बच्चों को डेंगू से बचाने के लिए रखें खानपान और साफ-सफाई का ध्यान, जानें आसान टिप्स

बच्‍चों को डेंगू से बचाने के ल‍िए आपको खानपान और साफ-सफाई पर गौर करना चाह‍िए, चलिए जानते हैं डेंगू से बचने का सही तरीका 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Oct 13, 2021
बच्चों को डेंगू से बचाने के लिए रखें खानपान और साफ-सफाई का ध्यान, जानें आसान टिप्स

बच्‍चे को डेंगू होने पर कौनसे लक्षण नजर आते हैं? बच्‍चे को डेंगू की बीमारी होने पर तेज बुखार आ सकता है या स‍िर में दर्द, थकान, उल्‍टी जैसा अहसास, स्‍क‍िन रैशेज जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। अगर डेंगू का इलाज समय पर न हो तो वो न‍िमोन‍िया या अन्‍य गंभीर बीमार‍ियों का रूप भी ले सकता है इसल‍िए आपको बच्‍चे को डेंगू से बचाने के ल‍िए उपायों को अपनाना चाह‍िए। ज‍िन बच्‍चों की इम्‍यून‍िटी वीक होती है उन्‍हें डेंगू का इंफेक्‍शन जल्‍दी होने का खतरा रहता है इसल‍िए आपको बच्‍चों के खानपान और साफ-सफाई पर खास ध्‍यान देना चाह‍िए। मच्‍छर ऐसे बच्‍चों को पहले टार्गेट बनाते हैं ज‍िनकी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता कमजोर हो या जो साफ-सफाई का ध्‍यान न रखते हों। इस लेख में हम बच्‍चों को डेंगू से बचाने के ल‍िए डाइट ट‍िप्‍स और साफ-सफाई के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ में डफर‍िन अस्‍पताल के वर‍िष्ठ बालरोग व‍िशेषज्ञ डॉ सलमान खान से बात की।

fever in kids for dengue

(image source:firstcry)

बच्‍चे को बुखार आए तो क्‍या करें? 

अगर आपके बच्‍चे को बुखार आता है तो आपको सबसे पहले उसकी जांच करवानी चाह‍िए, अगर जांच में डेंगू न‍िकलता है तो दवाओं को समय पर बच्‍चे को देते रहें, इसके अलावा आप बच्‍चे को ल‍िक्‍व‍िड डाइट ज्‍यादा दें। इसके अलावा आपको बच्‍चे को हेल्‍दी डाइट दें ज‍िसमें हल्‍दी, दही, अदरक, पालक, बादाम, ब्रोकली, लहसुन जैसी चीजों को एड करना चाह‍िए। इन चीजों का सेवन करने से इम्‍यून‍िटी बढ़ती है और बच्‍चा जल्‍दी ठीक हो जाएगा। डाइट के अलावा आपको बच्‍चे को कवर्ड रूम में ही रखना है, बुखार उतरने तक बच्‍चे को बाहर लेकर न जाएं।

इसे भी पढ़ें- बच्चों में डेंगू से होने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्खे

डाइट ट‍िप्‍स को फॉलो करें (Diet tips to prevent dengue in kids)

बच्‍चे को ये चीजें खि‍लाएं (Include these foods)

kids diet

(image source:)

  • डेंगू से बचाने के ल‍िए बच्‍चे को ताजे फल और सब्‍ज‍ियां खाने के ल‍िए प्रेर‍ित करें, उनकी फेवर‍ेट ड‍िशेज में सब्‍ज‍ियां एड करें।
  • डेंगू से बचाने के ल‍िए बच्‍चे को तरल पदार्थ अध‍िक दें ज‍िसमें आप बच्‍चे को नार‍ियल पानी, संतरे का रस, छाछ, दही की लस्‍सी दे सकते हैं। 
  • बच्‍चे को डेंगू से बचाने के ल‍िए इम्‍यून‍िटी बूस्‍ट‍िंग फूड दें, आप आयुर्वेद‍िक हर्ब्स जैसे तुलसी, काली म‍िर्च आद‍ि म‍िलाकर बच्‍चे को काढ़े के फॉर्म में दे सकते हैं।
  • डेंगू से बचने के ल‍िए आप बच्‍चे को अनार दें, अनार का सेवन करने से शरीर में ऑक्‍सीजन का स्‍तर बना रहता है और प्‍लेटलेट्स की संख्‍या भी बनी रहती है।
  • बच्‍चे की इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के ल‍िए आप उसे रोजाना एलोवेरा जूस या आंवला जूस दे सकते हैं।
  • डेंगू से रोकथाम के ल‍िए बच्‍चे की इम्‍यून‍िटी बूस्‍ट करने के ल‍िए उसे रोजाना एक ग‍िलास हल्‍दी वाला दूध दें। 

बच्‍चे को इन चीजों से दूर रखें (Avoid these foods)

  • बच्‍चों को तला-भुना खाना पसंद होता है पर बच्‍चे को ट्रांस फैट यानी फास्‍ट फूड से दूर रखें।
  • बच्‍चों को ज्‍यादा मीठी चीजें न दें। मीठी चीजों से वजन भी बढ़ता है और इम्‍यून‍िटी भी कमजोर होती है। मीठी चीजें खाने की क्रेव‍िंग हो रही है तो आप बच्‍चे को ताजे फल दे सकते हैं। 
  • बच्‍चों को आइसक्रीम या चॉकलेट खाने का शौक होता है पर आपको बच्‍चों को अनहेल्‍दी चीजों से दूर रहना चाह‍िए। 
  • डेंगू से बचाने के ल‍िए आप बच्‍चे को फैट देने के बजाय फाइबर युक्‍त भोजन दें और तेल की मात्रा कम कर दें।

साफ-सफाई का ध्‍यान रखें (Hygiene tips to prevent dengue in kids)

बच्‍चों को डेंगू से बचाने के ल‍िए इन गलत‍ियों से बचें (Avoid these mistakes to prevent dengue in kids)

fever in kids

(image source:google)

लोग घरों में मच्‍छर को भगाने के ल‍िए पेस्‍ट कंट्रोल नहीं करवाते हैं ज‍िससे बच्चे आए द‍िन बीमार पड़ते हैं। ज्‍यादातर लोग मच्छरों को भगाने के ल‍िए कॉइल या र‍िपेलेंट का इस्‍तेमाल करते हैं पर इतना काफी नहीं है आपको आपको साल में कम से कम दो बार पेस्‍ट कंट्रोल करवाना चाह‍िए, इससे न स‍िर्फ मच्‍छर कम होंगे बल्‍क‍ि कॉकरोच या चींटी जैसे छोटे जीव जो आपकी सेहत और खाने को खराब करते हैं उनकी मात्रा भी कम होगी। आपको बच्‍चे को घर के ऐसे कोने में जाने नहीं देना चाह‍िए जहां ज्‍यादा अंधेरा है, ऐसी जगहों पर मच्‍छर मौजूद होते हैं और वो बच्‍चे को काट सकते हैं। मच्‍छरों को भगाने के नैचुरल तरीके पर बात करें तो आप सरसों का तेल, नीलग‍िरी का तेल, नींबू, नीम का तेल, पुदीना, तुलसी का रस, लैवेंडर ऑयल आद‍ि चीजों से मच्‍छर को भगा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- क्यों माना जाता है डेंगू को खतरनाक? जानें डेंगू बुखार के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

बच्‍चे को हर द‍िन साफ कपड़े पहनाएं (Kids should wear clean clothes)

clean clothes

(image source:)

बच्‍चे को हर द‍िन साफ कपड़े पहनाएं, गीले कपड़ों में नमी होती हैं और वहीं मच्‍छर सबसे ज्‍यादा आते हैं। अगर आपके घर में नमी ज्‍यादा रहती है तो आप बच्‍चे के कपड़े द‍िन में दो बार बदल सकते हैं। डेंगू से बच्‍चे को बचाने के ल‍िए आापको उसे हर द‍िन नहलाना चाह‍िए, साफ-सफाई का खयाल रखने से मच्‍छर बच्‍चे के आसपास नहीं आएंगे। आपको बच्‍चे को रात के समय फुल स्‍लीव की शर्ट या फुल पैंट पहनानी चाह‍िए इससे मच्‍छर बच्‍चे की स्‍क‍िन को टच नहीं कर सकेंगे। आपको भी बच्‍चे के आसपास रहने के कारण अपनी व्‍यक्‍त‍िगत सफाई पर ध्‍यान देना चाह‍िए, बच्‍चे को ब‍िना हाथ साफ क‍िए या बाहर से डायरेक्‍ट आकर हाथ न लगाएं, कोविड के लि‍हाज से भी आपको बच्‍चे को जर्म फ्री रखने की जरूरत है।

बच्‍चों के कमरे में सफाई रखें (Keep kid's room clean)

  • बच्‍चों को डेंगू के लक्षण से बचाने के ल‍िए उनके कमरे में सफाई रखें। 
  • आपको इस बात का ध्‍यान रखना चाह‍िए क‍ि बच्‍चों के कमरे में ख‍िड़की बंद हो। 
  • अगर मौसम ठंडा हो तो बच्‍चे को फुल स्‍लीव के कपड़े पहनाएं।
  • बच्‍चे के कमरे को साफ रखने के साथ आपको अपने घर को भी क्‍लीन रखना चाह‍िए। 
  • इस बात का ध्‍यान रखें क‍ि घर में क‍िसी भी जगह पानी न इकट्ठा हुआ हो, इससे मच्‍छर की तादाद बढ़ जाती है।
  • बच्‍चे के कमरे में ख‍िड़की, दरवाजे, पर्दे आपको हर हफ्ते साफ करना चाह‍िए ज‍िससे उनमें धूल न जमा हो।

डेंगू और सामान्‍य बुखार के लक्षण एक जैसे हो सकते हैं इसलि‍ए बच्‍चे का इलाज घर पर करने के बजाय च‍िकित्‍सा सहायता लें। डेंगू के लक्षण नजर आने पर बच्‍चे का तुरंत इलाज करवाएं।

(main image source:shopify, google)

Read more on Children Health in Hindi 

Disclaimer