बालों में लगाएं चुकंदर और दही का हेयर मास्क, बाल बनेंगे घने

चुकंदर और दही के पोषक तत्व बालों को अंदर से पोषण प्रदान करते हैं, जिससे बालों का टूटना और गिरना बंद होता है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Oct 12, 2022 19:51 IST
बालों में लगाएं चुकंदर और दही का हेयर मास्क, बाल बनेंगे घने

Benefits of Beetroot and curd hair mask: बीटरूट या चुकंदर एक पौष्टिक सब्जी है। इसे खाने से कमजोरी दूर होती है, स्किन पर ग्लो आता है और इम्यून पॉवर भी बढ़ती है। वहीं, महिलाओं को पीरियड्स के दौरान महसूस होने वाली कई स्वास्थ्य समस्याओं से राहत पाने के लिहाज से भी बीटरूट का सेवन (Health benefits of beetroot juice) बहुत लाभकारी साबित होता है। वहीं, पुरुषों को अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी बीटरूट का जूस पीने की सलाह दी जाती है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि आपकी कई हेयर प्रॉब्लम्स और स्किन से जुड़ी समस्याओं का नेचुरली इलाज भी बीटरूट की मदद से हो सकता है। यहां आप पढ़ सकते हैं कि बीटरूट या चुकंदर बालों के लिए कैसे लाभकारी साबित हो सकता है।साथ ही पढ़ें ड्राई हेयर और डैंड्रफ की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए चुकंदर के इस्तेमाल के तरीके। (Beetroot Juice For Hair In Hindi)

रूखे-सूखे बालों को देता है नमी

सर्दियां बढ़ते ही बालों की नमी कम होने लगती है। बालों की ड्राइनेस बढ़ जाती है और कई बार  शैम्पू करने के बाद बाल और भी अधिक रूखे-सूखे-से नज़र आने लगते हैं। इससे बालों के कमजोर होने और टूटने का रिस्क (Hair brittle and breaking) भी बढ़ने लगता है। बालों को मैनेजबल बनाने और उन्हें नर्म-कोमल रखने के लिए चुकंदर का इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल, बीटरूट में विटामिन ई (Vitamin E) भी पाया जाता है जो बालों को नेचुरल नमी देता है और कोमल-मुलायम बनाता है। यहां पढ़ें बालों के लिए चुकंदर को इस्तेमाल करने का तरीका-

कच्चा बीटरूट (Beetroot) लें और उसे पीसकर इसका जूस निकाल लें। अब, इस जूस से बालों की जड़ों यानि स्कैल्प (Scalp) में मालिश करें।

30-40 मिनट तक इसे बालों में लगा रहने दें और उसके बाद सादे या बहुत हल्के गुनगुने पानी से बालों को धोएं।

ध्यान रखें पानी का तापमान अधिक होने से बालों के रूखेपन की समस्या बढ़ सकती है।

रूसी की समस्या से मिल सकती है निजात ऐसे (Home remedies for Dandruff)

सर्दियों में बालों में डैंड्रफ हो जाना एक कॉमन प्रॉब्लम है। स्कैल्प में नेचुरल ऑयल्स की कमी के चलते वहां त्वचा रूखी हो जाती है और सूखकर पपड़ीदार या फ्लेक्स के तौर पर डेड स्किन सेल्स के अंश बालों से झड़ने लगते हैं। रूसी या डैंड्रफ होने पर सिर की त्वचा में खुजली भी हो सकती है। इस परेशानी से राहत पाने के लिए चुंकदर को इस तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं-

एक मध्यम आकार का चुंकदर लें और उसे छील कर छोटे टुकड़ों में काटें।

अब इसे मिक्सी में पीस लें। फिर , छान कर इसका रस निकाल लें।

अब, बीटरूट के रस से बालों की जड़ों में मसाज करें। पूरे स्कैल्प पर मालिश करने के बाद बालों में चुकंदर के रस को 30 मिनट के लिए यूं ही लगा रहने दें।

अब सादे पानी से शैम्पू कर बालों को धो लें।

 
Disclaimer