गुजरात में सामने आया कोरोना वायरस के XE वैरिएंट का पहला मामला: रिपोर्ट

XE Variant in Gujarat: सूत्रों के अनुसार गुजरात में कोरोनावायरस XE वैरिएंट का एक मामला सामने आया है। इसे अब तक का सबसे संक्रामक वैरिएंट माना जा रहा है

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Apr 09, 2022Updated at: Apr 09, 2022
गुजरात में सामने आया कोरोना वायरस के XE वैरिएंट का पहला मामला: रिपोर्ट

XE Variant in India: स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार देश में कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट XE से दस्तक दे दी है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार गुजरात में इसका एक मामला (XE Variant in Gujarat) सामने आया है। WHO ने कोरोनावायरस के XE वैरिएंट को अभी तक का सबसे अधिक फैलने वाला स्ट्रेन बताया है। 

XE वैरिएंट क्या है? (What is XE Variant)

XE कोरोनावायरस का एक नया वैरिएंट (XE Variant) है। यह Omicron के दो संस्करणों BA.1 और BA.2 से मिलकर बना है। कोई भी कॉम्बिनेशन तब बनता है, जब कोई व्यक्ति एक से अधिक वैरिएंट से इंफेक्टेड हो चुका होता है। दुनिभायर में XE वैरिएंट के कुछ मामलों की पुष्टि हो चुकी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार XE वैरिएंट Omicron के BA.2 उप-संस्करण की तुलना में लगभग दस प्रतिशत अधिक तेजी से फैलता है। अब तक Omicron के BA.2 सब-वैरिएंट को कोरोनावायरस का सबसे संक्रामक स्ट्रेन माना गया था, लेकिन इस समय XE वैरिएंट को सबसे अधिक संक्रामण वैरिएंट माना जा रहा है।

XE वैरिएंट का सबसे पहला मामला यूके में मिला था, उसके बाद दुनियाभर के कई देशों में इसके मामले सामने आने लगे। अब भारत में इसमें शामिल हो चुका है। अब तक XE वैरिएंट के लगभग 637 मामलें सामने आ चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें - कोरोना के नए XE, XD और XF स्ट्रेन कैसे हैं एक दूसरे से अलग? जानें कौन सा कॉम्बिनेशन है ज्यादा खतरनाक

XE variant

XE वैरिएंट के लक्षण (XE Variant Symptoms)

वैसे तो XE वैरिएंट के लक्षणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है, लेकिन XE वैरिएंट ओमिक्रोन के दो वैरिएंट BA.1 और BA.2 से जुड़कर बना है। ऐसे में XE वैरिएंट के लक्षण भी इनसे मिलते-जुलते ही हो सकते हैं। XE वैरिएंट में बुखार, खांसी, थकान, गले में खराश, नाक बहना, डायरिया, सिरदर्द और सांस लेने में कमी जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं।

मुंबई में XE वैरिएंट मामला

गुजरात से पहले महाराष्ट्र में भी XE वैरिएंट मिलने की बात सामने आई थी। इस मामले में BMC ने मुंबई में XE वैरिएंट का पहला मरीज मिलने का दावा किया था। लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय के केंद्रीय अनुसंधान निकाय INSACOG ने इस खबर को खंडने करते हुए कहा था कि इस मामले की दोबारा जांच होगी। इस मामले में BMC और स्वास्थ्य मंत्रालय के दावे अलग-अलग थे, इसलिए महाराष्ट्र में XE वैरिएंट के मामले में कुछ भी कहना सही नहीं है।

इसे भी पढ़ें - भारत में कोरोना के XE वैरिएंट की नहीं हुई पुष्टि, WHO ने बताया था 10 गुना ज्यादा संक्रामक

XE वैरिएंट ने देश में दस्तक दे दी है, ऐसे में अगर आपको कोरोनावायरस से जुड़ा कोई भी लक्षण महसूस होता है, तो तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट कराने की जरूरत होती है।

Disclaimer