Doctor Verified

डायबिटीज के कारण सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं ये 4 अंग, जानें कैसे करें बचाव

diabetes effect on body: आजकल डायबिटीज एक सामान्य बीमारी बन गई है। लेकिन यह हमारे शरीर के कई अंगों को प्रभावित करता है। जानें इनके बारे में-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Mar 18, 2022Updated at: Mar 18, 2022
डायबिटीज के कारण सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं ये 4 अंग, जानें कैसे करें बचाव

diabetes effect on body: डायबिटीज आजकल की एक आम बीमारी है। यह सभी उम्र और लिंग के लोगों को प्रभावित कर सकती है। लेकिन अधिकतर महिलाएं डायबिटीज या मधुमेह से परेशान रहती हैं। हाई ब्लड शुगर स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है। डायबिटीज कई सामान्य से लेकर गंभीर बीमारियों का कारण बन सकता है। यह शरीर के अंगों को भी बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है। इसलिए ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखना जरूरी होता है। इसके बढ़ने पर कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं पैदा होने लगती है। डायबिटीज जीवनशैली को पूरी तरह से प्रभावित कर देती है। लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं कि डायबिटीज से हमारे शरीर के कौन-कौन से अंग प्रभावित हो सकते हैं। मसीना अस्पताल, मुंबई के डायबिटीज, मेटाबॉलिज्म डायबेटोलॉजिस्ट डॉक्टर अल्तमश शेख  (Dr. Altamash Shaikh, Diabetes, Metabolism Diabetologist, Masina hospital, Mumbai) से जानें-

डायबिटीज से प्रभावित होने वाले अंग (diabetes effect on body)

1. किडनी की छोटी रक्त वाहिका

जिन लोगों को लंबे समय से मधुमेह है,  उन्हें किडनी से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल, लगातार हाई ब्लड शुगर से किडनी की छोटी रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है। इस दौरान शुरुआत में शरीर में सूजन जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं। यह धीरे-धीरे किडनी फेलियर की तरफ ले जाता है। किडनी के कार्य को प्रभावित करता है। डायबिटीज के कारण किडनी की समस्या हो सकती है। इसे डायबिटीज किडनी डिजीज कहा जाता है।

2. डायबिटीज का आंखों पर असर

लंबे समय से हाई ब्लड शुगर का असर आंखों पर भी पड़ सकता है। इसके वजह से आंखों से जुड़ी समस्याएं पैदा हो सकती है। यहां तक की डायबिटीज आंखों की रोशनी जाने का कारण भी बन सकता है। डायबिटीज की वजह से रेटिना में अधिक तरल पदार्थ की समस्या हो जाती है, इसका असर हमारे विजन पर पड़ता है। इससे आंखों की रोशनी जाने का खतरा बना रहता है।

इसे भी पढ़ें - शुगर में मेथी के फायदे: डायबिटीज रोगियों की इन 4 समस्याओं को दूर करती है मेथी

3. पैरों की नसों पर डायबिटीज का प्रभाव

डायबिटीज पैरों की नसों को भी नुकसान पहुंचा सकता है। शरीर में शुगर लेवल बहुत ज्यादा बढ़ने पर पैरों की नसें डैमेज होने लगती हैं। नसें कमजोर पड़ने लगती हैं। इसकी वजह से डायबिटीज के रोगियों में पैरों के सुन्न होने की समस्या हो सकती है। साथ ही मधुमेह रोगी पैरों में दर्द और चुभन भी महसूस कर सकते हैं। पैरों में रक्त संचार बाधिक हो सकता है।

4. हृदय को भी प्रभावित करता है मधुमेह

लंबे समय से लगातार हाई ब्लड शुगर लेवल (high blood sugar level) हृदय या दिल को भी प्रभावित कर सकता है। यानी अगर आपको लंबे समय से डायबिटीज है, तो आपको हृदय रोग होने का खतरा अधिक बना रहता है। डायबिटीज के कारण आर्टरी ब्लॉक हो सकती है, जो हार्ट अटैक (heart attack) का कारण बनती है। इसके साथ ही डायबिटीज की वजह से ब्रेन में भी रक्त का प्रवाह बाधित हो सकता है, जिससे ब्रेन स्ट्रोक की संभावना बढ़ जाती है।

डायबिटीज रोगी कैसे रखें अपनी ध्यान 

डायबिटीज रोगियों को स्वस्थ रहने के लिए अपनी जीवनशैली में अच्छे बदलाव करने चाहिए।

  • डायबिटीज रोगियों को मीठा खाने से परहेज करना चाहिए।
  • वजन को नियंत्रण में रखकर भी डायबिटीज रोगी स्वस्थ रह सकते हैं।
  • डायबिटीज रोगियों को फास्ट फूड, जंक फूड से दूरी बनाकर रखनी चाहिए।
  • डायबिटीज रोगियों को स्वस्थ रहने के लिए रेगुलर एक्सरसाइज करनी चाहिए। कम कैलोरी और कम संतृप्त वसा वाला आहार लेना चाहिए।
  • मधुमेह से पीड़ित डेयरी उत्पादों और ओमेगा-3 वसा के स्रोतों को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। 
  • डायबिटीज रोगियों को अपनी डाइट में फाइबर से भरपूर डाइट भी लेनी चाहिए।

अगर आप भी डायबिटीज रोगी है, तो अपने ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखना जरूरी है। अन्यथा यह कई बीमारियों का कारण बन सकता है।

Disclaimer