बच्चों के पैर में परेशानी का कारण बन सकती हैं ये 4 समस्याएं, जानें बचाव का उपाय

बच्चे के पैर में आमतौर पर कई परेशानी हो सकती है, जिसके कारण उन्हें चलने-फिरने में भी समस्या आ सकती है। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: May 30, 2022Updated at: May 30, 2022
बच्चों के पैर में परेशानी का कारण बन सकती हैं ये 4 समस्याएं, जानें बचाव का उपाय

छोटे बच्चों के पैर में ऐसी कई समस्याएं होती है, जिसकी वजह से उन्हें चलने-फिरने या दौड़ने में परेशानी हो सकती है। इन समस्याओं में पैर में मस्से, एड़ी में दर्द, सपाट पैर और इन्ग्रोन टोनेल शामिल है। इन स्थितियों के कारण बच्चे को अन्य शारीरिक समस्याएं भी हो सकती है। साथ ही इससे बच्चे की जीवनशैली भी प्रभावित हो सकती है। बचपन में पैरों में हड्डियों की वृद्धि और मांसपेशियों में दर्द के कारण उन्हें चलने-फिरने में परेशानी आ सकती है। सपाट पैर के कारण उनके तलवों में दर्द हो सकता है। पैरों में इन्ग्रोन टोनेल की परेशानी के कारण बहुत दर्द भी झेलना पड़ सकता है। ये सभी समस्याएं पोषक तत्वों की कमी और संक्रमण के कारण हो सकते हैं। इससे बचाव के लिए आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए ताकि वह आपको अच्छी सलाह दे सके। 

बच्चों में होने वाली सामान्य पैर की समस्याएं

1. इनग्रोन टोनेल 

इनग्रोन टोनेल की समस्या तब होती है, जब नाखून का किनारा आमतौर पर बड़ा हो जाता है और बगल की त्वचा को नुकसान पहुंचाने लगता है। इससे तेज दर्द और संक्रमण का डर रहता है। साथ ही यह एक ऐसी समस्या है, जो किसी भी उम्र में हो सकती है लेकिन यह बच्चों में आम होती है। यह बच्चे को टाइट-फिटिंग जूता पहनाने के कारण भी हो सकता है। इसकी वजह से उगंलियों पर काफी दबाव पड़ता है। चूंकि बच्चों का विकास तेजी से होता है। ऐसे में उनके लिए फिटिंग जूते पहनाना नुकसानदायक हो सकता है। यह दिक्कत बच्चों में एक सप्ताह तक बनी रह सकती है, जिसके कारण नाखून के आसपास की त्वचा में संक्रमण, सूजन, लालिमा और दर्द होने लगता है। छूने पर प्रभावित जगह गर्म लग सकती है। 

child-feet

Image Credit- Freepik

2. प्लांटर वार्ट 

बच्चे के पैरों के तलवे में अगर आपको मस्सा दिखाई दे, तो यह प्लांटर वार्ट हो सकता है। यह एक प्रकार का त्वचा का घाव होता है, जो वायरस के कारण पैरों के तलवे में हो सकता है। यह आपके पैरों के तलवे में त्वचा मोटी गोलाकार हो जाती है, जो पैरों में भारीपन और असुविधा पैदा करता है। यह छोटे काले डॉट्स के रूप में भी दिखाई देता है। हालांकि यह पैर के अन्य हिस्से में भी हो सकता है लेकिन सामान्यत यह तलवों में ही होता है। इन मस्सों के कारण आपको वायरस संक्रमण की दिक्कत हो सकती है। इसके कारण आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है। 

3. फ्लैट फुट

पेस प्लेनस या फ्लैट पैर में आपको चलने या अधिक देर तक खड़ा रहने पर बच्चे को परेशानी हो सकती है। बच्चे को कई कारणों से फ्लैट पैर की दिक्कत हो सकती है, आर्थोपेडिक समस्याओं के कारण यह गंभीर हो सकता है। इसमें पैर में दर्द, चलने में कठिनाई और सूजन की दिक्कत आ सकती है। सपाट पैर की परेशानी जन्मजात भी हो सकती है। अगर इसका समय पर उपचार नहीं किया जाए, तो यह गंभीर हो सकता है। इसमें पैरों पर अधिक देर खड़ा रहने पर दर्द और सूजन की परेशानी हो सकती है। 

इसेे भी पढे़ं- पैरों या टांगों में दर्द का कारण, लक्षण, और बचाव और दर्द दूर करने के लिए घरेलू उपाय

4. एड़ी में दर्द

एड़ी का दर्द प्लांटर फैसीसाइटिस के कारण हो सकता है, जो एड़ी में सूजन के कारण हो सकता है। इसमें एड़ी के नीचे वाले हिस्से में दर्द और सूजन की दिक्कत हो सकती है। यह छोटे बच्चों में एड़ी के पिछले हिस्से में दर्द हो सकता है। इसमें खिंचाव और मांसपेशियों में जलन हो सकती है। इसके लिए आप बच्चे के पैरों की मसाज कर सकते हैं। साथ ही उन्हें गर्म पानी के सेंक की मदद से भी उन्हें आराम दिला सकता है। 

child-feet

Image Credit- Freepik

इन तरीकों से करें देखभाल 

1. बच्चे के जूतों को फिटिंग न रखें बल्कि उन्हें थोड़ा ढीला रखने की कोशिश करें। 

2. इसके अलावा पैरों में दर्द होने पर गर्म पानी का सेंक करें। 

3. साथ ही डॉक्टर की सलाह के बाद पैरों में कोई क्रीम लगाएं और बच्चे को कम चलने दे, जब तक घाव ठीक न हो जाए। 

4. बच्चों के पैरों को रोज धोएं और क्रीम लगाएं

5. बच्चे के नाखूनों को समय-समय पर काटते रहें। इससे नाखून न बढ़ें। 

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer