धूल (डस्ट) से एलर्जी के 16 लक्षण, एक्सपर्ट से जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

डस्ट एलर्जी होने पर व्यक्ति को कई लक्षण दिखाई देते हैं। ऐसे में इसका कारण और बचाव जानना जरूरी है। साथ ही जानते हैं डस्ट एलर्जी होने के घरेलू उपाय

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 06, 2021
धूल (डस्ट) से एलर्जी के 16 लक्षण, एक्सपर्ट से जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

धूल से कितना भी बचने की कोशिश कर लो वह हमारे आसपास मौजूद होने के कारण हम उसके संपर्क में बहुत जल्दी आ ही जाते हैं और इस कारण हम डस्ट एलर्जी का शिकार भी हो जाते हैं। डस्ट एलर्जी को डस्ट माइट्स के नाम से भी जाना जाता है। यह कणों के रूप में हमारे आसपास मौजूद होते हैं, जिन्हें देख पाना आसान नहीं होता। डस्ट एलर्जी मुख्यतौर पर कई प्रकार से हमारे शरीर में प्रवेश कर सकती है। ऐसे में इस समस्या से समय रहते बचना जरूरी है। आज का हमारा लेख डस्ट एलर्जी पर ही है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि डस्ट एलर्जी होने पर व्यक्ति को क्या-क्या लक्षण दिखाई देते है। साथ ही कारण और बचाव के बारे में भी जानेंगे। ये लेख हीलिंग केयर ईएनटी क्लीनिक नोएडा के ईएनटी स्पेशलिस्ट (एमबीबीएस एमएस) डॉ अंकुर गुप्ता (Dr. Ankur Gupta) द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बनाया गया है। पढ़ते हैं आगे...

 

धूल से एलर्जी होने के लक्षण – (Symptoms of Dust Allergy)

धूल से एलर्जी होने के बाद कई लक्षण नजर आ सकते हैं। ये लक्षण निम्न हैं- 

1 - संक्रमित व्यक्ति का कान बंद होना। 

2 - संक्रमित व्यक्ति का छींक आना।

3 - संक्रमित व्यक्ति का नाक बहना।

4 - संक्रमित व्यक्ति के आंखों में सूजन आना।

5 - संक्रमित व्यक्ति की आंखों में खुजली लगना।

6 - संक्रमित व्यक्ति को थकान महसूस करना।

7 - संक्रमित व्यक्ति को खांसी होना।

8 - संक्रमित व्यक्ति के गले में खुजली होना।

9 - संक्रमित व्यक्ति की आंखें लाल नजर आना

10 - संक्रमित व्यक्ति की आंखों के नीचे काले घेरे नजर आना।

11 - संक्रमित व्यक्ति को अस्थमा के लक्षण दिखाई देना।

12 - कान बंद होना और सूंघने की क्षमता में कमी।

13 - संक्रमित व्यक्ति के गले में खराश होना।

14 - संक्रमित व्यक्ति को चिड़चिड़ापन महसूस करना।

15 - संक्रमित व्यक्ति के सिर में दर्द होना।

16 - संक्रमित व्यक्ति की त्वचा पर लाल चकत्ते हो जाना।

इसे भी पढ़ें- दर्द निवारक बॉम से हो जाए स्किन एलर्जी तो अपनाएं ये 5 आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

डस्ट एलर्जी के कारण (causes of Dust Allergy)

1 - पराग, जो डस्ट एलर्जी ज्यादा गर्मी में या पेड़ पत्ते आदि से निकलने वाली हवा के कारण हो जाती है। इस एलर्जी को हे फीवर के नाम से भी जाना जाता है। यह एलर्जी पेड़ पौधे में लगे फूलों के संपर्क में आने के कारण हो सकती है।

2 - डस्ट एलर्जी जानवरों की बालों से भी हो सकती है। कुछ लोग अपने घर में कुत्ते, बिल्ली, तोता, खरगोश आदि पालतू जानवरों को पाल लेते हैं और जब इनके संपर्क में आते हैं तो उनके बाल या रूसी के कारण व्यक्ति को डस्ट एलर्जी हो सकती है।

3 - कॉकरोच कुछ ऐसे हानिकारक बैक्टीरिया पैदा करते हैं जो एलर्जी का कारण बन सकते हैं ऐसे में कॉकरोच के कारण भी व्यक्ति को डस्ट एलर्जी हो सकती है।

