बच्चों के पसीने से बदबू आना हो सकता है कई समस्याओं का संकेत, जानें इसके कारण और उपाय

अगर आपके बच्चे के शरीर से पसीने की बदबू आ रही है, तो आपको इस बारे में डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Apr 25, 2022Updated at: Apr 25, 2022
बच्चों के पसीने से बदबू आना हो सकता है कई समस्याओं का संकेत, जानें इसके कारण और उपाय

शरीर से गंध तब आती है, जब हमारे बैक्टीरिया हमारी पसीने से जुड़ी ग्रंथियों को प्रभावित करता है। ऐसा आमतौर पर बुखार होने पर, मसालेदार खाना खाने, गर्म और उमस भरी स्थिति में पूरे शरीर में मौजूद एक्राइन पसीने की ग्रंथियों के कारण होता है। यह शरीर में पसीना बनाता है और कई बार इनसे बदबू भी आ सकती है। ऐसा बच्चों में भी होता है क्योंकि बैक्टीरिया के कारण बच्चों के पसीने में भी गंध और स्किन तैलीय हो जाती है। कई बार बच्चों में भय, तनाव या चिंता के कारण भी पसीने की बदबू की समस्या हो सकती है। छोटे बच्चों के शरीर से पसीने की बदबू नहीं आती है लेकिन आठ साल से अधिक उम्र के बच्चों को पसीने आते हैं और कई बार इससे दु्र्गंध भी आ सकती है। किशोरों में ये दिक्कत अधिक हो सकती है। आइए इसके कारण, लक्षण और उपाय के बारे में विस्तार से जानते हैं। 

बच्चों के पसीने से बदबू के कारण 

1. हाइजीन के कारण 

कई बार बच्चों में पसीने की बदबू का कारण सफाई की कमी हो सकती है। गंदे कमरे, अनियमित स्नान और कपड़ों के कारण भी पसीने की बदबू आ सकती है। बैक्टीरिया के कारण भी बच्चे के शरीर से गंध आ सकती है। 

2. भोजन की गलत आदतें

पसीने की दुर्गंध का कारण बच्चे का खानपान भी हो सकता है। ज्यादा तैलीय और मसालेदार भोजन करने से भी पसीने से बदबू आ सकती है। कुछ भोजन पचने के बाद भी आपकी त्वचा छिद्रों से रिसकर गंध पैदा कर सकते हैं। साथ ही सांस से भी गंध आने की संभावना बनी रहती है। 

children-sweat

Image Credit- Freepik

3. अधिक लहसुन और प्याज के सेवन से

अगर आपका बच्चा बहुत अधिक लहसुन और प्याज का सेवन करता है, तो इससे भी पसीने की बदबू आ सकती है। इसके अलावा प्रोसेस्ड फूड और फाइबर की कमी से भी पसीने से गंध आती है। 

4. युवावस्था के दौरान 

यदि आपका बच्चा युवावस्था में प्रवेश करने जा रहा है, तो उस दौरान भी उसके शरीर से गंध आने की समस्या हो सकती है। शरीर में हार्मोनल परिवर्तन के कारण बच्चों को अधिक गर्मी या पसीने की समस्या हो सकती है। कई बच्चों की इस दौरान मूड स्विंग और तनाव की समस्या हो सकती है। 

5. हेल्थ कंडीशन्स के कारण

कई बीमारियों के कारण भी आपके शरीर से गंध आ सकती है। इसके लिए किडनी की समस्या, डायबिटीज और अंगों की सूजन के कारण हो सकता है। बच्चे में ज्यादा पसीना का कारण हाइपरहाइड्रोसिस हो सकता है। ऐसे मामलों में आपको तुंरत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें- सोते समय शिशुओं को ज्यादा पसीना आने के हो सकते हैं कई कारण, जानें इससे बचाव के लिए आसान टिप्स

बच्चों में शरीर से बदबू आने के लक्षण

1. पैर, हाथ और बगल से तेज पसीने की गंध आना। 

2. नींद के दौरान पसीना आना।

3. ठंडे हाथ और वजन कम होना। 

4. संक्रमण और सांस फूलने की समस्या होना। 

बच्चों के शरीर से गंध आने के उपचार

1. बच्चों के शरीर से पसीने की बदबू आने के कारण आप एंटी-बैक्टीरियल क्रीम का उपयोग कर सकते हैं। इससे पसीने में कमी आ सकती है। 

2. बहुत अधिक तैलीय और मसालेदार खाने के सेवन से भी परहेज करें और नॉनवेज का सेवन भी सीमित मात्रा में करें। 

3. पानी बहुत अधिक मात्रा में लें और हो सके तो अपनी डाइट में जूस को जरूर शामिल करें। 

4. इसके अलावा बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी प्रकार की दवाईयों का प्रयोग बिल्कुल न करें। 

children-sweat

Image Credit- Freepik

पसीने की बदबू के घरेलू उपचार

1. नहाने के पानी में नींबू का रस

पसीने की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आप नींबू के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह शरीर के पीएच स्तर को बढ़ाता है और पसीना कम आने में मदद करता है और बैक्टीरिया के विकास को रोका जा सकता है। इसके लिए आप नहाने के पानी में कूछ बूंदें नींबू का रस मिला सकते हैं। 

2. नींबू के रस को संवेदनशील जगहों पर लगाएं

एक कप पानी में एक चम्मच नींबू का रस घोलें और इस मिश्रण को कॉटन बॉल में भिगोएं और बच्चे के कांख वाले हिस्से पर लगाएं। इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो दें। इससे भी गंध से राहत मिल सकती है। 

3. नहाने के पानी में नीम के पत्ते मिलाना 

नीम के पत्ते भी बैक्टीरिया को दूर रखने में आपकी मदद कर सकते हैं। इसे पानी में डालकर नहाने से आपको पसीने की गंध और तैलीय त्वचा से राहत मिल सकती है। 

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer