेजन खाना जरूरी हाेता है, उसी तरह मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए भी हेल्दी भाेजन ही जरूरी हाेता है। इसलिए खुद काे शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखने के लिए हेल्दी डाइट ही लें। अनहेल्दी फूड्स तनाव काे बढ़ाते हैं (Unhealthy Foods Increase Stress Level), जिससे मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित हाेता है। बढ़ता तनाव और अवसाद आपकाे कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में तनावमुक्त रहने के लिए आपकाे कुछ खाद्य पदार्थाें के सेवन से बचना चाहिए।

मानसिक स्वास्थ्य काे प्रभावित करने वाले फूड्स (Foods Affect Mental Health)

बिडी शेड्यूल के साथ ही राेजाना खाए जाने वाले कुछ ऐसे फूड्स भी है, जिनका मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। बहुत अधिक मात्रा में नमक, मीठे खाद्य पदार्थ भी मानसिक स्वास्थ्य या मेंटल हेल्थ काे प्रभावित करते हैं।  

Alcohol Affect Mental Health

1. मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित करे एल्काेहल (Alcohol Affect Mental Health)

एल्काेहल काे स्वास्थ्य की दृष्टि से अच्छा नहीं माना जाता है। यह शरीर के अंगाें काे खराब करने के साथ ही स्ट्रेस लेवल काे भी बढ़ाता है। शराब पीने से व्यक्ति चिड़चिड़ा रहता है, जिसका असर उसके स्वास्थ्य पर पड़ता है। अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य काे बेहतर रखना चाहते हैं, ताे एल्काेहल का सेवन आज से ही बंद कर दें। एल्काेहल दिमाग में सेराेटाेनिन और न्यूराेट्रांसमीटर (Serotonin and Neurotransmitters) की सक्रियता काे बदलता है, जिससे चिंता और तनाव बढ़ता है। इतना ही नहीं आपकाे दूसरे नशीले पदार्थाें के सेवन से भी बचना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - खाना खाने के बाद चाय पीनी चाहिए या नहीं? जानें खाने के बाद चाय पीने के नुकसान

2. मानसिक स्वास्थ्य काे प्रभावित करे कैफीन (Caffeine Affect Mental Health) 

भले ही हम सिर दर्द हाेने पर चाय या कॉफी का सेवन करना पसंद करते हैं। लेकिन यह हमारे मेंटल हेल्थ काे प्रभावित करते हैं। दरअसल, चाय और कॉफी में कैफीन बहुत ज्यादा हाेता है, जिससे तनाव या स्ट्रेस लेवल बढ़ता है। साथ ही इससे अनिद्रा की समस्या भी हाेती है। कॉफी में कैफीन हाेता है और इसे पीने से एंड्रेलाइन हाेता है, जाे मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर करता है। आप चाहें ताे अपने स्ट्रेस या तनाव काे कम करने के लिए चाय या कॉफी की जगह हर्बल टी, ग्रीन टी या फिर पुदीना टी पी सकते हैं। नारियल पानी पीना भी एक अच्छा ऑप्शन है। चाय, कॉफी के साथ ही साेडा, फ्लेवर्ड केक और चॉकलेट में भी कैफीन हाेता है। कैफीन हार्ट के लिए भी नुकसानदायक हाेता है।

Refined Carbohydrates Affect Mental Health

3. रिफाइंड कार्बाेहाइड्रेट (Refined Carbohydrates Affect Mental Health)

कैफीन और चीनी की तरह ही रिफाइंड कार्बाेहाइड्रेट भी मानसिक स्वास्थ्य काे प्रभावित करता है। आजकल लाेग फास्ट फूड, जंक फूड का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं। ये सभी फूड्स हमारे स्वास्थ्य काे नुकसान पहुंचाते हैं। अपने मानसिक स्वास्थ्य काे स्वस्थ रखने के लिए आप रिफाइंड कार्बाेहाइड्रेट यानी सफेद चावल, चीनी, सिरप, सफेद ब्रेड और पास्ता आदि का सेवन करना बंद कर दें। इनके बजाय आप कुछ हेल्दी भाेजन खा सकते हैं, जाे आपकाे शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। रिफाइंड कार्बाेहाइड्रेट से अनिद्रा की समस्या पैदा हाेती है, जिससे तनाव बढ़ता है और मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित हाेता है।

इसे भी पढ़ें - बिन बात बार-बार 'Sorry' बोलना हो सकता है 'मानसिक विकार', एक्सपर्ट से जानें कारण और बचाव

4. मीठा या शुगर एडेड फूड्स खराब करे मूड (Sugar Added Foods Affect Mental Health)

बहुत अधिक मात्रा में मीठी चीजाें या शुगर लाेडेड चीजाें का सेवन शारीरिक के साथ ही मानसिक स्वास्थ्य पर भी असर डालता है। मीठी चीजें स्ट्रेस और तनाव काे बढ़ाते हैं, जिससे कई बार शरीर में शुगर लेवल भी बढ़ जाता है। यह एनर्जी लेवल डाउन और मूड काे खराब करता है। मूड इंबैलेंस हाेने की वजह से टेंशन बढ़ती है, जिसका असर मेंटल हेल्थ पर पड़ता है। मानसिक स्वास्थ्य काे बेहतर रखने के लिए आपकाे शुगर कैंडी, केचअप, सॉस और कैंडी जैसी चीजाें का सेवन पूरी तरह से बंद कर देना चाहिए। इन चीजाें के सेवन से स्ट्रेस लेवल बढ़ सकता है। आप चाहें ताे इनकी जगह फलाें का सेवन कर सकते हैं। फलाें में नैचुरल शुगर हाेता है, जाे सेहत काे नुकसान नहीं पहुंचाता है।

Salt Affect Mental Health

5. बहुत अधिक नमक (Salt Affect Mental Health)

चीनी ही नहीं बहुत अधिक मात्रा में नमक का सेवन भी आपके मानसिक स्वास्थ्य काे खराब कर सकते हैं। अधिक नमक का सेवन करने से सेहत काे नुकसान पहुंचता है। नमक शरीर की राेग प्रतिराेधक क्षमता काे कमजाेर करता है, जिससे थकावट हाेती है और मेंटल हेल्थ डिस्टर्ब हाेती है। इतना ही नहीं अधिक मात्रा में नमक का सेवन मूड स्विंग, अवसाद और तनाव काे भी बढ़ावा देता है। हृदय स्वास्थ्य (Heart Health) के लिए भी ज्यादा नमक खाना नुकसानदायक हाे सकता है।

6.ट्रांस फैट फूड्स (Trans Fat Foods Affect Mental Health)

ट्रांस फैट यानी चिप्स, कुरकुरे आदि। इनका भी मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। इतना ही नहीं बहुत अधिक मात्रा में ट्रांस फैट लेने से शारीरिक स्वास्थ्य भी बिगड़ता है। अगर आप खुद काे दाेनाें तरह से फिट और हेल्दी रखना चाहते हैं, ताे इसका सेवन करना बंद कर दें। बच्चाें काे भी चिप्स या कुरकुरे ज्यादा मात्रा में देने से बचें। ट्रांस फैट (Trans Fat) काे डायजेस्ट हाेने में समय लगता है। कई बार यह डायजेस्ट नहीं हाे पाता है और शरीर में ही रुक जाता है, जिससे टॉक्सिंस बनते हैं और राेग पैदा हाेते हैं।

आप अपने मानसिक स्वास्थ्य काे बेहतर बनाए रखने के लिए ऊपर बताए गए सभी चीजाें का सेवन करना कम या बंद कर दें। इनसे आपकाे स्वास्थ्य काे फायदाें की जगह नुकसान पहुंचता है। अगर आप किसी मानसिक विकार से जूझ रहे हैं, ताे इनका सेवन बिल्कुल न करें और डॉक्टर से अपना इलाज करवाएं। ये सभी फूड्स स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद नहीं हाेते हैं, इसलिए खुद भी इनसे बचें और अपने परिवार काे भी बचाएं। 

रिफाइंड कार्बाेहाइड्रेट, शुगर, नमक, एल्काेहल, ट्रांस फैट और कैफीन का सेवन मानसिक स्वास्थ्य पर असर करता है, ऐसे में आपकाे इनके सेवन से बचना चाहिए। इससे न सिर्फ और शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी स्वस्थ रह सकते हैं।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

 
Disclaimer