4 - पर्यावरण में एक फंगस मौजूद होता है। यह फंगस कहीं भी मिल सकता है। जिस जगह पर ज्यादा मात्रा में नमी होती है वहां इस फंगस के बढ़ने का खतरा रहता है। यह मोल्ड के नाम से जाना जाता है। इसके संपर्क में आने से भी व्यक्ति को डस्ट एलर्जी हो सकती है।

 इसे भी पढ़ें- कुछ बच्चों को क्यों होती है केले से एलर्जी (Banana Allergy)? एक्सपर्ट से जानें इसके कारण और बचाव के उपाय

डस्ट एलर्जी से बचाव – Prevention Tips for Dust Allergy

डस्ट एलर्जी से बचाव के लिए कुछ टिप्स आपके काम आ सकते हैं। ये टिप्स निम्न प्रकार हैं-

1 - जब भी घर साफ करें तो मास्क का उपयोग करें।

2 - घर में किसी तरह की लीकेज को तुरंत ठीक करें।

3 - धूल झाड़ने के बजाय इसे हटाने के लिए गीले पोछे का उपयोग करें।

4 - अपने आसपास सफाई रखें। 

5 - किसी पालतू जानवर के संपर्क में आने से पहले मास्क पहनें। 

6 - बाहर जानें से पहले मास्क पहनें। 

7 - अगर घर में कालीन है तो उसकी सफाई रोज करें। 

8 - गर्म पानी से घर के चादर, तकिये आदि को धोएं। 

9 -  एलर्जी ना होने पर भी सुबह-शाम काली मिर्च पाउडर को घी के साथ सेवन करें। ऐसा करने से डस्ट एलर्जी से बचाव किया जा सकता है। 

 इसे भी पढ़ें- एलर्जी टेस्ट क्या है और कब करवाना चाहिए? जानें इस टेस्ट की प्रक्रिया और जरूरी बातें

धूल से एलर्जी के घरेलू उपाय

1 - शहद का इस्तेमाल डस्ट एलर्जी को दूर करने में आपके बेहद काम आ सकता है। ऐसे में आप एक कम पानी में शहद को अच्छे से घोलें और उसका सेवन करें। बता दें कि शहद के अंदर एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबॉयल गुण पाए जाते हैं जो एलर्जी के लक्षणों को कम करने में आपके बेहद काम आ सकते हैं।

2 - हल्दी के इस्तेमाल से भी डस्ट एलर्जी को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाएं और उसका सेवन करें। ऐसा करने से डस्ट एलर्जी की समस्या दूर हो सकती है। 

3 - पुदीने की चाय के इस्तेमाल से भी डस्ट एलर्जी की समस्या दूर हो सकती है। ऐसे में आप गर्म पानी में पुदीने के पत्तों को उबालें और अब उसे छानकर चाय का सेवन करें। अगर आप चाहे तो आप शहद भी इस चाय में डाल सकते हैं। बता दें कि पुदीने के पत्तों के अंदर एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जो डस्ट एलर्जी से बचाव में कारगर हैं।

4 - ग्रीन टी का सेवन करने से भी डस्ट एलर्जी को दूर किया जा सकता है। बता दें कि ग्रीन टी को एक कप गर्म पानी में शहद के साथ मिलाएं और छानकर इसका सेवन करें। ऐसा करने से डस्ट एलर्जी से जल्दी छुटकारा मिल जाएगा।

5 - घी और गुड़ को अगर मिलाकर सेवन किया जाए तो ऐसा करने से भी डस्ट एलर्जी को दूर किया जा सकता है। ऐसे में एक चम्मच घी में आधा गुण मिलाएं और इसका सेवन करें। ऐसा करने से डस्ट एलर्जी दूर होगी।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि डस्ट एलर्जी को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय आपके बेहद काम आ सकते हैं। लेकिन उससे पहले डस्ट एलर्जी के पीछे का क्या कारण है और इसके क्या लक्षण है इसके बारे में पता होना जरूरी है। इसके अलावा ऊपर लेख में आपको डस्ट एलर्जी से बचाव के बारे में भी बताया जा रहा है। इन बचावों को अपनाकर आप डस्ट एलर्जी से खुद का बचाव कर सकते हैं। अगर ऊपर बताए गए लक्षण 1 हफ्ते से ज्यादा दिनों तक नजर आए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

इस लेख में फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Disclaimer