Doctor Verified

आंखों के इंफेक्शन और कंजंक्टिवाइटिस में क्‍या अंतर है? जानें क‍िन लक्षणों से करें पहचान

आंख में इंफेक्‍शन और कंजंक्टिवाइटिस में अंतर करने के ल‍िए सही लक्षणों की पहचान करें जानते हैं आगे इस लेख से 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Apr 21, 2022Updated at: Apr 21, 2022
आंखों के इंफेक्शन और कंजंक्टिवाइटिस में क्‍या अंतर है? जानें क‍िन लक्षणों से करें पहचान

आंख की समस्‍या आपको परेशान कर सकती है। कई बार समझ नहीं आता है क‍ि आंख में बीमारी का कारण आख‍िर एलर्जी है या कंजंक्टिवाइटिस। आज हम दोनों के बीच का अंतर समझेंगे। आंख में एलर्जी और आंख आने की समस्‍या के बीच के लक्षण कॉमन हैं और दोनों में फर्क करना मुश्‍क‍िल हो जाता है पर लक्षण जानकर आप दोनों का फर्क समझ पाएंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

eye allergy    

image source: patientpop

आंखों की एलर्जी क्या है? (What is eye allergy)

आंख में एलर्जी की समस्‍या भी आंख आना या कंजंक्टिवाइटिस के समान ही है, आपको प‍िंक आई के लक्षण नजर आ सकते हैं। आंख में एलर्जी की समस्‍या क‍िसी भी कारण से हो सकती है जैसे आंख में क‍िसी तरह का कैम‍िकल जाना, आंख में क‍िसी इंफेक्‍शन के कारण एलर्जी होना आद‍ि। एलर्जी से बचने के ल‍िए आपको साफ-सफाई पर ध्‍यान देना चाह‍िए और जानवरों को छूने से बचना चाह‍िए। 

इसे भी पढ़ें- काम और स्ट्रेस की वजह से थक गया है दिमाग, तो इन तरीकों से दिमाग को करें दोबारा रीचार्ज

आंख में एलर्जी के लक्षण क्‍या हैं? (Symptoms of eye allergy)

अगर आपकी आंख में एलर्जी होती है तो आपको ये लक्षण नजर आ सकते हैं- 

आंख में एलर्जी होने पर क्‍या करें? (How to treat eye allergy) 

आंख में एलर्जी होने के बाद आप इन तरीकों को आजमाएं- 

  • सबसे पहले डॉक्‍टर के पास जाकर चेकअप करवाएं और जरूरत होने पर दवा लें।
  • आंख में एलर्जी को दूर करने के ल‍िए कोल्‍ड कंप्रेस फायदेमंद माना जाता है और उसे डॉक्‍टर की सलाह पर आप इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 
  • आंख में एलर्जी होने पर आपको आंख का खास ख्‍याल रखना है और उसे कवर करने के ल‍िए आप ग्‍लासेज का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।  
  • आंख में इंफेक्‍शन होने की समस्‍या होने पर आपको साफ तौल‍िए का इस्‍तेमाल करना है। 
  • इसके अलावा आंख को रगड़ने से आपको बचना चाह‍िए और पलकों को छूने से बचें। 

कंजंक्टिवाइटिस क्या है? (What is conjunctivitis)

eye infection

image source: cloudfront

कंजंक्टिवाइटिस को प‍िंक आई भी कहा जाता है। ये एक तरह का आई इंफेक्‍शन है। संक्रमण, आंख के सफेद ह‍िस्‍से के बाहरी भाग पर बुरा असर डालता है।कंजंक्टिवाइटिस के इलाज के लिए डॉक्‍टर आपको ओकुलर ड्रॉप्‍स, ओरल प‍िल्‍स, गंभीर मामलों में स्‍टोरॉइड या इम्‍यूनोथैरेपी दे सकते हैं।    

कंजंक्टिवाइटिस के लक्षण क्‍या हैं? (Symptoms of conjunctivitis)

  • कंजंक्टिवाइटिस होने पर लालपन की समस्‍या हो सकती है।
  • आंख आने पर आपको आंख में सनसनी महसूस हो सकती है।
  • आंख आने पर आपको खुजली महसूस हो सकती है। 
  • एक या दोनों आंख से ल‍िक्‍व‍िड न‍िकल सकता है। 
  • आंख आने पर जलन की समस्‍या हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें- डायबिटीज में बढ़ जाता है लिवर डैमेज का खतरा, शुगर के मरीज ऐसे रखें अपने लिवर का खयाल   

आंख आने की समस्‍या से कैसे बचें? (How to prevent conjunctivitis) 

  • आंख आने या कंजंक्टिवाइटिस की स्‍थ‍ित‍ि में आंखों को छूने से बचें और अपने हाथों की सफाई पर ध्‍यान दें।
  • अगर आप अपने गंदे हाथों से आंख को बार-बार छुएंगे तो बैक्‍टीर‍िया या वायरस के कारण आंख में समस्‍या हो सकती है इसल‍िए आंख को हाथ से दूर रखना है।
  • आप अपनी आंखों की जांच हर 6 महीने में कम से कम एक बार जरूर करवाएं इससे बीमारी को जल्‍द पकड़ पाने में मदद म‍िलेगी। 
  • अगर आप कॉन्‍टेक्‍ट लेंस का इस्‍तेमाल करते हैं तो उसे ज्‍यादा समय के ल‍िए यूज न करें और लेंस को हमेशा साफ करके ही इस्‍तेमाल करना चाह‍िए।
  • आप पुराने आई मेकअप का इस्‍तेमाल करने से भी बचना चाह‍िए, आप आईलाइनर या मस्‍कारा आद‍ि का इस्‍तेमाल न करें और आई मेकअप करने से भी आपको बचना चाह‍िए।

आंख में इंफेक्‍शन होने पर डॉक्‍टर से संपर्क करें और इंफेक्‍शन के लक्षणों की पहचान कर जल्‍द से जल्‍द इलाज करवाएं। 

main image source: wpengine

Disclaimer