अच्छी खबर! भारत के बड़े शहरों में कम होने लगे हैं कोरोना के मामले, पॉजिटिविटी रेट गिरकर 14. 43 पर

COVID-19 news updates:आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर का कहना है कि भारत में पीक पर है कोरोना की तीसरी लहर। जल्द ही केस तेजी से घटेंगे।  

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 18, 2022Updated at: Jan 18, 2022
अच्छी खबर! भारत के बड़े शहरों में कम होने लगे हैं कोरोना के मामले, पॉजिटिविटी रेट गिरकर 14. 43 पर

भारत कोरोना की तीसरी लहर की जद में है और हर रोज यहां कोरोना के 1 लाख से ज्यादा मामले आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में भारत में 2 लाख 58 हजार से ज्यादा कोरोना केस आए पर राहत की बात ये है कि सोमवार की तुलना में ये 5 प्रतिशत कम है। वहीं, 385 लोगों की मौत हुई। इसके अलावा अच्छी खबर ये भी है कि भारत के बड़े शहरों में कोरोना के मामले घट रहे हैं और पॉजिटिविटी रेट गिरकर 14. 43 पर है। साथ ही नेशनल रिकवरी रेट घटकर 94.27 प्रतिशत हो गई है। इन तमाम स्थितियों को देखते हुए कहा जा सकता है आने वाले दिनों में कोरोना के मामलों में सुधार आ सकती है और स्थिति पहले कि तुलना में बेहतर हो सकती है। इधर कोरोना के पॉजिटिविटी रेट में गिरावट को देखते हुए आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के प्रोफेसर डॉ. मनिंद्र अग्रवाल का मानना है कि कोविड की तीसरी लहर, जो ओमाइक्रोन के कारण है, वो दिल्ली, मुंबई और कोलकाता जैसे शहरों में अपने चरम पर पहुंच गई है। तो, आइए इसी तरह विस्तार से जानते हैं देश और दुनिया में कोविड-19 से जुड़ी बड़े अपडेट्स।

insidecovid-19

आईआईटी कानपुर की भविष्यवाणी, पीक पर है कोरोना के मामले 

आईआईटी कानपुर (IIT, Kanpur) की भविष्यवाणी के अनुसार इस सप्ताह महाराष्ट्र, गुजरात और हरियाणा में कोविड-19 चरम पर होगा और फिर ये ग्राफ धीमे-धीमे नीचे आ सकता है। इस भविष्यवाणी को करने वाले डॉ. अग्रवाल ने कहा है कि भारत में यह वायरस पहले के अनुमान से कहीं ज्यादा तेजी से फैल रहा है और जनवरी के अंत में ये अपने पीक पर हो सकता है। साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि महाराष्ट्र में, इसके 19 जनवरी तक ये अपने चरम पर हो सकता है। तो, वहीं गुजरात और हरियाणा में भी स्थिति ऐसी ही रहेगी। उन्होंने यह भी कहा कि आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु जैसे दक्षिणी राज्यों में अगले सप्ताह यह लहर चरम पर दिखाई देगी। 

इसे भी पढ़ें : अच्छी खबर: देश में बढ़ रहे कोरोना के मामले पर R-Value में दिखी गिरावट, जानें कोरोना से जुड़े सभी ताजा अपडेट्स

ओमीक्रोन के मामले बढे हैं

ओमाक्रोन वैरिएंट की बात करें, तो स्थिति में ज्यादा सुधार नहीं है। आज कल के मुकाबले इसमें 8.31% की तेजी आई है। देश में ओमिक्रॉन के कुल मामले बढ़कर 8,891 हो गए हैं। चिंताजनक बात ये है कि सोमवार को मणिपुर में बड़ी संख्या में ओमीक्रॉन के मामले बढ़े हैं। यहां ओमीक्रोन के मामलों की संख्या बढ़कर सोमवार को 39 हो गई। जबकि एक दिन पहले बस 7 मामले सामने आए थे। इस बात से अंदाजा लगाया जा रहा है कि नॉर्थ ईस्ट के बाकी राज्यों में भी ओमीक्रॉन फैल सकता है और आने वाले दिनों में यहां भी कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं। 

दवाइयों को लेकर ICMR ने बदली गाइडलाइन्स 

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने अपने कोविड -19 प्रबंधन दिशानिर्देशों में बदलाव करते हुए ऑरल एंटीवायरल, एंटीबायोटिक्स, मोनोक्लोनल एंटीबॉडी और विटामिन के उपयोग को शामिल करने से मना किया है। आईएमआर का कहना है कि एंटीवायरल रेमेडिसविर आईवी ड्रिप के माध्यम से सिर्फ उन्हीं लोगों को दिया जाता है, जो मध्यम से गंभीर रूप से बीमार रोगी हैं या फिर जो ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। 

इसे भी पढ़ें : 24 घंटे में 2.6 लाख कोरोना के नए मामले और 315 लोगों की मौत ने बढ़ाई चिंता, पॉजिटिविटी रेट बढ़कर हुआ 14.7

बता दें कि इस समय महाराष्ट्र, कोविड महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में से एक है और यहां 41,327 नए मामले सामने आए हैं। हालांकि,  रविवार की तुलना में 1135 कम मामले समाने आए हैं और 29 लोगों की मौत हुई है। राज्य में आठ नए ओमाइक्रोन मामले सामने आए हैं, जिससे इस तरह के संक्रमणों की संख्या बढ़कर 1,738 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में रविवार को 18,286  कोविड-19  के नए मामले सामने आए हैं। जबकि पॉजिटिविटी रेट एक दिन में 30.64 प्रतिशत से घटकर 27.87 प्रतिशत हो गई।

Disclaimer