कोलेस्ट्रॉल से जुड़ी कुछ भ्रामक बातें (मिथक) जिन्हें लोग मानते हैं सही, एक्सपर्ट से जानें इनकी सच्चाई

लोगों का कोलेस्ट्रोल से जुड़े कुछ सवाल और मिथक के बारे में जानना जरूरी है, जिससे वह स्ट्रोक, दिल का दौरा आदि गंभीर समस्याओं से अपना बचाव कर सकें।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 17, 2021
कोलेस्ट्रॉल से जुड़ी कुछ भ्रामक बातें (मिथक) जिन्हें लोग मानते हैं सही, एक्सपर्ट से जानें इनकी सच्चाई

स्वस्थ रहने के लिए शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर सामान्य रहना बेहद जरूरी है। लेकिन लोग कोलेस्ट्रॉल के मामले में थोड़ा सा कम सतर्कता बरतते हैं। ऐसे में उन्हें कोलेस्ट्रॉल से संबंधित मिथक और तथ्य के बारे में जानना जरूरी है। अगर वे कोलेस्ट्रॉल से जुड़े जरूरी तथ्यों या उससे जुड़े सवालों के बारे में जान लेंगे तो भविष्य में उन्हें कोलेस्ट्रॉल के कारण शरीर से संबंधित समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा और वह पहले से ही सचेत हो जाएंगे। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि कोलेस्ट्रॉल से जुड़े जरूरी मिथक और तथ्य क्या हैं। साथ ही कोलेस्ट्रॉल से जुड़े सवाल-जवाब के बारे में भी जानेंगे। ये लेख डीएम कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर राजीव गुप्ता (DNB (Medicine), MNAMS, DM Cardiologist Dr. Rajeev kumar Gupta) द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बनाया गया है। पढ़ते हैं आगे...

 

कोलेस्ट्रॉल शरीर के लिए हमेशा हानिकारक होता है

यह एक मिथक है। अगर तथ्य की बात की जाए तो कुछ कोलेस्ट्रॉल शरीर के लिए अच्छा साबित हो सकता है। अच्छा कोलेस्ट्रॉल हार्मोन का निर्माण करने के साथ-साथ कोशिकाओं का निर्माण भी कर सकता है। बता दें कि एलडीएल जिसे खराब कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है। यह हृदय रोग या स्ट्रोक आदि जोखिम को बढ़ा सकता है। वहीं अगर एचडीएल की बात की जाए तो यह अच्छा कोलेस्ट्रॉल कहलाता है जो हृदय रोग या स्ट्रोक के जोखिम को कम कर सकता है।

कोलेस्ट्रॉल के अधिक सेवन से कोलेस्ट्रॉल घटता है।

यह भी एक मिथक है। अधिक कोलेस्ट्रॉल वाले खाद्य पदार्थ में वसा भी ज्यादा होता है और ऐसे खाद्य पदार्थ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकते हैं। उदाहरण के तौर पर रेड मीट, मक्खन, पनीर, जानवरों से बने खाद्य पदार्थ आदि में ज्यादा वसा होता है। ऐसे में इन खाद्य पदार्थों से दूरी बनाएं। आप उन खाद्य पदार्थों को अपनी दिनचर्या में जोड़ना चाहिए जिनमें फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। जैसे दालें, ब्रोकली, अनार, राजमा, लोबिया, सोयाबीन, मटर आदि को डाइट में जोड़ सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें- कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने से बढ़ जाता है इन 5 बीमारियों का खतरा, जानें इसे घटाने के सबसे आसान उपाय

कोलेस्ट्रॉल को व्यायाम और जरूरी पोषक तत्वों से सामान्य रखा जा सकता है

यह मिथक नहीं है। व्यायाम और जरूरी पोषक तत्वों के माध्यम से अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाया जा सकता है। लेकिन स्टैटिन (statins) दवाई के माध्यम से भी कोलेस्ट्रोल के स्तर को नियंत्रित करने की जरूरत होती है। एक दिन में 30 मिनट ब्रिस्क वॉक यानि एक हफ्ते में 150 मिनट की ब्रिस्क वॉक कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रख सकती है। 

स्टैटिन (statins) दवाई सभी के लिए जरूरी है

नहीं, यह एक मिथक है। स्टैटिन (statins) दवाई केवल उन लोगों को डॉक्टर देते हैं जिनके शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल का लेवल ज्यादा है। या जो लोग जो हृदय रोग और मधुमेह से पीड़ित हैं उन्हें भी इस तरीके की दवाई का सेवन करने की सलाह दी जाती है। हालांकि ये दवाई डॉक्टर की सलाह पर ली जाती है।

कोलेस्ट्रॉल के स्तर को ठीक करने के लिए मैं क्या कर सकता हूं?

1 - 2 से 5 साल के अंदर कोलेस्ट्रॉल की जांच जरूर करवाएं। जो लोग 55 साल से ज्यादा उम्र के हैं उन्हें एक से दो साल में चेकअप करवाना चाहिए।

2 - अपनी डाइट को संतुलित रखें। डाइट में ज्यादा फाइबर और कम वसा वाले खाद्य पदार्थों को जोड़ें।

3 - मोटापे को संतुलित रखें

4 - दिनचर्या में शारीरिक गतिविधियों को जोड़ें।

5 - धूम्रपान या तंबाकू के सेवन से बचें।

6 - अपने परिवार के इतिहास के बारे में जानें। यदि आपके माता-पिता या किसी अन्य व्यक्ति को कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या है तो हो सकता है कि ये समस्या आपको भी हो।

इसे भी पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल घटाने के लिए ट्राई करें सेलिब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट Rujuta Diwekar के ये खास टिप्स

उच्च कोलेस्ट्रॉल  के लक्षण

आमतौर पर उच्च कोलेस्ट्रॉल के लक्षण नजर नहीं आते हैं। जब तक व्यक्ति को दिल का दौरा या स्ट्रोक ना हो जाए तब तक उसे पता नहीं चलता कि उसके कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ रहा है। ऐसे में समय-समय पर जांच करवानी जरूरी है। हालांकि कुछ लोगों की आंखों के नीचे पीली घब्बे पड़ने लगती है इसे जैंथिलाजमा रोग भी कहते हैं। जिस व्यक्ति को यह समस्या होती है तो इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसके शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ रहा है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि कोलेस्ट्रॉल से जुड़े मिथक हैं, जिनके बारे में पता होना जरूरी है। साथ ही कोलेस्ट्रॉल से जुड़े सवाल भी इस समस्या से बचा सकते हैं। 

इस लेख में फोटोज़ FREEPIK से ली गई हैं। 

Read More Articles on Other diseases in hindi

Disclaimer