वजन घटाने के लिए अपनी डाइट में शामिल करें मकई (कॉर्न), जानें इसे खाने के खास फायदे

मकई या कॉर्न जितना खाने में स्वादिष्ट होता है, उतने ही इसके स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। इसमें मौजूद कम कैलोरी की मात्रा वेट लॉस जर्नी आसान बनाती है।

Monika Agarwal
Written by: Monika AgarwalUpdated at: Aug 14, 2021 09:30 IST
वजन घटाने के लिए अपनी डाइट में शामिल करें मकई (कॉर्न), जानें इसे खाने के खास फायदे

कॉर्न (Corn/ Makkai) में बहुत अधिक न्यूट्रीशनल लाभ पाए जाते हैं और इसकी फूड वैल्यू के कारण भी बहुत से लोग इसे अपनी डाइट में शामिल करना पसंद करते हैं। कार्न (Corn benefits)को दुनिया की सभी आवश्यक फसलों में से एक माना जाता है। भारत में भी कार्न का प्रयोग कई तरह से किया जाता है जैसे यहां इसे भुट्टे के रूप में खाया जाता है, मक्के की रोटी के रूप में खाया जाता है और पॉप कॉर्न आदि जैसे स्नैक्स भी इससे बनाए जाते हैं। मकई में पाया जाने वाला फेरुलिक एसिड भी उसे आपकी सेहत के लिए लाभदायक बनाता है। तभी तो मक्के से मिलने वाले लाभों में से एक है वजन कम होना (corn for weight loss)। पर आइए पहले हम बात करते हैं इसमें मौजूद पोषक तत्वों की।

inside7 (1)

मकई या कॉर्न में पोषक तत्व (Nutrition In Makkai)

मकई में कार्बोहाइड्रेट और फाइबर की उच्च मात्रा होती है साथ में विटामिंस और मिनरल्स भी होते हैं यही नहीं इसमें फैट की मात्रा बहुत कम और प्रोटीन भी कम होता है। डाइटिशियन डॉक्टर अनिका बग्गा, कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल बताती हैं कि एक कप मकई में लगभग 175 कैलोरी, 40 ग्राम के करीबन कार्बोहाइड्रेट, 5 ग्राम प्रोटीन, 2 ग्राम फैट, 4.5 ग्राम फाइबर और दैनिक जरूरत का 17% विटामिन सी, 24% थियामिन, 20% विटामिन B9, 10% मैग्निशियम, 9-10% पोटैशियम होता है। मकई में कार्बोहाइड्रेट्स स्टार्च से मिलते हैं। जिसकी वजह से आपकी ब्लड शुगर बढ़ सकती है। लेकिन इसमें मौजूद फाइबर ब्लड शुगर कंट्रोल करता है।

वजन घटाने में कैसे मददगार है मकई- How does corn speed up weight loss?

स्वीट कॉर्न एक अच्छा प्रो बायोटिक होता है क्योंकि यह हमारे शरीर में पेट के लिए लाभदायक बैक्टेरिया का उत्पादन होने में मदद करता है। इससे आपका पाचन तंत्र भी बेहतर ढंग से काम कर पाता है और आप का मेटाबॉलिज्म भी बढ़ जाता है। जो आपके वजन कम होने में लाभदायक होता है। वजन कम करने का पहला स्टेप मेटाबॉलिज्म का मजबूत होना और आपके पेट का स्वस्थ होना।

इसे भी पढ़ें : मिलावटी साबूदाना खराब कर सकता है सेहत, जानें कैसे करें असली-नकली साबूदाने की पहचान

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर (Antioxidant Properties)

मकई या कॉर्न खाने का फायदा ये है कि इसमें बहुत से पौष्टिक तत्त्व और एंटी ऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। इसमें विटामिन ए, बी और सी होते हैं जो आपकी स्किन और बाकी सेहत के लिए आवश्यक और लाभदायक होते हैं। यह आपके इंटरनल ऑर्गन के लिए भी लाभदायक होता है।

इसमें जिंक, मैग्नेशियम, कॉपर, आयरन और मैंगनीज जैसे तत्त्व होते हैं, जो आपकी सेहत के लिए अच्छे होते हैं। यह ग्लूटेन फ्री होता है जिस कारण आप सिलिक डिजीज से भी बच सकते हैं। स्वीट कार्न आपके डेली मेटाबॉलिज्म के लिए भी पर्याप्त मात्रा में कैलोरीज़ प्रदान करता है। यह एक पावरफुल इंग्रेडिएंट होता है इसलिए आपको एक साथ अधिक मात्रा में भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

Inside1tipstoloseweightfast

मकई को अपनी डाइट में शामिल क्यों करें-Corn health benefits

  • मकई या कॉर्न में बहुत से आवश्यक पौष्टिक तत्त्व होते हैं जो आपकी ओवर ऑल हेल्थ के लिए अच्छे होते हैं।
  • यह आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करता है।
  • कार्न आपको 15% फाइबर देता है जिसमें से 9% सॉल्युबल होता है। डाइट्री फाइबर की कमी के कारण कैंसर, हाई कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज, ओबेसिटी और हाइपरटेंशन की समस्या देखने को मिलती हैं और इनसे बचाने के लिए मकई आपकी बहुत सहायता करती है।
  • इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स काफी अधिक होता है इसलिए जिन लोगों को शुगर होती है या जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उन्हें इसका सेवन सीमा में ही करना चाहिए।
  • मकई या कॉर्न ग्लूटेन फ्री होता है इसलिए सिलिक डिजीज वाले मरीज और ग्लूटेन इंटोलरेंट लोग भी इसका सेवन आसानी से कर सकते है ।

इसे भी पढ़ें : दांतों में पायरिया होने पर रोक दें इन 6 फूड्स का सेवन, जानें क्या खाने से मिलेगा फायदा

इन सभी स्वास्थ्य लाभों को जानने के बाद आपको पता लग गया होगा कि कॉर्न आपकी सेहत के लिए लाभदायक होता है। अगर आप वजन कम करने की चाहत में इसका सेवन कर रहे हैं तो खाने वाली मात्रा पर जरूर ध्यान रखें। क्योंकि इसका जीआई लेवल हाई होता है व इसमें कुछ अमीनो एसिड मिसिंग होते हैं।इसलिए अगर आप इसे एक पूरा पावर पैक फूड बनाना चाहते हैं तो मकई या कॉर्न के साथ कुछ नट, डेयरी उत्पाद और फलियां आदि भी एड कर लें। 

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer