सर्दियों में पसीना आना करता है इन बीमारियों की ओर संकेत, जानें हो सकती है कौन सी बीमारी

सर्दियों में पसीना आना कोई आम समस्या नहीं है। ये आपको कई बीमारियों की तरफ इशारा करती है। 

 
Vikas Arya
Written by: Vikas AryaUpdated at: Dec 06, 2022 19:16 IST
सर्दियों में पसीना आना करता है इन बीमारियों की ओर संकेत, जानें हो सकती है कौन सी बीमारी

गर्मियों में पसीना आना आम बात है, लेकिन यदि आपको या आपके किसी करीबी को सर्दियों में भी पसीना आता है तो ये एक बड़ी समस्या की ओर संकेत करता है। जब शरीर का तापमान बढ़ता है तो बॉडी टेम्परेचर को नॉर्मल बनाने के लिए पसीने को बाहर करने का काम करती है। इससे शरीर का तापमान नॉर्मल हो जाता है। लेकिन यदि सर्दी में भी आपको पसीने आ रहे हैं तो आपके लिए ये खतरे की घंटी हो सकती है। जानें सर्दियों में पसीने आने के क्या कारण हो सकते हैं। 

सर्दियों में पसीना आने के कारण 

सर्दियों में शरीर के हार्मोन में बदलाव की वजह से पसीना आता है। यदि आप कुछ गर्म या मसालेदार खाना खाते हैं तो आपको पसीना आना आम बात है। क्योंकि इस समय ब्रेन को ऐसे सिग्नलस मिलते हैं, जिसकी वजह से आपको पसीना आने लगता है। लेकिन यदि आपको बिना किसी वजह के पसीना आ रहा है तो ऐसे में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। ये आपको कई अन्य समस्याओं की ओर इशारा करता है। 

सर्दियों में पसीना आने की वजह 

sweating during winter in hindi

हाइपरहाईड्रोसिस 

हाइपरहाइड्रोसिस में मरीज को अधिक पसीना आता है। इस समस्या में व्यक्ति को पैरों के तलवों और हथेलियों पर भी पसीना आता है। यदि किसी व्यक्ति को सर्दियों में ज्यादा पसीना आने लगे तो उसको हाइपरहाइड्रोसिस का इलाज कराने के लिए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : क्‍यों आता है रात में सोते हुए पसीना

शुगर का स्तर कम होना 

सर्दियों में शुगर लेवल लो होने पर भी व्यक्ति को अधिक पसीना आने लगता है। यदि शुगर लेवल नॉर्मल यानी 70 से 100 से कम होता है तो व्यक्ति को अधिक पसीना आने लगता है। अगर सर्दियों में भी पसीना आने लगे तो ये समझ जाएं कि ये आपके शुगर लेवल कम होने का संकेत हो सकता है। 

बीपी लो होना 

सर्दियों में रक्त संचार धीमा हो जाता है। लो ब्लड प्रेशर की वजह से खून हृदय तक सही तरह से नहीं पहुंच पाता है। जिस वजह से व्यक्ति को हार्ट अटैक आने की संभावना बढ़ जाती है। यदि आपको भी सर्दियों में अधिक पसीना आ रहा हो तो इसे हल्के में न लें, क्योंकि ये आपके हृदय संबंधी रोग का मुख्य कारण हो सकता है।

महिलाओं के हार्मोन में बदलाव होना

सर्दियों में अधिक उम्र की महिलाओं में अक्सर मेनोपॉज की स्थिति में ऐसा देखा जाता है। मेनोपॉज की शुरुआत में हार्मोनल बदलाव तेजी से होता है। इसकी वजह से भी महिलाओं को पसीना आने की समस्या हो सकती है। 

मोटापा 

सर्दियों में शारीरिक गतिविधियां कम होने की वजह से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाता है। कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाने की वजह से सर्दियों में मोटापा तेजी से बढ़ता है और कोलेस्ट्रॉल की वजह से आपको अधिक पसीना आने की समस्या हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें : क्या आपको भी आता है ज्यादा पसीना? जानें आयुर्वेद के अनुसार क्या है इसका इलाज

 

सर्दियों में पसीना आना कोई आम समस्या नहीं है। यदि आपको पसीना आने के साथ ही घबराहट भी महसूस हो रही है तो ऐसे में अपने डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें। साथ ही डॉक्टर के द्वारा बताए गए टेस्ट के समय पर करवाकर अपनी बीमारी का समय पर पता लगाएं।  

Disclaimer