टी ट्री ऑयल और नारियल का तेल करेगा पीठ के मुंहासों को खत्म, जानें इस्तेमाल का तरीका

टी-ट्री ऑयल में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल पाए जाते हैं, जो स्किन को अंदर से मॉइश्चराइज करने में मददगार साबित होते हैं। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 21, 2022Updated at: Sep 21, 2022
टी ट्री ऑयल और नारियल का तेल करेगा पीठ के मुंहासों को खत्म, जानें इस्तेमाल का तरीका

Back acne home remedies: खराब लाइफस्टाइल के कारण आजकल लोगों को कई तरह की स्किन प्रॉब्लम हो रही है। खानपान, जंक फूड और कोल्ड ड्रिंक की वजह से चेहरे के तमाम हिस्सों पर पिंपल्स निकलना बहुत ही आम बात है। लेकिन शरीर के पिछले हिस्से यानी की पीठ पर एक्ने निकलना आम नहीं माना जाता है। पीठ पर दाने निकलने का कारण कई बार हार्मोनल असंतुलन (Back acne reasons) भी होता है। 

ज्यादा ये टीनएजर में देखने को मिलता है। कई बार पेट से जुड़ी समस्याओं के कारण भी होता है। जिन लोगों में कब्ज की समस्या रहती है और पेट ठीक से साफ नहीं होता, उसमें भी बैठने की समस्या रहती है। पीठ के एक्ने की समस्या से राहत पाने के लिए कुछ लोग डॉक्टर के पास जाते हैं दवाइयां खाते हैं, कई तरह के स्किन पाउडर का इस्तेमाल करते हैं लेकिन इस समस्या से कुछ घरेलू नुस्खों (peeth ke acne se kaise chutkara paye) से भी राहत पाई जा सकती है।

 पीठ के एक्ने की समस्या से नारियल के तेल और टी-ट्री ऑयल से राहत पाई जा सकती है। आइए जानते हैं पीठ के एक्ने के लिए नारियल के तेल और टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल कैसे करें।

इसे भी पढ़ेंः मूंग, सोयाबीन और मोठ को भिगोकर खाने से सेहत को मिलेंगे ये फायदे

 

Back-Acne-Remedies

कैसे करें टी-ट्री ऑयल और नारियल के तेल का इस्तेमाल - How to use tea tree oil and coconut oil

टी-ट्री ऑयल में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल पाए जाते हैं, जो स्किन को अंदर से मॉइश्चराइज करने में मददगार साबित होते हैं। वहीं, नारियल के तेल के पोषक तत्व स्किन को अंदर से हील करने में मदद कर सकते हैं।

पीठ के एक्ने की समस्या से राहत पाने के लिए एक कटोर में एक चम्मच नारियल तेल में 6 से 7 बूंदे टी-ट्री डालकर अच्छे से मिक्स कर लें।

इस मिश्रण को पीठ पर हल्के हाथों से लगाएं। टी-ट्री ऑयल और नारियल के तेल के मिश्रण को रातभर पीठ पर लगा रहने दें।

सुबह नॉर्मल पानी से नहाएं। पीठ पर एक्ने की समस्या पाने के लिए जिस दौरान टी-ट्री ऑयल और नारियल के तेल का इस्तेमाल कर रहे हैं उस दौरान साबुन का प्रयोग बिल्कुल न करें।

नारियल के तेल और टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल आप रोजाना नहाने के बाद भी बॉडी पर मॉइश्चराइजर के तौर पर कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः बच्चों की मालिश कैस्टर ऑयल से करने से क्या फायदे मिलते हैं?

 

टी ट्री ऑयल के पोषक तत्व - Nutrients of Tea Tree Oil

टी-ट्री ऑयल में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल पाए जाते हैं। पब मेड सेंट्रल में प्रकाशित एक अध्ययन में ये बात सामने आई है कि टी-ट्री ऑयल में एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल प्रॉपर्टीज पाई जाती है। ये सभी पोषक तत्व शरीर को अंदर से पोषण प्रदान करते हैं।

नारियल के तेल के पोषक तत्व - Coconut oil nutrients

नारियल के तेल में कैल्शियम, मैग्नीशियम पाया जाता है। इसके अलावा नारियल का तेल में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो स्किन को अंदर से मॉइश्चर करने में मदद करते हैं। नारियल के तेल में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो आपकी त्वचा को खूबसूरत बनाते हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Disclaimer