Doctor Verified

आम खाना है पसंद तो न करें ये गलती, जानें खाने से पहले आम को पानी में भिगोकर रखना क्यों जरूरी है

आम अधिकतर लोगों का पसंदीदा फल होता है। आपने देखा होगा कि घर पर आम खाने से पहले अकसर मम्मी पहले इसे कुछ देर के लिए पानी में भिगोकर रख देती हैं।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Apr 26, 2022Updated at: Apr 26, 2022
आम खाना है पसंद तो न करें ये गलती, जानें खाने से पहले आम को पानी में भिगोकर रखना क्यों जरूरी है

बाजार में आम मिलने शुरू हो गए हैं। बच्चे, बड़े हो या बुजुर्ग सभी पके हुए आम शौक से खाते हैं। कुछ लोग आम को काटकर खाते हैं, तो कुछ आम को गुठली समेत चूसकर खाना पसंद करते हैं। लेकिन एक चीज है, जिस पर सभी ने ध्यान दिया होगा कि आम खाने से पहले अकसर मम्मी या दादी आम को थोड़ी देर के लिए पानी में भिगोकर रख देती हैं। आखिर इससे क्या होता है, ये सवाल सभी के मन में जरूर आता होगा। दरअसल, आम को खाने से पहले भिगोने के पीछे कुछ पोषण, आयुर्वेदिक कारण हैं। 

आम एक स्वादिष्ट और पौष्टिक फल है। आम पोषक तत्वों से भरपूर होता है। आम खाने से शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ावा मिलता है, पाचन और आंतों के स्वास्थ्य में सुधार होता है। इसके अलावा आम आंखों, बालों और त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। आम के सभी फायदों को लेने के लिए इसे खाने से कुछ देर पहले पानी में भिगोकर रखना जरूरी होता है। आम को पानी में भिगोने से पोषण, आयुर्वेदिक लाभ मिलते हैं। चलिए विस्तार से जानते हैं आम को खाने से पहले पानी में क्यों भिगोना चाहिए?

mango

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं आम को खाने से पहले पानी में कुछ देर भिगोने की सलाह दी जाती है। क्योंकि आम की तासीर काफी गर्म होती है, कुछ देर पानी में आम को भिगोकर रखने से इसकी तासीर सामान्य हो जाती है। ऐसे में पित्त प्रकृति के लोग भी सीमित मात्रा में आम का सेवन कर सकते हैं। डॉक्टर सुगीता बताती हैं कि आम को खाने से पहले 1-2 घंटे तक पानी में भिगोकर रखना चाहिए, इसके बाद ही इसे खाना चाहिए। आयुर्वेद के अनुसार सभी प्रकृति के लोगों को आम हमेशा भिगोकर ही खाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - वजन घटाने के लिए कैसे खाएं आम? जानें वेट लॉस डाइट में आम को शामिल करने के तरीके

आम को खाने से पहले पानी में क्यों भिगोना चाहिए ( Dipping mangoes in water before eating benefits)

1. आम पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें मौजूद तत्व पाचन में सुधार करते हैं, आंतों के स्वास्थ्य में भी सुधार करते हैं। आम में फाइटिक एसिड (Phytic acid) नामक एक प्राकृतिक अणु होता है, जो कई नट्स में भी मौजूद होता है। आम को पानी में भिगोने से इसका एक्सट्रा फाइटिक एसिड को बाहर निकालने में मदद मिलती है। आम को बिना भिगोए खा लिया जाए, तो इससे शरीर में अतिरिक्त गर्मी पैदा हो सकती है। 

2. आम में  विटामिन सी, बीटा-कैरोटीन और फाइबर काफी ज्यादा मात्रा में मौजूद होता है। इसलिए मधुमेह या वजन का ख्याल रखने वाले लोग भी आम का सेवन कर सकते हैं। आम को भिगोकर खाने से शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। साथ ही सभी लोग इसका आसानी से सेवन कर सकते हैं। आम फलों का राजा होता है, यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है।

3. आम की तासीर बहुत गर्म होती है, यह शरीर में गर्मी पैदा करता है। इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से तीनों दोष (वात, पित्त और कफ), मुख्य रूप से पित्त में असंतुलन हो सकता है। आम खाने से पित्त प्रकृति के लोगों में चिड़चिड़ापन, तनाव, चेहरे पर फुंसियां आदि लक्षण नजर आ सकते हैं। इससे बचने के लिए आम को खाने से पहले पानी में भिगोकर जरूर रखें। पानी में भिगोने के बाद भी आम का सेवन करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - स्किन और बालों की कई समस्याएं दूर करते हैं आम के पत्ते, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे

4. आम को पानी में भिगोकर रखने से सारे कीटनाशक, अवांछित रसायन निकल जाते हैं। साथ ही आम पर जमा गंदगी, धूल-मिट्टी भी पूरी तरह से निकल जाती है। इससे आप कई तरह के रोगों से अपना बचाव कर सकते हैं। 

5. आम में थर्मोजेनिक तत्व होते हैं, जो शरीर का तापमान बढ़ाता है। आम को पानी में भिगोकर रखने से यह तत्व कम हो जाता है। अगर आम को पानी में न भिगोया जाए, तो इससे त्वचा पर मुहांसे, फुंसियां, कब्ज और सिरदर्द हो सकता है। इसके साथ ही यह आंतों से संबंधित समस्याओं का भी कारण बन सकता है। 

 आयुर्वेद के अनुसार आपकी कोई भी प्रकृति हो, आम को हमेशा भिगोकर ही रखना चाहिए। आम को कम से कम 20 मिनट तक पानी में भिगोने के बाद ही खाना चाहिए। आप 2 घंटे तक भी आम को पानी में भिगोए रख सकते हैं। इससे आम की तासीर सामान्य हो जाएगी, इससे शरीर को नुकसान नहीं पहुंचेगा।

Disclaimer